उन्नाव रेप पीड़िता के साथ गंभीर रूप से घायल वकील कौन हैं?

  • 30 जुलाई 2019
महेंद्र सिंह चौहान, पीड़िता के वकील इमेज कॉपीरइट Facebook/mahendra.singhchauhan

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में ट्रक से हुई टक्कर में उन्नाव रेप केस में पीड़िता की ओर से मुकदमा लड़ने वाले वकील महेंद्र सिंह की हालत गंभीर बताई जा रही है.

किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के मुताबिक़, वक़ील महेंद्र सिंह के दोनों पैरों में फ्रैक्चर हुआ है. उनकी पसलियों, मुंह में गंभीर चोटें आई हैं.

महेंद्र सिंह इस मामले में राजनीतिक रूप से काफ़ी प्रभावशाली विधायक कुलदीप सेंगर के ख़िलाफ़ पीड़ित पक्ष की ओर से केस लड़ रहे थे.

महेंद्र सिंह पीड़िता के चाचा महेश सिंह से परिवार को मिलाने के लिए रायबरेली जा रहे थे.

बीबीसी हिंदी ने वकील महेंद्र सिंह के बेहद करीबी दोस्त नीरज सिंह से बात करके उनके बारे में जानने की कोशिश की है.

नीरज सिंह बताते हैं, "महेंद्र सिंह एक बेहद ही निर्भीक किस्म के व्यक्ति हैं. बिना डरे किसी भी केस को लड़ने की हिम्मत करते हैं. दूसरों की मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहने वाले महेंद्र सिंह को रात एक बजे भी कोई बुलाए तो वो मदद करने के लिए तैयार रहते हैं."

"लोग बताते हैं कि इस केस को लड़ने के लिए कई लोग तैयार नहीं हुए थे. और अपनी निर्भीकता की वजह से ही वह इस केस को लड़ने के लिए तैयार हुए थे. उनकी कभी किसी के साथ किसी तरह की दुश्मनी नहीं थी. हम उनके साथ हमेशा थे और रहेंगे ताकि उन्हें इस मामले में न्याय मिल सके."

किस हालत में हैं महेंद्र सिंह

अस्पताल में ज़िंदगी और मौत से जूझ रहे महेंद्र सिंह के दोस्त नीरज लगातार अस्पताल में ही मौजूद थे.

इमेज कॉपीरइट Facebook/mahendra.singhchauhan

वे बताते हैं, "मैं उनको देखकर आ रहा हूं. उनकी हालत बहुत ही गंभीर है. हमने उन्हें दिल्ली ले जाकर इलाज़ करने पर भी विचार किया. लेकिन अस्पताल के डॉक्टरों के मुताबिक़, इस समय महेंद्र जी इस हालत में नहीं हैं कि उन्हें दिल्ली ले जाया जा सके. उनकी पसलियों में चोट आई है. वो अपनी गाड़ी से ही पीड़िता और उसके पारिवारिक सदस्यों को रायबरेली लेकर जा रहे थे. वो ड्राइवर सीट पर थे. ऐसे में ट्रक से हुई इस टक्कर में उनके चेहरे को काफ़ी चोट पहुंची है. इसके साथ ही अंदरुनी अंगों को भारी नुकसान पहुंचा है."

किस हाल में है महेंद्र सिंह का परिवार

नीरज सिंह बताते हैं कि इस हादसे के बाद महेंद्र सिंह का परिवार बुरी तरह हिल गया है.

मैं महेंद्र सिंह जी और उनके परिवार को बीते 20 सालों से जानता हूं. दस साल से उनके साथ वकालत कर रहा हूं.

गांव में हमारा घर भी एक दूसरे के बगल में है. ऐसे में मैं इस परिवार को बेहद नज़दीक से जानता हूं.

उनकी पत्नी और पिता किसी से बात करने की स्थिति में नहीं हैं और सिर्फ अपने बेटे की हालत सुधरने की कामना कर रहे हैं.

क्या महेंद्र सिंह को मिली थी धमकियां

नीरज बताते हैं कि महेंद्र सिंह ने हमें कभी धमकियों के बारे में नहीं बताया है. इस घटना से एक रात पहले शाम साढ़े सात बजे तक मैं उनके ही साथ था.

इमेज कॉपीरइट Facebook/mahendra.singhchauhan

सब कुछ सामान्य था. उन्होंने हमें अगले दिन के कार्यक्रम के बारे में भी नहीं बताया था.

नीरज कहते हैं, "सीबीआई की जांच में ही कुछ सामने आएगा. लेकिन ये एक बहुत ही हाई प्रोफ़ाइल मामला था. ऐसे में संभव है कि किसी ने साजिश करके ये काम करवाया हो. पुलिस ने पहले कुछ और बताया था. इसके बाद ट्रक के नंबर प्लेट पर कालिख लगी होने और ट्रक के ग़लत दिशा से आने की बात भी सामने आई है. "

क्या है परिवार की मांग

इस मामले में उन्नाव रेप केस की पीड़िता के चाचा की ओर से एफ़आईआर कराई गई है.

नीरज बताते हैं, "ट्रक से टक्कर के मामले में सिर्फ एक एफ़आईआर हो सकती है. ऐसे में पीड़ित परिवार की ओर से एफ़आईआर कराई जा चुकी है. लेकिन अगर महेंद्र सिंह के परिवार की बात करें तो वे सीबीआई की जांच की मांग कर रहे हैं."

हादसे के बाद से वकील और पीड़िता अभी भी बेहद गंभीर हालत में बताए जा रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार