मुख्य न्यायाधीश के बचाव में उतरे अरुण जेटली: प्रेस रिव्यू

  • 22 अप्रैल 2019
जस्टिस रंजन गोगोई इमेज कॉपीरइट Reuters

इंडियन एक्सप्रेस की एक ख़बर के मुताबिक, यौन उत्पीड़न के आरोपों पर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का बचाव किया है.

जेटली ने अपने ब्लॉग में लिखा है, 'ये न्यायपालिका के साथ खड़े होने का वक़्त है.'

उन्होंने लिखा है, "एक जज को उसके न्यायिक और व्यक्तिगत व्यवहार को लगातार परखा जाता है. जब भी वो कोई फैसला लिखता है या कोई टिप्पणी करता है उस पर नज़र रखी जाती है. शालीनता, मूल्य, आचार व्यवहार और ईमानदारी के मामले में मुख्यम न्यायाधीश काफ़ी सम्मानित हैं. "

गोगोई के लिए काम कर चुकीं उनकी जूनियर असिस्टेंट ने मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई को लेकर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं.

महिला ने सुप्रीम कोर्ट के 22 जजों को चिट्ठी लिखकर इन आरोपों की जांच के लिए विशेष कमिटी बनाए जाने की मांग की थी.

इमेज कॉपीरइट Facebook

द टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ग़ाज़ियाबाद के इंदिरापुरम इलाक़े में चार महीनों से बेरोज़गार एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर ने अपनी पत्नी और तीन बच्चों की गला रेतकर हत्या कर दी.

इंजीनियर ने अपने परिवार के व्हाट्सएप ग्रुप पर एक वीडियो भेजकर पत्नी और बच्चों की हत्या की बात बताई और कहा कि वो ख़ुद भी जल्द ही आत्महत्या कर लेगा.

पुलिस के मुताबिक सुमित बीते साल दिसंबर से बेरोज़गार था और परिवार आर्थिक तंगी झेल रहा था.

रोहित की हत्या की साज़िश का शक़ पत्नी पर

इमेज कॉपीरइट PTI

द टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के मामले में पुलिस ने उनकी पत्नी से पूछताछ की है.

पुलिस को शक़ है कि हत्या संपत्ति या एक महिला से रोहित की नज़दीकियों को लेकर की गई होगी. पुलिस ने रविवार को रोहित की पत्नी अपूर्वा को मुख्य संदिग्ध बताया.

अख़बार की रिपोर्ट के मुताबिक, अपूर्वा ने पुलिस को बताया है कि वो रात में रोहित के कमरे में गईं थीं. लेकिन वो सवालों के सीधे जवाब नहीं दे सकीं.

केरल में बेघरों को मिले फ्लैट

इमेज कॉपीरइट @CMOKerala

द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, केरल में दिहाड़ी मज़दूरों, बेरोज़गारों, बेघरों को उनके अपने फ्लैट दिए गए हैं.

तीन कमरों के इन फ्लैटों के परिसर में चौबीस घंटे सुरक्षा के अलावा स्वास्थ्य केंद्र भी है.

बेघरों के लिए ये घर केरल की राज्य सरकार ने बनवाए हैं. शुरुआत में कुल 170 परिवारों को घर दिए गए हैं.

एक अधिकारिक सर्वे के मुताबिक, केरल में 5.78 लाख परिवार बेघर हैं. परिवारों को प्रति माह 750 रुपए पानी और सुरक्षा ख़र्च के लिए देने होंगे.

श्रीलंका हमलेः भारत ने भेजा था अलर्ट

इमेज कॉपीरइट Reuters

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत ने श्रीलंका को हमलों से आगाह करते हुए अलर्ट भेजा था. भारत ने श्रीलंका को बताया था कि आतंकवादी हमला कभी भी हो सकता है.

रिपोर्ट के मुताबिक श्रीलंका की सरकार हमलों में जेहादी संगठन की भूमिका की जांच कर रही है. सिनामॉन होटल से गिरफ़्तार किए गए एक संदिग्ध को छह महीने पहले उसके परिवार ने लापता बताया था.

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत ने श्रीलंका को पुख़्ता अलर्ट भेजा था और इसी के आधार पर देश के पुलिस प्रमुख ने 11 अप्रैल को देशव्यापी अलर्ट जारी किया था जिसमें भारत के दूतावास पर हमला होने की आशंका भी ज़ाहिर की गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे