बीजेपी 200 से कम सीट जीती तो एनडीए तय करेगा कौन बनेगा नया प्रधानमंत्री: शिवसेना

  • 20 मार्च 2019
संजय राउत

महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ लोकसभा चुनाव लड़ने जा रही शिवसेना के नेता संजय राउत ने एनडीए में प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है.

बीबीसी मराठी सेवा के एक कार्यक्रम में शामिल हुए शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा है, "साल 2014 में जो सरकार बनी थी वो बीजेपी की सरकार थी लेकिन 2019 में एनडीए सरकार बनाएगी. अगर बीजेपी को 200 से भी कम सीटें मिलीं तो एनडीए के घटक दल बताएंगे कि प्रधानमंत्री की कुर्सी पर कौन बैठेगा."

बीबीसी मराठी सेवा के 'राष्ट्र महाराष्ट्र' कार्यक्रम में बात करते हुए राउत ने ये कहा कि भारत में राष्ट्रवाद की बयार बहने के बाद महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों की अहमियत कम हो गई है.

इस कार्यक्रम में महाराष्ट्र के राजनीतिक दलों के कई नेता शामिल हुए जिनमें रामदास अठावले, संजय राउत से लेकर प्रकाश अंबेडकर शामिल हैं.

कांग्रेस को नहीं मिल सकता बहुमत

इसी कार्यक्रम में संजय राउत ने ये भी बताया कि 2019 में ही होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद का दावेदारी किसे मिल सकती है.

राउत कहते हैं, "हम उद्धव ठाकरे को सीएम के रूप में देखना चाहेंगे और हम उनसे इस पद की ज़िम्मेदारी संभालने के लिए कहेंगे."

वहीं, वरिष्ठ कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण ने आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रदर्शन पर सवालिया निशान खड़ा करते हुए कहा है कि इस चुनाव में कांग्रेस 272 सीटों के आंकड़े को छूने की स्थिति में नहीं हैं.

उन्होंने कहा, "मैं ये स्वीकार करता हूं कि हम स्पष्ट बहुमत नहीं हासिल कर पाएंगे. लेकिन ये स्पष्ट है कि अगली सरकार गठबंधन के नेतृत्व में बनेगी जिसका नेतृत्व कांग्रेस पार्टी करेगी."

इसके साथ ही चह्वाण ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को शुरुआत में विपक्षी पार्टी की भूमिका निभाने में समस्याओं का सामना करना पड़ा.

हाल के दिनों में पाकिस्तान के साथ तनाव और बालाकोट एयर स्ट्राइक एक चुनावी मुद्दे के रूप में सामने आया है.

चह्वाण ने इस मुद्दे पर कहा, "मोदी सरकार का राष्ट्रीय सुरक्षा को चुनावी मुद्दा बनाना ठीक हो सकता है. लेकिन अगर विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे पर कोई सवाल उठाएं तो उन्हें देश-विरोधी कहा जाना ठीक नहीं है. हम सुरक्षाबलों से नहीं बल्कि सरकार से सवाल कर रहे हैं"

प्रकाश अंबेडकर के पीछे कौन?

महाराष्ट्र विधानमंडल में विपक्षी दलों के नेता धनंजय मुंडे ने दलित नेता प्रकाश अंबेडकर पर बीजेपी की मदद से चुनाव लड़ने का आरोप लगाया.

अंबेडकर असददुद्दीन ओवैसी की पार्टी एमआईएम के साथ चुनाव लड़ रहे हैं.

वहीं, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया के नेता रामदास अठावले ने प्रकाश अंबेडकर से सवाल किया कि चुनाव प्रचार करने के लिए उनको कहां से मदद मिल रही है.

हालांकि, अंबेडकर ने इन सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में जब नतीजे आएंगे तो सब आश्चर्यचकित रह जाएंगे.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार