विमान में धुआं, यात्री कर रहा था स्मोकिंग, गिरफ़्तार- पांच बड़ी ख़बरें

  • 20 जुलाई 2019
इंडिगो इमेज कॉपीरइट Getty Images

बेंगलुरू से पटना आ रहे विमान में एक यात्री सिगरेट पीते पकड़ा गया. जिसे विमान के लैंड करते ही पटना एयरपोर्ट पर गिरफ़्तार कर लिया गया.

यात्री इंडिगो विमान के टॉयलेट में सिगरेट पी रहा था. टॉयलेट में धुआं निकलते देख एयर होस्टेस पहले तो विमान में आग लगने की आशंका व्यक्त की, लेकिन बाद मे पता चला कि एक यात्री टॉयलेट मे सिगरेट पी रहा था.

एयर होस्टेस ने इस बारे में पायलट को बताया, जिसे बाद में विमान के लैंड होने पर सीआईएसएफ ने पकड़ कर एयरपोर्ट थाने को सौंप दिया.

इस मामले में इंडिगो के सहायक सुरक्षा प्रबंधन ने पटना के एयरपोर्ट थाने में एफ़आईआर दर्ज कराई है.

गिरफ़्तार यात्री ने बताया कि वो एक तीली रख कर माचिस का डिब्बा अपने साथ लाया था. पटना एयरपोर्ट के निदेशक भूपेश नेगी के मुताबिक पुलिस इस मामले की आगे जांच करेगी.

इमेज कॉपीरइट RTI.GOV.IN

सूचना कानून में संशोधन बिल पेश

लोकसभा में केंद्र सरकार ने सूचना का अधिकार कानून में संशोधन बिल 2019 पेश किया. इस पर विपक्ष ने विरोध जताया.

प्रस्तावित बिल में प्रावधान है कि केंद्र सरकार मुख्य सूचना आयुक्त, सूचना आयुक्तों और राज्य के मुख्य सूचना आयुक्त और अन्य सूचना आयुक्तों की सैलरी-भत्ते, सेवा और शर्तें तय करेगा.

विपक्ष ने इसे कमजोर करने की कोशिश बताया है. वहीं सरकार ने कहा है कि बिल का मकसद कानून को संस्थागत रूप देना है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बाबरी मस्जिद मामला: नौ महीने में पूरी हो सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में बाबरी मस्जिद गिराए जाने से जुड़े मुकदमे की सुनवाई कर रहे विशेष न्यायाधीश से शुक्रवार को कहा कि इसकी सुनवाई अगले नौ महीनों के भीतर पूरी कर फ़ैसला सुनाया जाए.

इस मामले में भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और कई अन्य नेता अभियुक्त हैं.

जस्टिस रोहिंग्टन नरीमन और जस्टिस सूर्यकांत की पीठ ने कहा कि इस मामले में गवाहों के बयान छह महीने के भीतर दर्ज कर लिए जाएं.

कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से इस मुकदमे की सुनवाई कर रहे विशेष न्यायाधीश का कार्यकाल नौ महीने बढ़ाने को भी कहा है. विशेष न्यायाधीश 30 सितंबर को रिटायर होने वाले हैं.

इमेज कॉपीरइट ERWIN WILLEMSE

ब्रिटेन ने ईरान को दी चेतावनी

ब्रिटेन के विदेश मंत्री जेरेमी हंट ने कहा है कि वो ईरान द्वारा ब्रिटेन के जहाज को कब्जे में लेने से बेहद चिंतित हैं. ब्रिटेन इस पर मजूबती से जवाब देगा.

ईरान ने हॉरमुज की खाड़ी में ब्रिटेन के एक जहाज स्टेना इम्पेरो को कब्जे में ले लिया है. इस जहाज पर करीब 23 लोग सवार थे. ईरान का कहना है कि ये जहाज अंतरराष्ट्रीय समुद्री नियमों का पालन नहीं कर रहा था.

इस घटना के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है. ईरान ने ब्रिटेन का एक और जहाज पकड़ा था जिसे छोड़ दिया गया है.

हंट ने चेतावनी भी दी ईरान के इस कदम के गंभीर परिणाम होंगे. उन्होंने कहा, "यह बिल्कुल अस्वीकार्य है. नौपरिवहन की स्वतंत्रता को बनाए रखना चाहिए. हम सोच समझकर और मजबूती से जवाब देंगे. अगर हालात जल्द ही नहीं सुलझते तो उसके गंभीर परिणाम होंगे."

वहीं, अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने ब्रिटेन का साथ देने की बात करते हुए ईरान के इस कदम की आलोचना की है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ब्राज़ील की छवि खराब करने का आरोप

ब्राज़ील के राष्ट्रपति ज़ाएर बोल्सनारू ने देश के राष्ट्रीय अंतरिक्ष संस्थान पर आरोप लगाया है कि वो अमेजन के जंगलों में कटाई के स्तर को बढ़ा चढ़ाकर पेश कर रहा है.

उन्होंने कहा कि संस्थान विदेश में ब्राज़ील की छवि ख़राब करना चाहता है. बोल्सनारू के इस बयान से पहले सेटेलाइट डाटा के आधार पर एक रिपोर्ट छापी गई थी कि पिछले दो हफ्तों में अमेजन के जंगलों में आग के मामले 70 प्रतिशत तक बढ़ गए हैं.

बोल्सनारू ने इसके लिए संस्थान के निदेशक को ज़िम्मेदार ठहराया है. वहीं, संस्थान का कहना है कि उसका डाटा 95 प्रतिशत से ज़्यादा सटीक था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार