कश्मीर कवरेज के लिए बीबीसी हिंदी रेडियो ने बढ़ाया प्रसारण

  • 15 अगस्त 2019

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस भारत प्रशासित कश्मीर में मौजूदा स्थिति को देखते हुए शॉर्टवेब रेडियो पर अपने प्रसारण की अवधि को बढ़ा रहा है.

इसके तहत बीबीसी हिंदी, बीबीसी उर्दू और बीबीसी अंग्रेज़ी अपने शॉर्टवेव रेडियो का ट्रांसमिशन एक घंटे का करने जा रहे हैं.

16 अगस्त से बीबीसी हिंदी रेडियो का सांध्यकालीन कार्यक्रम 'दिन भर' आधे घंटे की जगह एक घंटे का होगा यानी इसका प्रसारण शाम साढ़े सात बजे से साढ़े आठ बजे तक होगा.

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के डायरेक्टर जेमी एंगस ने कहा है, "तनाव और संघर्ष की स्थिति में स्वतंत्र और निष्पक्ष समाचारों की प्रस्तुति वर्ल्ड सर्विस के मुख्य उद्देश्यों में एक है."

उन्होंने कहा, "भारत प्रशासित कश्मीर में डिजिटल सेवा और फोन लाइंस के बंद होने के चलते यह हमारे लिए उपयुक्त है कि हम अपने शॉर्टवेव रेडियो सेवाओं में समाचार बढ़ाएं. भारत और पाकिस्तान में लोग बीबीसी की स्वतंत्रता पर भरोसा करते हैं. हम जानते हैं कि इस साल संघर्ष के क्षेत्र से हमारी रिपोर्टिंग काफ़ी लोकप्रिय रही है और श्रोताओं ने उसे काफी महत्व दिया है. जब तनाव बहुत ज़्यादा होता है तब वो हमारी ओर देखते हैं."

अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी बनाने के भारत सरकार के फ़ैसले के बाद भारत प्रशासित कश्मीर में तनाव की स्थिति को देखते हुए वहां लॉक डाउन की स्थिति है.

बीबीसी हिंदी के अलावा बीबीसी न्यूज़ उर्दू 19 अगस्त से स्थानीय समयानुसार दोपहर साढ़े 12 बजे 15 मिनट का रोजाना कार्यक्रम पेश करेगा. इसमें भी कश्मीर और उससे जुड़े मुद्दों को प्राथमिकता दी जाएगी.

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस अंग्रेजी का ब्रॉडकास्ट भी स्थानीय समयानुसार सुबह के साढ़े सात बजे से एक घंटे का होगा.

भारत प्रशासित कश्मीर में पूर्ण बंद की स्थिति के चलते लोगों को समाचार हासिल करने में काफी मुश्किलें हो रही है. लेकिन इस इलाके में बीबीसी अंग्रेजी, उर्दू, हिंदी, दारी और पाश्तो के अपने शॉर्टवेब रेडियो ट्रांसमिशन के जरिए लोगों को निष्पक्ष और स्वतंत्र समाचार मुहैया करा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए