जेट एयरवेज़ की सारी उड़ानें आज रात से बंद

  • 17 अप्रैल 2019
जेट एयरवेज़ इमेज कॉपीरइट Getty Images

आर्थिक संकट से जूझ रही भारतीय एयरलाइंस कंपनी जेट एयरवेज़ ने आज यानी 17 अप्रैल की रात से अपनी सारी उड़ानें अस्थायी तौर पर बंद करने की घोषणा की है.

जेट एयरवेज़ की ओर जारी की गई प्रेस रिलीज़ में कहा गया है कि भारतीय ऋणदाताओं के संघ की ओर से भारतीय स्टेट बैंक ने जेट को सूचित किया है कि संघ अंतरिम फ़ंडिंग के लिए उनके अनुरोध पर विचार करने में असमर्थ है.

इसके बाद जेट एयरवेज़ ने कहा है कि वह आपातकालीन फ़ंडिंग न मिलने के कारण तेल और अन्य ख़र्चों के लिए पैसे नहीं दे पाएगी जिसके कारण विमान परिचालन संभव नहीं है.

इसकी वजह से जेट एयरवेज़ अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू उड़ानों का परिचालन रद्द करने पर मजबूर है. आख़िरी फ़्लाइट आज रात उड़ेगी.

जेट एयरवेज़ का कहना है कि यह फ़ैसला सभी विकल्पों को तलाश करने और बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स की सलाह के बाद लिया गया है.

साथ ही जेट एयरवेज़ ने अपने फ़ैसले से डीजीसीए, नागरिक उड्डयन मंत्रालय और अन्य संबंधित सरकारी संस्थानों को अवगत कराया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जेट का सबसे बड़ा कर्ज़दाता एसबीआई एक ऐसा निवेशक चाहता है जो 75 फ़ीसदी तक कंपनी की हिस्सेदारी को ख़रीद सके.

एक साल पहले तक जेट के बेड़े में 120 से अधिक विमान उड़ान भर रहे थे लेकिन सस्ती दर पर यात्रा कराने वाली इंडिगो और स्पाइसजेट जैसी एयरलाइंस कंपनियों से चुनौती मिलने के बाद उसको काफ़ी मुसीबतों का सामना करना पड़ा.

इन एयरलांइस के अलावा बढ़ते तेल के दाम और टैक्सों के साथ-साथ कमज़ोर होते रुपए ने भी जेट एयरवेज़ की कमर तोड़ दी.

20 हज़ार नौकरियां संकट में

जेट एयरवेज़ के बड़े स्तर पर संकट में डूबने की ख़बर तब आई थी जब उसके 250 से अधिक कर्मचारियों के नौकरी की तलाश में स्पाइसजेट के दरवाज़े पर गए थे. इसके बाद जेट एयरवेज़ ने 14 फ़रवरी को एसबीआई से कहा था कि वह एयरलाइंस का संचालन अपने हाथों में ले ले.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस संकट के कारण जेट के 20 हज़ार कर्मचारियों की नौकरी दांव पर लगी हुई है. जेट एयरवेज़ ने कहा है कि वह अब एसबीआई और भारतीय क़र्ज़दाताओं के संघ की नीलामी प्रक्रिया का इंतज़ार करेगी.

संघ की ओर से जो जवाब मिला है उसके बारे में भी जेट एयरवेज़ ने साफ़ किया है. कंपनी ने बताया है कि 10 मई 2019 तक बोली प्रक्रिया को अंतिम रूप दे दिया जाएगा ताकि कंपनी को बचाया जा सके.

साथ ही जेट ने कहा है कि वह बोली प्रक्रिया का समर्थन करेगी और उसने परिचालन को स्थगित करने की सूचना अपने सभी यात्रियों को दे दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार