छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सली हमले में बीजेपी विधायक समेत पाँच की मौत

  • 9 अप्रैल 2019
भीमा मंडावी इमेज कॉपीरइट BHIMA MANDAVI FACEBOOK

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा ज़िले में एक नक्सली हमले में भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक समेत पाँच लोगों की मौत हो गई है.

छत्तीसगढ़ के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी डीआईजी पी सुंदरराज ने पत्रकारों को बताया कि हमले में दंतेवाड़ा के विधायक भीमा मंडावी, उनके ड्राइवर और तीन सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई है.

चुनाव आयोग ने स्पष्ट किया है कि घटना के कारण मतदान की तारीख में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़ चुनाव आयोग ने कहा है कि "लोकसभा चुनाव तय कार्यक्रम के अनुसार होंगे."

दंतेवाड़ा में हुई घटना की जानकारी देते हुए दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने बताया,"तीन बजे तक कैंपेन था, विधायक को 50 लोगों की लोकल फ़ोर्स सिक्योरिटी दी गई थी. तीन बजे वे बचेली में थे जहाँ से थाना प्रभारी के मना करने के बाद भी वो आगे निकल गए. कुआकोंडा से दो किलोमीटर पहले एक ब्लास्ट हुआ जिसमें विधायक और चार अन्य लोगों की मौत हो गई."

एसपी ने कहा,"हमने सबसे कहा था कि तीन बजे के बाद कैंपेन बंद हो रहा है और तीन बजे के बाद केवल घर-घर जाकर शहरी इलाक़ों में ही कैंपेन करें, अंदरूनी इलाक़े में ना करें, पर उनका इलाक़ा देखा हुआ था, तो उन्होंने हल्के में लिया, और बीच में एक मेले में भी रुके जिससे उनका लोकेशन भी आउट हो गया."

इमेज कॉपीरइट PRADEEP GAUTAM

एसपी ने बताया कि आईईडी (विस्फोटक) सड़क के बीचोंबीच लगी थी जिससे बुलेटप्रूफ़ गाड़ी के परखच्चे उड़ गए और सभी लोगों की मौक़े पर ही मौत हो गई.

धमाका दंतेवाड़ा-सुकमा रोड पर नकुलनार नाम की जगह पर हुआ जो इतना ज़बरदस्त था कि गाड़ी 200 मीटर दूर जा गिरी.

एसपी ने ये भी कहा कि दोनों तरफ़ से लगभग आधे घंटे तक भारी गोलीबारी भी हुई.

विधायक के पीछे वाली गाड़ी पर भी हमला हुआ जिसमें पाँच लोग थे. इन पाँच लोगों का फ़ोन लग रहा है और लौटाने की कोशिश की जा रही है.

इमेज कॉपीरइट PRADEEP GAUTAM

अधिकारी ने बताया कि धमाका जितना बड़ा था उससे ऐसा अनुमान है कि आईईडी की मात्रा 50 किलोग्राम से ज़्यादा ही होगी.

दंतेवाड़ा में 11 अप्रैल को पहले चरण का चुनाव होना है. हमला चुनाव प्रचार के आख़िरी दिन हुआ.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार