ट्रंप का कश्मीर पर ऑफ़र: इमरान हैरान हैं भारत की प्रतिक्रिया से

  • 23 जुलाई 2019
इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के कश्मीर के मुद्दे पर मध्यस्थता की बात का भारत ने जिस तरह से खंडन किया है, उस पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने हैरानी जताई है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने ट्वीट किया है, "अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप के कश्मीर विवाद के हल पर भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता के ऑफ़र पर भारत की प्रतिक्रिया से मैं हैरान हूं."

"इस विवाद ने भारतीय उपमहाद्वीप को 70 सालों से घेरा हुआ है. कश्मीर की कई पीढ़ियां प्रभावित हुईं और उनका रोजमर्रा का जीवन प्रभावित हो रहा है. उन्हें समस्या का हल चाहिए."

इससे पहले ट्रंप के बयान पर भारत में काफ़ी प्रतिक्रिया देखने को मिली थी. विपक्षी कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी ने ट्वीट करके भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से स्थिति स्पष्ट करने को कहा है.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया था, "राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि पीएम मोदी ने उनसे भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर पर मध्यस्थता करने को कहा है."

राहुल ने पूछा सवाल

"अगर ये सच है तो पीएम मोदी ने भारत के हित और 1972 के शिमला एग्रीमेंट दोनों के साथ धोखा किया है. कमजोर विदेश मंत्रालय ने इनकार किया है लेकिन प्रधानमंत्री को देश के सामने आकर यह बताना चाहिए कि उनके और ट्रंप के बीच क्या बात हुई थी."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान के साथ मुलाक़ात के बाद एक संयुक्त प्रेस वार्ता में जब अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप से पूछा गया कि क्या वो कश्मीर मामले में मध्यस्थता करना चाहेंगे तो उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनसे इस मुद्दे पर मध्यस्थता के लिए कहा था.

लेकिन भारत ने ट्रंप के इस बयान को सिरे से ख़ारिज कर दिया है कि मोदी ने उनसे मध्यस्थता करने के लिए कहा था.

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सरकार की तरफ से राज्यसभा में बयान देते हुए कहा, "मैं सदन के आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारत की तरफ से ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया गया है."

हालांकि इस मुद्दे पर अभी तक भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कोई बयान सामने नहीं आया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए