राहुल गांधी की 'चौकीदार चोर है' पर बिना शर्त माफ़ी: आज की पांच बड़ी ख़बरें

  • 9 मई 2019
इमेज कॉपीरइट Getty Images

'चौकीदार चोर है' पर राहुल की माफ़ी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट की अवमानना मामले में बिना किसी शर्त के सुप्रीम कोर्ट से माफ़ी मांगी है.

सुप्रीम कोर्ट में हलफ़नामा दाख़िल करते हुए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई है कि अब अवमानना मामले को बंद कर देना चाहिए.

राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के हवाले से कहा था कि अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया है कि 'चौकीदार चोर है'.

अब इस मामले पर सुनवाई दस मई, शक्रवार को होनी है. लेकिन उससे पहले ही बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में तीन पेज का नया हलफ़नामा दायर कर अपने बयान पर बिना शर्त माफ़ी मांग ली.

उन्होंने कहा कि अनजाने में उन्होंने कोर्ट के हवाले से 'चौकीदार चोर' बयान दे दिया, उनका यह इरादा नहीं था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इंदिरा जयसिंह को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने विदेशी मुद्रा विनिमय क़ानून यानी फेरा के उल्लंघन के मामले में वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह, उनके पति और उनके एनजीओ को नोटिस जारी किया है.

सुप्रीम कोर्ट से रिपोर्टिंग करने वाले सुचित्र मोहंती ने बताया कि लायर्स वॉइस नामक संगठन ने याचिका दाख़िल की थी और कहा था कि इंदिरा जयसिंह के एनजीओ लॉयर्स कलेक्टिव ने फ़ेरा का उल्लंघन किया है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और ग़ैर-सरकारी संगठन को भी नोटिस जारी किया है.

मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने ये नोटिस जारी किए हैं.

इंदिरा जयसिंह और उनके पति आनंद ग्रोवर ने एक बयान जारी कर कहा है कि उन्हें इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि उन्होंने मुख्य न्यायाधीश के ख़िलाफ़ यौन उत्पीड़न मामले में इन-हाउस कमेटी गठित करने की प्रक्रिया पर सवाल खड़े किए थे.

सुप्रीम कोर्ट के अधिकारियों ने फ़ेरा के इस मामले में कुछ भी कहने से यह कहते हुए इनकार किया है कि मामला कोर्ट में है.

इंदिरा जयसिंह ने कहा है कि एनजीओ को 2016 से किसी तरह का विदेशी फंड नहीं मिला है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

तेजबहादुर यादव की याचिका पर चुनाव आयोग को निर्देश

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से बीएसएफ़ के बर्ख़ास्त जवान तेजबहादुर यादव की तरफ़ से उठाई गई आपत्तियों को सुनने के लिए कहा है.

तेज बहादुर यादव की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से नौ मई को जवाब मांगा है.

वाराणसी से अपनी उम्मीदवारी रद्द किए जाने पर तेजबहादुर यादव ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. उनका कहना था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीत सुनिश्चित करने की मंशा से उनका नामांकन पत्र रद्द किया गया है.

ये भी पढ़ें-वाराणसी से तेज बहादुर यादव का नामांकन रद्दतेज बहादुर यादव: बीएसएफ़ के बर्ख़ास्त जवान से मोदी के ख़िलाफ़ उम्मीदवारी तक

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राजीव गांधी ने आईएनएस विराट का इस्तेमाल टैक्सी की तरह किया: मोदी

दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा की थी, जिसमें उन्होंने एक बार फिर राजीव गांधी पर निशाना साधा है.

मोदी ने आरोप लगाया कि राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए आईएनएस विराट का इस्तेमाल एक द्वीप पर परिवार के साथ छुट्टी मनाने के लिए किया था.

मोदी ने दावा किया कि इसमें इटली से आए उनके रिश्तेदार भी शामिल हुए थे और आईएनएस विराट का इस्तेमाल टैक्सी की तरह किया गया था.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नामदार परिवार ने INS विराट का अपमान किया था. यह बात तब की है, जब राजीव गांधी भारत के पीएम थे और 10 दिन की छुट्टियां मनाने निकले थे.

वहीं बुधवार को प्रियंका गांधी ने भी दिल्ली में दो रोड शो किए थे, जिसमें उन्होंने पीएम मोदी को चुनौती दी कि वे वह जीएसटी, नोटबंदी और महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर अंतिम दो चरणों के चुनाव लड़ें.

ये भी पढ़ें- राजीव गांधी सबसे बड़े मॉब लिंचर थे: शिरोमणी अकाली दलजब अटल बोले- राजीव गांधी की वजह से ज़िंदा हूं

दक्षिण अफ्रिका में मतदान प्रतिशत बढ़ा

दक्षिण अफ्रीका में संसदीय और प्रांतीय चुनावों के लिए मतदान समाप्त हो गया है.

इस बार के चुनाव में भारी मतदान देखने को मिला है. देश के राष्ट्रपति सीरिल रामाफोसा ने कहा है कि उन्हें बढ़े हुए मत प्रतिशत को देखकर गर्व महसूस हो रहा है.

हालांकि इन चुनावों को देश की सत्ता पर काबिज़ अफ़्रीकन नेशनल कांग्रेस के लिए तरह की परीक्षा के तौर पर भी देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि भले इन चुनाव में सत्ताधारी दल को जीत मिल जाए लेकिन उनका बहुमत कम हो जाएगा. चुनावों के नतीजे शनिवार तक आने की उम्मीद है

बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार