पाकिस्तान ने एक साल में लिया रिकार्ड 16 अरब डॉलर क़र्ज़ : पाँच बड़ी ख़बरें

  • 24 जुलाई 2019
इमरान ख़ान इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इमरान ख़ान

पाकिस्तान बनने के बाद यह पहली बार हुआ है जब उसने एक साल के भीतर रिकॉर्ड 16 अरब डॉलर का विदेशी क़र्ज़ लिया.

पाकिस्तान को ऐसा अंतरराष्ट्रीय क़र्ज़ों के भुगतान में डिफॉल्टर बनने से बचने के लिए और आयात बिलों के भुगतान के लिए करना पड़ा है. 16 अरब डॉलर का यह विदेशी क़र्ज़ पाकिस्तान ने वित्तीय वर्ष 2018-19 में लिया, जिसमें से 11 महीने का कार्यकाल इमरान ख़ान की सरकार का रहा है.

16 अरब डॉलर में से 13.6 अरब डॉलर इमरान ख़ान की सरकार ने अपने कार्यकाल में क़र्ज़ लिया जो कि किसी भी सराकार में एक साल के भीतर सबसे बड़ा विदेशी क़र्ज़ है. बाक़ी के 2.1 अरब डॉलर जुलाई 2018 में पाकिस्तान की केयरटेकर सरकार ने लिया था.

वित्तीय वर्ष 2018-19 का अंत पिछले महीने जुलाई में हुआ था और अंत-अंत तक क़र्ज़ 16 अरब डॉलर तक पहुंच गया. इस क़र्ज़ में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और क़तर के पाँच अरब डॉलर शामिल हैं. पाकिस्तान के प्रमुख अख़बार एक्सप्रेस ट्रिब्यून का कहना है कि वित्त मंत्रालय की तरफ़ से जो डेटा जारी किया गया है उसमें इस पाँच अरब डॉलर को क़र्ज़ के तौर पर शामिल नहीं किया गया है.

शुरुआत में चीन के दो अरब डॉलर को भी विदेशी क़र्ज़ में शामिल नहीं किया गया था लेकिन अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के दबाव में पाकिस्तान को ऐसा करना पड़ा. वित्तीय वर्ष 2017-18 में पाकिस्तान ने 11.4 अरब डॉलर का विदेश क़र्ज़ लिया था.

16 अरब डॉलर का 42 फ़ीसदी हिस्सा यानी 6.7 अरब डॉलर का क़र्ज़ पाकिस्तान ने चीन से लिए हैं. इनमें 2.54 अरब डॉलर व्यावसायिक क़र्ज़, 1.6 अरब डॉलर सीपीईसी के तहत, दो अरब डॉलर एसएएफई डिपॉजिट और 62.84 करोड़ डॉलर कराची न्यूक्लियर पावर प्लांट्स के लिए दिया. वित्तीय वर्ष 2017-18 में चीन ने पाकिस्तान को 4.5 अरब डॉलर का क़र्ज़ दिया था.

आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा बढ़ी

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने इनकम टैक्स फ़ाइल करने की तारीख़ को आगे बढ़ा दिया है. अब 31 अगस्त 2019 तक इनकम चैक्स रिटर्न भरा जा सकेगा. पहले यह तारीख़ 31 जुलाई थी.

यह फैसला केंद्र सरकार और सीबीडीटी ने लिया है. मौजूदा स्थिति के अनुसार अब अगर कोई 31 अगस्त के बाद रिटर्न फ़ाइल करता है तो उसे जुर्माना देना पड़ेगा.

बच्चे का वज़न कम था इसलिए मां ने खिड़की से फेंक दिया

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई की एक ख़बर के अनुसार एक मां ने अपने दो महीने के बच्चे को एक अस्पताल की खिड़की से फेंक दिया. इसकी वजह से बच्चे की मौत हो गई. पुलिस के मुताबिक़ बच्चे का वज़न से कम था और इस वजह से महिला अवसाद में थी.

शांति नाम की इस महिला ने 26 मई को एक बेटे को जन्म दिया था. जन्म के समय बच्चे का वज़न 750 ग्राम था. लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के प्रवक्ता संदीप तिवारी ने बताया कि बच्चा अस्पताल में भर्ती था.

उन्होंने बताया कि यह महिला ट्रॉमा सेंटर के चौथे माले पर पर गई और वहीं खिड़की से बच्चे को बाहर फेंक दिया. बच्चे की तुरंत ही मौत हो गई.

स्थानीय सर्किल ऑफ़िसर ने बताया कि महिला को गिरफ़्तार कर लिया गया था. पूछताछ के दौरान उन्होंने बताया कि बच्चे का वज़न बहुत कम था और वो काफ़ी कमज़ोर था, जिसकी वजह से वो बहुत परेशान चल रही थी.

पुलिस इस मामले की जांच कर रही है और सीसीटीवी फ़ुटेज देख रही है.

गुरुवार और शुक्रवार को भारी बारिश

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में आज यानी बुधवार को बारिश होगी और गुरुवार-शुक्रवार को भारी बारिश होगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बुधवार को आसामान में बादल छाए रहेंगे और तापामान 28 से 37 डिग्री के बीच रहेगा. दिल्ली में एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच 156.5 एमएम बारिश हुई है जो पिछले 30 सालों में चार फ़ीसदी ज़्यादा है.

हाथी दांत का सबसे बड़ा ज़खीरा बरामद

चीन से मिली सूचना पर कार्रवाई करते हुए सिंगापुर के अधिकारियों ने अब तक का सबसे बड़ा हाथी दांत का जख़ीरा बरामद किया है.

सिंगापुर के कस्टम अधिकारियों ने करीब नौ टन हांथी दांत ज़ब्त किए हैं. ये क़रीब तीन सौ हाथियों के दांत हैं. क़रीब 1.3 करोड़ डॉलर क़ीमत के ये हांथी दांत ऐसे शिपिंग कंटेनर से मिले हैं जिसे टिंबर बताया गया था.

इसी कंटेनर से 12 टन पेंगोलिन की चमड़ी भी बरामद की गई है जिसकी क़ीमत 3.6 करोड़ डॉलर है. ये सामान डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो से सिंगापुर के रास्ते वियतनाम जा रहा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार