भारत ने भी रद्द की समझौता एक्सप्रेस

  • 11 अगस्त 2019
समझौता एक्सप्रेस इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस फिलहाल पूरी तरह से बंद हो गई है. रविवार को भारत ने अपनी ओर से भी समझौता एक्सप्रेस को बंद कर दिया. पाकिस्तान कुछ दिन पहले ही अपनी तरफ़ से समझौता एक्सप्रेस बंद कर चुका है.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने इस संबंध में जानकारी दी है.

उन्होंने कहा है, ''पाकिस्तान ने लाहौर और अटारी के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस 14607/14608 को रद्द करने का निर्णय लिया था. इसके परिणाम स्वरूप दिल्ली और अटारी के बीच चलने वाली समझौता लिंक एक्सप्रेस 14001/14002 का परिचालन रद्द किया जा रहा है.''

भारतीय रेलवे रविवार को दिल्ली से अटारी और अटारी से दिल्ली के बीच इस ट्रेन का परिचालन करता था जबकि पाकिस्तान में यह ट्रेन लाहौर से अटारी के बीच चलाई जाती थी. यात्री अटारी स्टेशन पर ट्रेन बदलते थे.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, रेलवे अधिकारियों ने बताया कि रविवार को इस ट्रेन के लिए सिर्फ दो लोगों ने ही टिकट बुक करवाया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कश्मीर में तनाव, पाकिस्तान का कड़ा रुख

भारत की ओर से जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्ज़ा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाने और राज्य के पुनर्गठन के बाद पाकिस्तान ने कई कड़े कदम उठाए हैं.

आठ अगस्त को पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख़ रशीद अहमद ने कहा था कि उन्होंने समझौता एक्सप्रेस को हमेशा के लिए बंद करने का फैसला किया है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने भी इसकी पुष्टि की थी. पाकिस्तान इसके अलावा थार एक्सप्रेस को भी बंद कर चुका है.

कश्मीर मसले पर पाकिस्तान ने भारत के साथ तमाम राजनयिक और व्यापारिक संबंध खत्म कर दिए हैं.

इमेज कॉपीरइट RAVINDER SINGH ROBIN
Image caption अटारी रेलवे स्टेशन

क्या है'समझौता' का इतिहास

समझौता एक्सप्रेस भारत और पाकिस्तान के बीच सप्ताह में दो दिन चलने वाली रेलगाड़ी है जो विभाजन से पहले से अटारी से लाहौर तक बिछी पटरी पर दौड़ती है.

इस ट्रेन को शिमला समझौते के बाद 22 जुलाई 1976 को लाहौर से अमृतसर के बीच शुरू किया गया था. बाद में 1994 में इसे अटारी और लाहौर के बीच चलाया जाने लगा.

यह ट्रेन भारत और पाकिस्तान के बीच पैदा होने वाले तनाव की भेंट चढ़ती रही है. जब भी दोनों देशों के बीच तनातनी होती है, यह सेवा रोक दी जाती है.

भारत प्रशासित कश्मीर के पुलवामा में हुए चरमपंथी हमले के बाद भी इस ट्रेन सेवा को रोका गया था.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार