करतारपुर पैनल में खालिस्तानी चेहरा, भारत नाराज़: प्रेस रिव्यू

  • 30 मार्च 2019
करतारपुर साहिब इमेज कॉपीरइट GURINDER BAJWA/BBC

भारत ने शुक्रवार को पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को तलब किया और करतारपुर गलियारे पर पाकिस्तान की नियुक्त समिति में कई खालिस्तानी अलगाववादियों की मौजूदगी पर चिंता जताई.

इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित समाचार के अनुसार भारत ने करतारपुर गलियारे पर 2 अप्रैल को होने वाली बैठक की तारीख़ अब दोबारा तय करने को कहा है.

अख़बार लिखता है कि भारत ने पाकिस्तानी उप उच्चायुक्त सैयद हैदर शाह से यह भी कहा कि वह करतारपुर साहिब गलियारे पर तौर तरीकों के बारे में चर्चा के लिए अटारी में हुई पिछली बैठक में भारत की ओर से पेश किए गए अहम प्रस्तावों पर अपने देश का रुख साफ़ करें.

वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान की ओर से कहा गया है कि भारत ने उनके विचार जाने बिना आखिरी मिनट पर बैठक स्थगित करने का फ़ैसला किया जो कि समझ से परे है.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
करतारपुर साहिब कॉरिडोर: कैसा चल रहा है पाकिस्तान में काम

मोदी को क्लीन चिट

चुनाव आयोग ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके देश के नाम संबोधन पर क्लीन चिट दे दी है.

हिंदुस्तान में प्रकाशित समाचार के अनुसार आयोग ने शुक्रवार को बयान जारी कर कहा कि प्रधानमंत्री के संबोधन में किसी भी तरह से पार्टी का प्रचार नहीं था और ना ही उन्होंने वोट की अपील की थी.

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीताराम येचुरी ने मोदी के संबोधन पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की थी. आयोग ने येचुरी को बताया कि जांच समिति इस निष्कर्ष पर पहुंची है कि इस मामले में सरकारी मीडिया के दुरुपयोग संबंधी प्रावधानों का उल्लंघन नहीं किया गया है.

इमेज कॉपीरइट ddnews

जेट एयरवेज़ के पायलट हड़ताल पर जाएंगे

वित्तीय संकट से जूझ रहे जेट एयरवेज़ के पायलटों ने एक अप्रैल से हड़ताल पर जाने की बात कही है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में प्रकाशित समाचार के अनुसार जेट एयरवेज़ ने बीते चार महीनों से पायलट और बाकी स्टाफ की सैलेरी नहीं दी है.

ख़बर के मुताबिक पायलटों ने कहा है कि वे हड़ताल तभी वापस लेंगे जब अगले दो दिनों के भीतर उनकी तनख्वाह देने का भरोसा दिया जाएगा.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
जेट एयरवेज़ की हालत कैसे ख़राब हुई?

महिला अफ़सर की गोली मारकर हत्या

पंजाब के खरड़ स्थित ड्रग, फूड एंड केमिकल टेस्टिंग लेबोरेटरी में शुक्रवार को एक कैमिस्ट ने एक महिला अधिकारी की गोली मारकर हत्या कर दी.

जनसत्ता में प्रकाशित इस खबर के अनुसार हत्या के पीछे वजह थी कि उस महिला अफसर ने कैमिस्ट की दवा दुकान का लाइसेंस रद्द कर दिया था.

हत्या करने वाले शख्स को पकड़ लिया गया था, इसके बाद उसने खुद को भी गोली मार कर जान दे दी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार