मोदी के शपथ समारोह में स्टालिन को क्यों नहीं बुलाया गया

  • 30 मई 2019
स्टालिन इमेज कॉपीरइट FACEBOOK/@MKSTALIN

लोकसभा चुनाव में ज़बरदस्त जीत के बाद गुरुवार को नरेंद्र मोदी लागातार दोबारा प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे.

राष्ट्रपति भवन में आयोजित इस शपथ समारोह में देश और विदेश की कई नामचीन हस्तियां शिरकत करेंगी. दक्षिण भारत में अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन और रजनीकांत को भी आमंत्रित किया गया है.

हाल ही में नाथूराम गोडसे को आज़ाद भारत का पहला चरमपंथी बताने पर बीजेपी ने उनकी जमकर आलोचना की थी, लेकिन अब शपथ ग्रहण समारोह में उन्हें न्योता दिया गया है. लेकिन इस चुनाव में तमिलनाडु में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी डीएमके के नेता एमके स्टालिन को इस आयोजन में आमंत्रित नहीं किया गया है.

लोकसभा चुनाव में देश भर में ज़बरदस्त जीत हासिल करने वाली बीजेपी को स्टालिन ने तमिलनाडु में करारी हार दी है. बीजेपी की सहयोगी एआईएडीएमके भी डीएमके के सामने नहीं टिक सकी.

लेकिन ये बेहद हैरान करने वाली बात है कि इस राज्य के नए राजनेताओं रजनीकांत और कमल हासन को तो प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में बुलाया गया लेकिन राज्य में सबसे बड़ी जीत हासिल करने वाले एमके स्टालिन को आमंत्रित नहीं किया गया.

क्या शपथ ग्रहण समारोह में मेहमानों को आमंत्रित करने के तय नियम होते हैं? इस सवाल के जबाव में पुदुचेरी के मुख्यमंत्री और पूर्व केंद्रीय मंत्री रहे वी. नारायणस्वामी कहते हैं, ''परंपरा के मुताबिक नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री इस समारोह में जिसे चाहें बुला सकते हैं. देश की मुख्य विपक्षी पार्टी के अलावा देश की मुख्य पार्टियों के नेताओं के आमंत्रित किया जाता रहा है. मेरा मानना है कि स्टालिन को बुलाया जाना चाहिए था. ''

इमेज कॉपीरइट DMK

इस मामले में तमिलनाडु के वरिष्ठ पत्रकार आर ईलानगोवन कहते है, ''ज़ाहिर तौर पर स्टालिन ना तो मुख्यमंत्री हैं और ना ही डीएमके के संसदीय दल के सदस्य हैं, लेकिन जब कमल हासल और रजनीकांत को बुलाया जा सकता है तो स्टालिन को क्यों नहीं. क्या वो देश के चौथे सबसे बड़े राज्य के सबसे बड़े नेता नहीं हैं. इसे लेकर कोई प्रोटोकॉल हैं या नहीं इससे इतर उन्हें बड़ी राजनीतिक पार्टी के नेता की हैसियत से बुलाना चाहिए था. ''

बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने नाम ना बताने की शर्त पर कहा, ''ममता बनर्जी सहित सभी मुख्यमंत्रियों को आमंत्रित किया गया है. राष्ट्रपति भवन की ओर से हर समारोह में पद्म पुरस्कार विजेताओं को बुलाया जाता है, ये संभव है कि रजनीकांत और कमल हासन को इसी कारण आमंत्रित किया गया हो ''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए