फ़रीदाबाद: महिला को बेल्ट से पीटते पुलिस वालों का वीडियो वायरल, मामला दर्ज

  • 28 मई 2019
फ़रीदाबाद इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सांकेतिक तस्वीर

अगर आप सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं तो संभव है कि हरियाणा पुलिस का वायरल वीडियो आपकी नज़रों से भी गुज़रा हो.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में नज़र आ रहा है कि हरियाणा पुलिस के कुछ जवान एक महिला को घेरकर खड़े हैं. रात का वक़्त है और ये पुलिस वाले उस महिला से पूछताछ करते हुए अपनी बेल्ट से पीट रहे हैं. वे उससे फ़रीदाबाद ज़िले में उसकी मौजूदगी को लेकर पूछताछ कर रहे हैं.

लगभग साढ़े चार मिनट का ये वीडियो पुलिस का बर्बर चेहरा दिखा रहा है. वीडियो में कोई महिला पुलिसकर्मी मौजूद नहीं है. पुलिस के मुताबिक, यह वीडियो लगभग छह महीने पुराना है, जब फ़रीदाबाद स्थित आदर्श नगर पुलिस को सार्वजनिक पार्क में ग़लत गतिविधियों के होने के सुबूत मिले थे.

इमेज कॉपीरइट Screengrab

वहीं फ़रीदाबाद पुलिस के मुताबिक़, उन्हें सूचना मिली थी कि एक महिला और एक पुरुष पार्क में कुछ ग़लत हरकतें कर रहे हैं.

पुलिस जब पार्क में पहुंची तो उन्हें देखते ही पार्क में महिला के साथ मौजूद शख़्स वहां से भाग खड़ा हुआ. जबकि पुलिस ने महिला को पकड़ लिया.

जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है उसमें नज़र आ रहा है कि एक पुलिस वाला महिला पर उस शख़्स के बारे में जानकारी देने का दबाव बना रहा है जबकि एक अन्य शख़्स उसे गतिविधियों के बारे में कोई जानकारी न देने के कारण बेल्ट से पीट रहा है.

सोमवार को यह वीडियो वायरल हुआ जिसके बाद हरियाणा पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 342/323/509 तहत अपने पांच पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज की है.

दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है और तीन एसपीओ की सेवा समाप्त कर दी गई हैं.

एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर नवदीप विर्क ने बताया कि यह मामला अक्टूबर 2018 का है लेकिन पीड़िता ने पुलिस में इसके ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज नहीं कराई थी.

इमेज कॉपीरइट Twitter

पुलिस का कहना है कि वे लोग पीड़ित महिला की तलाश कर रहे हैं ताकि इस मामले की आगे की कार्रवाई के लिहाज़ से उसका बयान दर्ज किया जा सके. फ़रीदाबाद के कमिशन ऑफ़ पुलिस का कहना है कि इस तरह की घटनाएं पुलिस की छवि को तार-तार करती हैं और पुलिस के द्वारा इस तरह की किसी भी घटना को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता.

पुलिस का कहना है कि पीड़िता को हर संभव मदद देने की कोशिश की जाएगी.

वहीं हरियाणा राज्य की महिला आयोग की चेयरपर्सन प्रतिभा सुमन ने बीबीसी को बताया कि उन्होंने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए दोषी पुलिसवालों के खिलाफ़ सख़्त कार्रवाई के लिए फ़रीदाबाद पुलिस को नोटिस भेजा है.

इमेज कॉपीरइट Screengrab

उनका कहना है, "हमने उन्हें एफ़आईआर दर्ज करने के लिए कहा है और उन्हें दो दिन के भीतर ये बताने को कहा है कि आख़िर एक महिला के साथ ऐसी घटना हो कैसे गई. जब मामला एक महिला का था तो उस वक़्त क्यों नहीं कोई महिला पुलिस मौक़े पर थी."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार