अपने नहीं, इमरान ख़ान के लिए कहे थे पीएम मोदी ने ये शब्द

  • 24 अप्रैल 2019
Social Media इमेज कॉपीरइट Twitter/@BJP4India

सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक वीडियो काफ़ी देखा जा रहा है जिसमें वो ख़ुद को कथित तौर पर 'पठान का बच्चा' कह रहे हैं.

10 सेकेंड के इस वायरल वीडियो में पीएम मोदी को कहते सुना जा सकता है कि "मैं पठान का बच्चा हूँ. सच्चा बोलता हूँ और सच्चा करता हूँ."

जिन लोगों ने फ़ेसबुक और ट्विटर पर इस वीडियो को शेयर किया है, उन्होंने लिखा है, "मैं पठान का बच्चा हूँ. मोदी ने कश्मीर की रैली में ये कहा और भक्त इसे हिन्दू शेर साबित करने में तुले हैं."

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर सैकड़ों बार देखा जा चुका है. लेकिन अपनी पड़ताल में हमने इस दावे को फ़र्ज़ी पाया है.

इमेज कॉपीरइट SM Viral Posts
इमेज कॉपीरइट Twitter

वीडियो की हक़ीक़त

हमने पाया कि इस वीडियो को ग़लत सूचना फैलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक पुराने भाषण से निकाला गया है.

पीएम मोदी के भाषण का यह वीडियो 23 फ़रवरी 2019 का है और ये वीडियो कश्मीर का नहीं, बल्कि राजस्थान के टोंक में हुई भारतीय जनता पार्टी की विजय संकल्प रैली का है.

भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक यू-ट्यूब पेज पर इस रैली का वीडियो 23 फ़रवरी को ही पोस्ट किया गया था जिसे देखने से पता चलता है कि पीएम मोदी ने 'पठान का बच्चा' पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान के लिए कहा था.

मोदी का पूरा बयान था, "पाकिस्तान में नयी सरकार बनी तो स्वाभाविक है जो नये प्रधानमंत्री बने थे. प्रोटोकॉल के तहत मैंने उनको फ़ोन करके बधाई दी थी. मैंने उनसे कहा था कि बहुत लड़ लिया हिंदुस्तान और पाकिस्तान ने. पाकिस्तान ने कुछ नहीं पाया."

"मैंने उनसे कहा था कि अब आप तो राजनीति में आये हो, खेल की दुनिया से आये हो, आओ भारत और पाकिस्तान मिल करके हम ग़रीबी के ख़िलाफ़ लड़ें, अशिक्षा के ख़िलाफ़ लड़ें, अंधश्रद्धा के ख़िलाफ़ लड़ें. यह बात मैंने उनको उस दिन कही थी. और उन्होंने मुझे एक बात और भी बताई थी कि मोदी जी मैं पठान का बच्चा हूँ, सच्चा बोलता हूँ और सच्चा करता हूँ. आज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपने इन शब्दों को कसौटी पर कसने की ज़रूरत है. मैं देखता हूँ कि वो अपने इन शब्दों पर खरे उतरते हैं या नहीं उतरते हैं."

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 फ़रवरी 2019 को भारत प्रशासित कश्मीर के पुलवामा में हुए चरमपंथी हमले के संदर्भ में ये बयान दिया था.

इस हमले में भारत के 40 जवान मारे गये थे और भारत सरकार ने पाकिस्तान से इस मामले की गंभीरता से जाँच करने की अपील की थी.

(इस लिंक पर क्लिक करके भी आप हमसे जुड़ सकते हैं)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार