दलित युवक से शादी करने वाली बीजेपी विधायक की बेटी ने कहा - जान को ख़तरा

  • 11 जुलाई 2019
बीजेपी विधायक राजेश कुमार मिश्रा की बेटी इमेज कॉपीरइट video grab

एक दलित युवक से शादी करने वाली बरेली के बीजेपी विधायक राजेश कुमार मिश्रा की बेटी ने अपनी जान को ख़तरा बताया है.

साक्षी ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर कहा है कि उनके पिता के लोग उनका और उनके पति अभि का पीछा कर रहे हैं. साथ ही अभि के परिवार को भी परेशान किया जा रहा है.

हालांकि साक्षी के पिता राजेश कुमार मिश्रा ने बीबीसी से बातचीत में सभी तरह के आरोपों से इनकार किया है.

साक्षी के मुताबिक उन्होंने अभि से प्रेम विवाह किया है, लेकिन उनके पिता राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल शादी को स्वीकार नहीं कर रहे हैं. उनका कहना है कि उनके पिता ने कुछ लोगों को उनके पीछे लगा दिया है और वो भागते-भागते परेशान हो गए हैं.

द हिंदू के पत्रकार सौरभ त्रिवेदी ने बुधवार रात ये वीडियो ट्वीट किए.

साक्षी के पति अभि ने बताया कि जिस होटल में वो रुके थे वहां राजेश कुमार मिश्रा के एक दोस्त राजीव राणा अपने लोगों के साथ आ गए थे. लेकिन वो मौका देखकर वहां से निकल गए. अभि के मुताबिक वो दलित हैं, इसलिए उनकी पत्नी के पिता उन्हें स्वीकार नहीं कर रहे और ये सब कर रहे हैं.

उत्तर प्रदेश विधान सभा की वेबसाइट के मुताबिक उत्तर प्रदेश के बरेली से बीजेपी विधायक राजेश कुमार मिश्रा ब्राह्मण हैं.

इमेज कॉपीरइट @pbhartoul/facebook
Image caption राजेश कुमार मिश्रा

पिता ने क्या कहा?

बीबीसे ने जब बरेली के विधायक और साक्षी के पिता राजेश कुमार मिश्रा से संपर्क किया तो उन्होंने सभी तरह के आरोपों से इनकार किया और कहा कि उन्होंने साक्षी और उनके पति को ढूंढने के लिए किसी को नहीं भेजा है.

उन्होंने कहा कि वो नहीं जानते कि साक्षी इस वक्त कहां है और ना उन्होंने उससे संपर्क करने की कोशिश की और ना साक्षी ने उनसे कोई संपर्क किया.

राजेश कुमार मिश्रा ने कहा, "जो हमारे परिवार में घर से निकल जाता है, उससे कोई संपर्क नहीं करता. वो जहां चाहे वहां रहे. ना हम कहीं गए, ना हमने पता किया, ना हमने किसी को फोन किया. ना हम शासन-प्रशासन के पास गए. हम इस मामले में कुछ नहीं कहना चाहते हैं. मैं बीजेपी का एक कार्यकर्ता हूं, बस अपना काम करता हूं. बाक़ी मुझे किसी से कुछ मतलब नहीं."

साक्षी ने कहा है कि अगर उनको और उनके पति के परिवार को कुछ भी होता है तो उसके ज़िम्मेदार उनके पिता और उनके दोस्त होंगे.

साक्षी ने बरेली की पुलिस से सुरक्षा मुहैया कराने की भी अपील की है.

बरेली के एसपी सिटी अभिनंदन ने बीबीसी हिंदी से कहा कि पुलिस के पास अभी तक कोई शिकायत नहीं आई है. उन्होंने कहा कि महज़ किसी वीडियो के आधार पर स्वत: कार्रवाई शुरू करना सही नहीं है.

उन्होंने कहा, "जबतक कोई शिकायत नहीं आएगी, तबतक कैसे कोई एक्शन लें. शिकायत आएगी तो एक्शन लेंगे. वीडियो तो कई बार फर्ज़ी भी होते हैं. उन्हें कोई ख़तरा लग रहा है तो पुलिस के पास आना चाहिए. ना लड़की के परिवार से और ना लड़के के परिवार से शिकायत आई है. ना ही उन्होंने कभी कॉल किया. कुछ होगा तभी तो हम आगे कुछ करेंगे."

वहीं राजेश कुमार मिश्रा ने कहा कि "वो ये सब हंस के कह रही है, किसी को जान का ख़तरा होगा तो वो हंसकर थोड़ी कहेगा."

इस बीच एसपी सिटी अभिनंदन का कहना है कि "अगर उनके पास लड़के या लड़की की तरफ से कोई शिकायत आती है. या कोई कॉल आता है, तो हम मदद करेंगे. चाहे सुरक्षा की बात हो या केस रजिस्टर करने की."

साक्षी ने वीडियो के ज़रिए कहा है कि वो खुश और आज़ाद रहना चाहती हैं.

वहीं उनके पिता ने कहा कि पहले जो मां-बाप कह देते थे वो होता था. "लेकिन अब कहां होता है, क्योंकि लोग पढ़े लिखे हो गए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार