दो फ़ेक बयान जो लगातार राहुल गांधी का पीछा कर रहे हैं

  • 19 अप्रैल 2019
राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट Youtube/Rahul Gandhi

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की चुनावी जनसभा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि उन्होंने किसानों को चाँद पर खेती के लिए ज़मीन देने का वादा किया है.

25 सेकेंड के इस वायरल वीडियो में राहुल गांधी को यह कहते सुना जा सकता है, "यहाँ पर तुम्हारे खेत से पैसे नहीं बन रहे हैं, वो देखो चाँद है. उस पर मैं तुम्हें खेत दूंगा. आने वाले समय में वहाँ तुम आलू उगाओगे."

'टीम मोदी 2019' और 'नमो अगेन' जैसे दक्षिणपंथी रुझान वाले कुछ बड़े फ़ेसबुक ग्रुप्स में यह वीडियो पोस्ट किया गया है जिसे अब तक 60 हज़ार से ज़्यादा बार देखा जा चुका है.

वीडियो के साथ संदेश लिखा है, "कांग्रेस अध्यक्ष को कोई रोके. वो अब किसानों को चाँद पर खेती की ज़मीन देने का वादा कर रहे हैं."

इसी संदेश के साथ ट्विटर और शेयर चैट के साथ-साथ वॉट्सऐप पर भी इस वीडियो को सर्कुलेट किया जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट FB Search
इमेज कॉपीरइट Twitter

लेकिन इन सोशल मीडिया यूज़र्स का दावा फ़र्ज़ी है.

वीडियो की पड़ताल में हमने पाया कि राहुल गांधी की आवाज़ से तो कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है, लेकिन उनके बयान का सिर्फ़ एक हिस्सा इस वीडियो में है.

साथ ही इस वीडियो को 2019 के लोकसभा चुनाव से जोड़कर इसे ग़लत संदर्भ दे दिया गया है.

असली वीडियो

24 सेकेंड का यह वायरल वीडियो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात में दिए क़रीब आधे घंटे लंबे भाषण का हिस्सा है.

11 नवंबर 2017 को शुरू हुई कांग्रेस पार्टी की 'नवसृजन यात्रा' के दौरान गुजरात के पाटन शहर में राहुल गांधी ने यह भाषण दिया था.

दिसंबर 2017 में हुए गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी ने गुजरात में 'नवसृजन यात्रा' की थी.

इस यात्रा में सूबे के चुनाव प्रभारी रहे अशोक गहलोत और पार्टी नेता अल्पेश ठाकोर उनके साथ थे.

राहुल ने कहा क्या था?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा था, "उत्तर प्रदेश के भट्टा-परसौल में हम किसानों के लिए अड़े रहे. मैं एक क़दम पीछे नहीं हटा. मैं झूठे वायदे नहीं करता हूँ. कभी-कभी आपको ये अच्छा नहीं लगता है. मोदी जी कहते हैं, देखो यहाँ पर तुम्हारे खेत से पैसे नहीं बन रहे हैं, वो देखो चाँद है. उस पर मैं तुम्हें खेत दूंगा. आने वाले समय में वहाँ तुम आलू उगाओगे. वहाँ मैं मशीन लगाऊंगा. और फिर हम आलू को गुजरात लाएंगे. इससे मैं मुक़ाबला नहीं कर सकता हूँ. मैं सच्चाई बोलता हूँ. सच क्या है और झूठ क्या है, वो अब आपको साफ़ दिख रहा है."

राहुल गांधी ने गुजरात की इस जनसभा में पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए ये बातें कही थीं.

राहुल गांधी के इस भाषण को उनके आधिकारिक यू-ट्यूब पेज पर सुना जा सकता है जो कि 12 नवंबर 2017 को पोस्ट किया गया था.

इमेज कॉपीरइट SM Viral Post

'आलू से सोना बनाने' वाला बयान

राहुल गांधी की इसी रैली का एक और बयान साल 2017-18 में सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल रह चुका है.

राहुल गांधी के भाषण से छेड़छाड़ के बाद ये दावा किया गया था कि उन्होंने 'आलू से सोना बनाने वाली किसी मशीन' की बात की है.

इस भ्रामक बयान को लेकर उनका काफ़ी मज़ाक़ बनाया गया. सोशल मीडिया पर उनके लिए जोक बने.

लेकिन ये भी उनका अधूरा बयान था.

राहुल ने कहा था, "आदिवासियों को कहा कि 40 हज़ार करोड़ रुपये दूंगा. एक रुपया नहीं दिया. कुछ समय पहले यहाँ बाढ़ आई तो कहा 500 करोड़ रुपये दूंगा. एक रुपया नहीं दिया. आलू के किसानों को कहा कि ऐसी मशीन लगाऊंगा कि एक साइड से आलू डालो तो दूसरी साइड से सोना निकलेगा. लोगों को इतना पैसा मिलेगा कि पता नहीं होगा कि पैसे का करना क्या है. ये मेरे शब्द नहीं हैं, नरेंद्र मोदी के शब्द हैं."

'किसानों को चाँद पर ज़मीन देने की बात' और 'आलू से सोना बनाने की बात' राहुल गांधी ने गुजरात की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी के हवाले से कही थी.

लेकिन इंटरनेट सर्च में ऐसी कोई ख़बर, वीडियो या कोई आधिकारिक रिकॉर्ड नहीं मिलता जिसके आधार पर ये कहा जा सके कि नरेंद्र मोदी ने अपनी जनसभा में कभी इस तरह के दावे किये थे या नहीं.

(इस लिंक पर क्लिक करके भी आप हमसे जुड़ सकते हैं)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार