केजरीवाल को थप्पड़, आप ने बीजेपी पर लगाया आरोप

  • 4 मई 2019
अरविंद केजरीवाल, Arvind Kejriwal इमेज कॉपीरइट TWITTER @AAP

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को शनिवार के दिन एक रोड शो के दौरान एक अज्ञात हमलावर ने थप्पड़ मार दिया.

केजरीवाल पश्चिम दिल्ली के मोती नगर इलाके में पार्टी उम्मीदवार बलबीर सिंह जाखड़ के साथ प्रचार कर रहे थे.

केजरीवाल रोड शो के लिए एक खुली जीप पर सवार हुए, तभी टी-शर्ट पहने एक व्यक्ति ने जीप के बोनट पर चढ़कर उन्हें थप्पड़ मारने की कोशिश की.

आम आदमी पार्टी ने ट्विटर पर लिखा, "यह अरविंद केजरीवाल पर हमला नहीं है. यह दिल्ली और इसके जनमत पर हमला है. दिल्ली के लोग बीजेपी को 12 मई को इसका मुंहतोड़ जवाब देंगे.

केजरीवाल सरकार में मंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया कि क्या मोदी और अमित शाह अब केजरीवाल की हत्या करवाना चाहते हैं?

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने ट्वीट किया, "यह घटना उनकी निराशा और हार का संकेत है. मैं ऐसी कायराना हरकत की कड़ी निंदा करता हूं और लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए मुख्यमंत्री को थप्पड़ मारे जाने के जघन्य करतूत की दिल्ली पुलिस को ज़िम्मेदारी ज़रूर लेनी चाहिए. ऐसे हमले लोकतंत्र को मज़बूत करने के लिए लड़ने के हमारे संकल्प को और मजबूत करेंगे."

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने इसे "राजनीतिक गुंडागर्दी, राजनीतिक बदला बताया. विपक्ष के नेताओं की निंदा करना उनपर हमला करना यह बताता है कि बीजेपी चुनाव हार चुकी है और वो ग़लत कोशिशें कर रही है."

जम्मू-कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्लाह ने इसे ख़ौफ़नाक बताते हुए ट्विटर पर लिखा "राजनीति के लिए शारीरिक हिंसा का इस्तेमाल अस्वीकार्य."

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने एक वीडियो जारी कर केंद्र सरकार पर मुख्यमंत्री केजरीवाल की सुरक्षा में ढील देने का आरोप लगाया.

उन्होंने सवाल उठाया कि क्या इस बात का इंतजार किया जा रहा है कि केजरीवाल पर कोई गोली चला दे.

लोकसभा चुनाव 2019 में आम आदमी पार्टी की पूर्वी दिल्ली से उम्मीदवार आतिशी ने ट्वीट किया, "आज का हमला इस बात का संकेत है कि बीजेपी किस हद तक गिर सकती है. उन्होंने 2015 के दिल्ली चुनाव से पहले भी ऐसी ही हरकत की थी. 2015 में आप ने 67/70 सीटें जीती थीं और बीजेपी की तरफ से यह हमला यह सुनिश्चित करेगा कि आप दिल्ली में 7/7 सीटें जीते."

इस हमले के फौरन बाद आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने कथित हमलावर को पकड़कर हमलावर को दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया.

इमेज कॉपीरइट TWITTER @msisodia

केजरीवाल पर कब-कब हमला?

केजरीवाल की सुरक्षा में सेंध का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी उन पर मिर्च फेंककर, जूता उछालकर और थप्पड़ के जरिये हमले हो चुके हैं.

नवंबर 2018 में एक युवक अपनी समस्या को लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिलने गया था और मिलने के दौरान उसने मुख्यमंत्री पर मिर्च पाउडर फेंक दिया था. इस दौरान केजरीवाल का चश्मा भी टूट गया था.

साल 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान एक ऑटो ड्राइवर ने उन्हें थप्पड़ मार दिया था. ड्राइवर उन्हें माला पहनाने आया था और इसी दौरान उसने थप्पड़ जड़ दिया.

पंजाब के लुधियाना में फरवरी 2016 में उनकी कार पर लोहे की रॉड और अंडों से हमला किया गया था, जिसमें कार के शीशे टूट गए थे.

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में ऑड-ईवन फार्मूले के ट्रायल से संबंधित सभा के दौरान एक महिला ने उन पर स्याही फेंककर इसका विरोध किया था.

दिल्ली सचिवालय में अप्रैल 2016 में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान उनकी ओर जूता उछाल कर विरोध जताया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार