'डॉ पायल तडवी पर होती थी जातिवादी टिप्पणी'- प्रेस रिव्यू

  • 26 जुलाई 2019
पायल तडवी इमेज कॉपीरइट FACEBOOK/PAYAL TADVI

महाराष्ट्र में आत्महत्या करने वाली दलित डॉक्टर पायल तडवी मामले की जांच के दौरान पुलिस को कम से कम तीन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने अपने बयान में बताया है कि उन पर जातिवादी टिप्पणियां की जाती थीं.

द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ गाइनो विभाग के एक हेल्पर ने अपने बयान में कहा है कि दिसंबर 2018 में डॉक्टर हेमा आहूजा, अंकिता खंडेलवाल और भक्ति मेहारे ने तडवी से कहा था, "ये काम कौन करेगा, ये तेरा काम नहीं है तो किसका काम है? तू छोटी जात हो के हमारी बराबरी करेगी क्या?"

एक अन्य बयान में एक चश्मदीद ने कहा है कि अभियुक्त डॉक्टरों ने पायल से कहा था, "ऐ आदिवासी, तू इधर क्यूं आई है? तू डिलीवरी करने के लायक नहीं है, तू हमारी बराबरी करती है..."

पायल तडवी ने 22 मई को टीएन टोपीवाला नेशनल मेडिकल कॉलेज के अपने हॉस्टल के कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. पुलिस ने इस मामले में तीन महिला डॉक्टरों को आत्महत्या के लिए उकसाने और जातिवाती भेदभाव के आरोप में गिरफ़्तार किया है.

छेड़खानी की शिकायत करने आई युवती पर पुलिस की टिप्पणी

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ उत्तर प्रदेश के एक पुलिस थाने में शिकायत लेकर आई एक युवती का पुलिस ने ही मानसिक उत्पीड़न किया.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने घटना का वीडियो ट्विटर पर साझा करते हुए पुलिस के रवैये पर सवाल उठाए हैं. छेड़खानी की शिकायत करने आई युवती की बात सुनने के बजाय थाने के सिपाही ने उसके कपड़ों पर ही अमर्यादित टिप्पणी कर दी थी.

प्रियंका ने वीडियो ट्वीट करते हुए सवाल किया है, "छेड़खानी की रिपोर्ट लिखवाने गई लड़की के साथ थाने में इस तरह का व्यवहार हो रहा है. एक तरफ़ उत्तर प्रदेश में महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध कम नहीं हो रहे, दूसरी तरफ क़ानून के रखवालों का ये बर्ताव. महिलाओं को न्याय दिलाने की पहली सीढ़ी है उनकी बात सुनना."

इमेज कॉपीरइट JAGADEESH NV/EPA

एक हज़ार करोड़ का था कर्नाटक ऑपरेशनः कांग्रेस

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा है कि कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस की गठंधन सरकार गिराने के अभियान पर एक हज़ार करोड़ रुपए ख़र्च किए गए हैं.

जेडीएस से गठबंधन टूटने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी ने अभी इस बारे में फ़ैसला नहीं लिया है. दोनों दल विधानसभा में समन्वय बनाए रखेंगे. उन्होंने ये भी कहा है कि बाग़ी विधायकों को अब पार्टी में शामिल नहीं किया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

क्रेडिट कार्ड कर्ज़ से परेशान पिता बेटी को लेकर कूदा

द हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ दिल्ली में एक पिता ने अपनी बेटी के साथ तीन मंज़िला मकान से छलांग लगा दी. पति को कूदता देखने के बाद पत्नी भी कूद गई.

पति की मौत हो गई है जबकि बेटी और मां का इलाज अस्पताल में चल रहा है. पुलिस जांच में पता चला है कि आत्महत्या करने वाला युवक क्रेडिट कार्ड कंपनियों का बिल चुकाने के लिए बार-बार फ़ोन आने से परेशान था.

मारा गया युवक एक निजी कंपनी में काम करता था और उस पर क्रेडिट कार्ड का क़रीब आठ लाख रुपए का क़र्ज़ चढ़ गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे