क्या पाकिस्तान खोलेगा भारतीय विमानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र? – पांच बड़ी ख़बरें

  • 13 मई 2019
भारत पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट Reuters

पाकिस्तान ने कहा है कि वो भारतीय विमानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र को दोबारा खोलने की समीक्षा करेगा.

पाकिस्तान के एक नागरिक उड्डयन अधिकारी के मुताबिक़ यह समीक्षा 15 मई को की जाएगी. हालांकि एक वरिष्ठ मंत्री ने संकेत दिया है कि भारतीय चुनावों तक यथास्थिति बनी रहेगी.

बीते 26 फ़रवरी को बालाकोट में हमले के बाद पाकिस्तान ने अपने हवाई क्षेत्र को पूरी तरह से बंद कर दिया था. इसके बाद 27 मार्च को दिल्ली, बैंकॉक और कुआलाल्मपुर को छोड़ कर अन्य जगहों के विमानों को आने की इजाज़त दी थी.

पाकिस्तान के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के प्रवक्ता मुजतबा बेग़ ने समाचार एजेंसी पीटीआई को रविवार को बताया कि "पाकिस्तान सरकार भारतीय उड़ानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र से प्रतिबंध हटाएगा या नहीं, इसका फ़ैसला 15 मई को होगा."

वहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान के क़रीबी और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री फ़वाद चौधरी ने समाचार एजेंसी से कहा, "भारत में चुनाव ख़त्म होने तक यथास्थिति बनी रहेगी. मुझे चुनाव ख़त्म होने और भारत में नई सरकार बनने तक भारत और पाकिस्तान के संबंधों में कोई सुधार नहीं दिखता है. मैं समझता हूं कि भारतीय चुनावों तक एक-दूसरे पर लगाए गए प्रतिबंध बने रहेंगे."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दिग्विजय सिंह ने नहीं डाला वोट, मांगी माफ़ी

कांग्रेस नेता और भोपाल लोकसभा सीट से उम्मीदवार दिग्विजय सिंह ने वोट न डालने पर खेद व्यक्त किया है.

उन्होंने कहा, ''हां, मैं राजगढ़ वोट करने नहीं जा सका और मुझे इसका अफसोस है. अगली बार मैं भोपाल में अपना नाम रजिस्टर कराऊंगा."

दिग्विजय सिंह राजस्थान के राजगढ़ के मतदाता हैं और भापाल सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. दोनों जगहों पर रविवार को चुनाव हुए थे.

दिग्विजय सिंह चुनावों के दौरान भोपाल में एक बूथ से दूसरे बूथ घूमते देखे गए. भोपाल से राजगढ़ क़रीब 140 किलोमीटर दूर है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अलवर दुष्कर्म मामलाः मोदी और मायावती के बीच तू-तू मैं-मैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को उत्तर प्रदेश के देवरिया की रैली में बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती पर दलितों के लिए घड़याली आंसू बहाने के आरोप लगाए.

अलवर में दलित लड़की के साथ दुष्कर्म मामले पर उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार को बसपा का समर्थन है. वहां दलित बेटी से दुष्कर्म हुआ और सरकार मामला दबाने की कोशिश कर रही है.

मोदी ने कहा, "उत्तर प्रदेश की बेटियां पूछ रही हैं, आपने वहां सरकार से समर्थन वापस क्यों नहीं लिया?"

प्रधानमंत्री के इस बयान पर मायावती ने पलटवार किया. उन्होंने कहा कि रोहित वेमुला, गुजरात के ऊना और भाजपा शासित राज्यों में दलित अत्याचार बढ़े हैं, इसकी नैतिक ज़िम्मेदारी लेते हुए मोदी अपने पद से इस्तीफ़ा क्यों नहीं देते हैं?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चुनाव आयोग ने गिरिराज सिंह को दी चेतावनी

चुनाव आयोग ने केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता गिरिराज सिंह को उनके बयानों के लिए चेतावनी दी है.

आयोग ने उनके बयानों की निंदा करते हुए आचार संहिता लागू रहने तक अपने बयानों को लेकर सावधान रहने को कहा है. आयोग ने कहा है कि वो अपने बयानों में धर्म का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं.

24 मार्च बिहार के बेगूसराय की एक रैली में गिरिराज सिंह ने कहा था कि "जो वंदेमातरम नहीं कह सकते या मातृभूमि का सम्मान नहीं कर सकते, उन्हें देश कभी माफ़ नहीं करेगा.''

इसके बाद 25 मार्च को जिला प्रशासन ने उनके ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया था.

चीन पर अतिरिक्त कर लगाने पर ट्रंप और अधिकारी के बीच मतभेद

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के शीर्ष आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो ने स्वीकार किया है कि राष्ट्रपति ट्रंप की ये बात ग़लत है कि चीन से आने वाले सामान पर लगाए गए अतिरिक्त कर का भार चीन उठा रहा है.

फॉक्स न्यूज़ के एक कार्यक्रम में जब उनसे पूछा गया कि क्या कर का बोझ अमरीकी व्यापारी और उपभोगता उठा रहे हैं तो उन्होंने कहा कि मैं इससे असहमत नहीं हूं.

फॉक्स न्यूज़ से बातचीत में कुडलो ने कहा, "वास्तव में दोनो ही पक्ष इसकी क़ीमत चुकाएंगे. ऐसे मामले में दोनों ही पक्ष चुकाते हैं. ज़ाहिर तौर पर ये निर्भर करता है. इससे चीन को जीडीपी का नुकसान होगा... दोनों ही पक्षों को इसकी क़ीमत चुकानी होगी."

कुडलो के इस बयान के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्वीट करके कहा है चीनी सामान पर लगाए गए अतिरिक्त कर से अमरीका दसियों अरब डॉलर कमा रहा है. ट्रंप ने बीते साल चीनी सामान पर कर बढ़ाया था. शुक्रवार को उन्होंने इसे फिर से दोगुना कर दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार