दलित परिवार पर गाड़ी चढ़ाकर मारने का आरोप, दो मरे

  • 25 जून 2019
पीड़िता पूजा इमेज कॉपीरइट Sumit Sharma/BBC
Image caption पीड़िता पूजा

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर ज़िले में 24 जून की शाम एक दलित महिला से कथित 'छेड़खानी' के बाद उस परिवार को गाड़ी से कुचले जाने की बात कही जा रही.

इस घटना में पीड़ित परिवार की दो महिलाओं की मौत हो गई है. वहीं, परिवार के दो अन्य सदस्य गंभीर रूप से ज़ख़्मी हैं.

स्थानीय पुलिस ने इस मामले में एफ़आईआर दर्ज करके अभियुक्त नकुल ठाकुर को गिरफ़्तार कर लिया है.

हालांकि, घटना के वक़्त उसके साथ गाड़ी में मौजूद तीन अन्य युवक फरार चल रहे हैं.

क्या है मामला?

पुलिस के मुताबिक़, बुलंदशहर के चांदपुर में रामवीर और भीमसेन का परिवार सोमवार शाम किसी शादी समारोह से घर लौट रहा था.

इस परिवार ने अभियुक्त नकुल सिंह को उनके घर की दीवार पर पेशाब करते हुए देखा जिसका संतो देवी और उर्मिला ने विरोध किया.

इस पर नकुल ने कथित तौर पर परिवार की महिला सदस्यों के ख़िलाफ़ अपशब्दों का प्रयोग किया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़, इसके बाद परिवार के सदस्यों और नकुल के बीच कहासुनी हुई. इसी दौरान नकुल ने अंजाम भुगतने की धमकी दी.

इमेज कॉपीरइट Sumit Sharma/BBC
Image caption पीड़िता का बहनोई राजकुमार

वहीं, पीड़िता के मुताबिक़, जब वह अपने घर की ओर लौट रहे थे तभी नशे में धुत युवक ने उसके साथ छेड़छाड़ करने का प्रयास किया जिसका विरोध करने पर झगड़ा हुआ.

पीड़ित परिवार का कहना है कि छेड़छाड़ का विरोध करने पर उन्हें धमकी मिली. इसके कुछ देर बाद उसने उन लोगों पर गाड़ी चढ़ा दी.

इसमें रामवीर सिंह की पत्नी सत्यवती और भीमसेन की पत्नी उर्मिला की मौत हो गई है. इसके साथ ही रामवीर के बेटे जितेंद्र समेत एक अन्य व्यक्ति को गंभीर चोटें आई हैं.

क्या है पुलिस का रुख?

बुलंदशहर पुलिस एसएसपी एन कोलांचि कहते हैं, "इस मामले में महिला ने पहले एक्सीडेंट का मामला दर्ज कराया था. इसके बाद जाम लगाकर इसे छेड़खानी और हत्या की शिकायत दी है. हमने एफ़आईआर में इन धाराओं को जोड़ दिया है. इनमें हत्या, हत्या की कोशिश और छेड़खानी की धाराएं शामिल हैं."

"महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि अभियुक्त ने गाड़ी में बैठने को कहा. वहीं, अभियुक्त नकुल ठाकुर का कहना है कि वे लोग जा रहे थे और ये लोग (पीड़ित परिवार के सदस्य) अचानक से बीच सड़क में आ गए. इसका सीसीटीवी फुटेज़ भी मौजूद है, जिसमें नकुल की बात दिखाई पड़ती है. हालांकि, उसमें छेड़खानी का मामला नज़र नहीं आता है. मुक़दमा लिख दिया गया है और आगे जांच में हम देखेंगे."

इमेज कॉपीरइट Sumit Sharma/BBC

बुलंदशहर में हालात तनावपूर्ण

इस घटना के बाद बुलंदशहर ज़िले में हालात तनावपूर्ण हो गए हैं.

परिजनों के मरने से ग़स्साए पीड़ित परिवार और आम लोगों ने पुलिस के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते हुए एनएच 91 जाम कर दिया.

स्थानीय पुलिस को भीड़ को तितर बितर करने में बल प्रयोग का इस्तेमाल करना पड़ा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे