अजीत डोभाल कश्मीर गए, सुरक्षा का लेंगे जायज़ाः प्रेस रिव्यू

  • 6 अगस्त 2019
एनएसए अजीत डोभाल इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption एनएसए अजीत डोभाल

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में हलचल तेज़ हो गई है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने अपने सहयोगी न्‍यूज चैनल टाइम्‍स नाउ की रिपोर्ट के आधार पर बताया है कि कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल कश्मीर के लिए रवाना हो गए हैं.

बताया जा रहा है कि वह व्यक्तिगत तौर पर वहां पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायज़ा लेंगे. उनके पहुंचने से पहले 8 हज़ार सुरक्षा जवानों को और वहां भेजा गया है.

इसके साथ ही घाटी में हिंसा का नया दौर शुरू होने की आशंका भी जताई जा रही है.

जेएनयू छात्रा के साथ दुष्कर्म

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) की एक छात्रा के साथ पिछले हफ्ते एक कैब ड्राइवर द्वारा कथित रूप से दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है.

दैनिक भास्कर में प्रकाशित समाचार के अनुसार छात्रा के साथ यह हादसा तब हुआ जब वह अपने दोस्त के घर से लौट रही थी. छात्रा ने पुलिस को बताया कि उन्होंने मंदिर मार्ग में कैब ली थी.

कैब ड्राइवर ने उन्हें खाने के लिए कुछ दिया जिसके बाद वह बेहोश हो गईं. इसके बाद ड्राइवर ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

शिकायतकर्ता को दक्षिणी दिल्ली में एक पार्क के नज़दीक बेहोशी की हालत में कुछ स्थानीय लोगों ने देखा जिन्होंने उस छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock
Image caption सांकेतिक तस्वीर

सज्जन कुमार की याचिका पर अगले साल सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि वह कांग्रेस के पूर्व नेता सज्जन कुमार की याचिका पर अगले साल मई में सुनवाई करेगा.

दि हिंदू में प्रकाशित समाचार के अनुसार इस याचिका में सज्जन कुमार ने अपनी सजा निलंबित करने की मांग की है.

दिल्ली उच्च न्यायालय ने 1984 के सिख विरोधी दंगे मामले में सज्जन कुमार को उम्रकैद की सज़ा सुनाई थी.

न्यायमूर्ति एस ए बोबडे और न्यायमूर्ति बी आर गवई की पीठ ने कहा कि यह "साधारण मामला" नहीं है और किसी भी तरह का आदेश देने से पहले इस पर सुनवाई की ज़रूरत होगी.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार