मीडिया को खुली छूट है सब कुछ कहने और लिखने कीः राज्यवर्धन सिंह राठौड़

  • 25 अप्रैल 2019
राज्यवर्धन सिंह राठौर, मीडिया की आज़ादी इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारत के सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ कहते हैं कि देश में मीडिया को मुकम्मल आज़ादी है.

सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय बीजेपी की चुनावी रैलियों में लेने के सवाल पर केंद्रीय मंत्री कहते हैं कि "अगर इसे सफल बनाया है तो यश मिलेगा ही. इसके उलट अगर कुछ ख़राब होता तो किसके नाम लिखा जाता? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में मजबूत निर्णय लेने की क्षमता है."

सेना से सियासत में आए राठौड़ निशानेबाज हैं और लोकसभा की जयपुर ग्रामीण सीट से फिर चुनावी मैदान में हैं.

कांग्रेस ने उनके ख़िलाफ़ पूर्व ओलम्पियन कृष्णा पूनिया को चुनावी दंगल में उतारा है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत चुनाव प्रचार के दौरान कह रहे हैं कि देश का मीडिया दबाव में काम कर रहा है.

इसके जवाब में बीबीसी से बातचीत में राठौड़ कहते हैं, "मीडिया को पूरी छूट है. दुनिया को मालूम है कि भारतीय मीडिया आज़ादी के साथ काम कर रहा है."

केंद्रीय मंत्री कहते हैं, "पूरे पांच साल दुनिया जानती है कि अगर भारत की मीडिया ने खिलाफत की तो जम कर की, समर्थन किया तो जम कर किया. सब कुछ खुलेआम किया."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'मीडिया पर अंकुश की बात कर रही है कांग्रेस'

बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री कांग्रेस के घोषणा पत्र का उल्लेख करते हैं कि उलटे कांग्रेस मीडिया पर अंकुश की बात करती है. हमारा कोई अंकुश नहीं था. वे तो क़ानून लेकर आना चाहते हैं.

"कांग्रेस मीडिया पर नियंत्रण की बात करती है. उनके पास कहने को कुछ नहीं है. वे निर्णय लेने में कमज़ोर थे. ताज पैलेस की घटना इसकी बानगी है. सेना तैयार थी. मगर इनकी हिम्मत नहीं थी."

राठौड़ कहते हैं, "मैं कहता हूँ प्रामाणिक रूप से मीडिया को खुली छूट है सब कुछ कहने की और लिखने की. भारत का मीडिया बहुत ज़िम्मेदार है. भारत आज मजबूत होता जा रहा है.

उन्होंने कहा कि मीडिया में स्व-नियमन है और वो बहुत शानदार काम कर रहा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'सैन्य शक्ति पूरे देश की है'

केंद्रीय मंत्री राठौड़ कांग्रेस के इस आरोप को ग़लत बताते हैं कि बीजेपी चुनाव जीतने के लिए सेना के नाम इस्तेमाल कर रही है.

वो कहते हैं कि आप सिर्फ सफलता के बाद की कहानी मत देखिये. ये भी देखिये कि प्रधानमंत्री मोदी ने सब कुछ अपने ऊपर लिया और कहा सरहद पार कीजिए.

"मोदी देश के भले के लिए मजबूत निर्णय लेते हैं. वो निर्णय लेते हैं तो उसे सफल भी बनाते हैं. अगर चुनाव ही ध्यान में रखा होता तो बहुत सारे निर्णय नहीं लिए जाते. हमारे पायलट को सकुशल वापस लाया गया."

उन्होंने कहा कि सेना देश का अभिन्न अंग है. सैन्य शक्ति पूरे देश की होती है, किसी पार्टी की नहीं.

"सेना सब की रक्षा करती है. अगर हम उनका गौरव गान नहीं करेंगे तो शूरवीर और योद्धा नहीं होंगे."

केंद्रीय मंत्री को भरोसा है कि बीजेपी इन चुनावों में पहले से अधिक सीटों के साथ सत्ता में लौट रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार