सेना जनता की राय पर नहीं राजनीतिक फ़ैसलों पर अमल करती है: जनरल रावत- पांच बड़ी ख़बरें

  • 17 मार्च 2019
जनरल बिपिन रावत इमेज कॉपीरइट PIB

भारतीय थल सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि सेना जनता के सुझावों पर नहीं बल्कि राजनीतिक फ़ैसलों पर काम करती हैं.

जनरल रावत ने लखनऊ में आसियान और आसियान प्लस देशों के फ़ील्ड मेडिकल एक्सरसाइज मेडेक्स-2019 के समापन समारोह मे कहा, ''सेनाएं हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं.''

''ये समझना होगा कि जब सेना काम करती है तो जनता के कहने पर काम नहीं करती है. सेना राजनीतिक फ़ैसलों पर काम करती है. विचार विमर्श के बाद जब राजनीतिक फ़ैसले लिए जाते हैं तो सेना उस पर अमल करती है.''

इमेज कॉपीरइट @ANINewsUP

यूपी में कांग्रेस-अपना दलका गठबंधन

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने कृष्णा पटेल के नेतृत्व वाले अपना दल के साथ लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन कर लिया है.

इसके एक दिन पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री अनुप्रिया पटेल के नेतृत्व वाले अपना दल (सोनेलाल) धड़े के साथ सीट बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया.

कांग्रेस ने अपना दल को दो सीटें गोंडा और पीलीभीत दी हैं.

इमेज कॉपीरइट ECI

'48 घंटे पहले जारी करें घोषणापत्र'

भारतीय निर्वाचन आयोग राजनीतिक पार्टियों को घोषणापत्र जारी करने की समय सीमा तय कर दी है.

आयोग ने सभी राजनीतिक पार्टियों को पहले चरण के मतदान से कम से कम 48 घंटे यानी दो दिन पहले अपना घोषणापत्र जारी करने का निर्देश दिया है.

पिछले लोकसभा चुनाव में ये समय सीमा पहले चरण के मतदान से 72 घंटे पहले थी लेकिन इस बार इसे और कम कर दिया गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सांकेतिक तस्वीर

'विवाहेतर संबंध को लेकर सरकारी कर्मचारी पर कार्रवाई नहीं'

राजस्थान हाई कोर्ट ने कहा है कि विवाहेतर संबंध के आधार पर किसी सरकारी कर्मचारी के ख़िलाफ़ विभागीय कार्रवाई नहीं की जा सकती.

हाई कोर्ट ने एक पुलिस इंस्पेक्टर और महिला कॉन्स्टेबल की रिट याचिका पर यह फ़ैसला सुनाया है. दोनों पुलिसकर्मियों को कथित रूप से विवाहेतर संबंध के आरोप के चलते निलंबित कर दिया गया था.

जस्टिस संजीव प्रकाश शर्मा ने कहा, '' पति या पत्नी के जीवित रहते किसी महिला या पुरुष का किसी अन्य से संबंध बनाना व्यभिचार के तहत आएगा, लेकिन व्यभिचार कभी भी विभागीय कार्रवाई का आधार नहीं हो सकता. हां इस मामले में कानूनी मदद ली जा सकती है जिसमें तलाक भी शामिल है. ''

इमेज कॉपीरइट EPA, GETTY IMAGES, REUTERS

क्राइस्टचर्च हमले में 50 की मौत

न्यूज़ीलैंड की पुलिस का कहना है क्राइस्टचर्च हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर 50 हो गई. साथ ही घायलों की संख्या भी 50 हो गई है, जिनमें से दो की हालत नाज़ुक है. पुलिस ने बताया कि उन्हें मस्जिद से एक और शव मिला है.

न्यूज़ीलैंड के पुलिस कमिश्नर माइक बुश ने वेलिंगटन में कहा, ''मुझे दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि इस भयानक घटना में मारे जाने वालों की संख्या बढ़कर 50 हो गई है. हमें हमले की जगह से एक और पीड़ित का शव मिला है. हम डॉक्टरों, फॉरेंसिक टीम और प्रमुख जांचकर्ता के साथ मिलकर काम करे रहे हैं. हमें पीड़ितों की पहचान ज़ाहिर करने से पहले उनकी मौतों की सटीक वजह जाननी होगी. हम इसे जल्दी से जल्दी और पूरी संवेदनशीलता के साथ करने की कोशिश कर रहे हैं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार