बेमौसम बरसात ने ली 60 की जान: प्रेस रिव्यू

  • 18 अप्रैल 2019
बारिश इमेज कॉपीरइट Getty Images

बीते कुछ दिनों से दिल्ली और आस पास का मौसम बदल गया है और अचानक ही हवा में ठंडक आ गई है.

इसी से जुड़ी एक ख़बर हिंदुस्तान टाइम्स में प्रकाशित की गई है जिसमें बताया गया है कि बीते कुछ से हुई अचानक बरसात और तूफान के चलते देश के अलग-अलग हिस्सों में कम-से-कम 60 लोगों की मौत हो गई.

इसके साथ ही बड़ी मात्रा में फ़सल भी बर्बाद हुई है. खबर के मुताबिक सबसे ज्यादा असर राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात में पड़ा है. प्रधानमंत्री मोदी ने बेमौसम हुई बरसात से देश को हुए नुकसान पर दुख जताया है.

जेट एयरवेज़ के 16,500 कर्मचारियों का भविष्य अधर में

जेट एयरवेज़ ने बुधवार को अपनी अंतिम उड़ान भरी इसके साथ जेट एयरवेज़ अपनी सेवाएं बंद करने की घोषणा कर दी है. इसी से जुड़ी ख़बर को भी कई अखबारों ने प्रमुखता से प्रकाशित किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर बताती है कि 25 साल पुरानी जेट एयरवेज़ के बंद हो जाने की वजह से 16,500 लोगों के रोज़गार पर खतरा पैदा हो गया है.

इसमें सैकड़ों पायलट भी शामिल हैं जिन्हें पिछले कई महीनों से सैलेरी तक नहीं मिली.

जेट एयरवेज के सीईओ विनय दुबे ने अपने कर्मचारियों को एक मेल लिखा जिसमें उन्होंने बताया, ''हमारे पास इस सवाल का कोई जवाब नहीं है कि नीलामी की प्रक्रिया के दौरान कर्मचारियों के भविष्य के साथ क्या होगा. बस इतना कह सकते हैं कि आप अपनी नौकरी को वैसे ही करते रहें जैसे करते आए हैं.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चंद्रशेखर रावण नहीं लड़ेंगे चुनाव

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद 'रावण' वाराणसी से प्रधानमंत्री मोदी के ख़िलाफ़ चुनाव नहीं लड़ेंगे. इससे पहले उन्होंने वाराणसी से चुनाव लड़ने की बात कही थी.

हिंदुस्तान में प्रकाशित समाचार के अनुसार, चंद्रशेखर 'रावण' ने कहा कि भाजपा को हराने के लिए दलित वोट संगठित रहना चाहिए और उनका संगठन सपा-बसपा गठबंधन का समर्थन करेगा.

चंद्रेशखर रावण का कहना था कि अगर कांग्रेस, सपा और बसपा मिलकर उन्हें समर्थन देंगे तो वे पीएम मोदी के ख़िलाफ़ वाराणसी से चुनावी मैदान में उतर जाएंगे.

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK/CHANDRASHEKHAR
Image caption चंद्रशेखर रावण

हरियाणा की वजह से नहीं हो रहा आप-कांग्रेस गठबंधन

आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन अब हरियाणा पर रुका हुआ है.

द हिंदू में प्रकाशित समाचार के अनुसार आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने बुधवार को हरियाणा में गठबंधन के मुद्दे पर कोई बातचीत नहीं होने के कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के बयान का हवाला देते हुए कहा, ''कांग्रेस गठबंधन की इच्छुक नहीं दिखती है, इससे लगता है कि बातचीत पूर्ण विराम की ओर अग्रसर है."

सिंह ने कहा कि आज़ाद ने हरियाणा में गठबंधन को लेकर आप नेताओं के साथ बातचीत होने से इंकार कर स्पष्ट कर दिया है कि कांग्रेस मोदी को रोकने के मूड में नहीं है.

उन्होंने कहा कि हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा भी पहले ही गठबंधन की संभावनाओं से इंकार कर चुके हैं. इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष भी ट्वीट करके आम आदमी पार्टी पर यू-टर्न लेने का आरोप लगा चुके हैं.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार