कश्मीर पर यूएन की बैठक के बाद ट्रंप को फ़ोन कर इमरान ने क्या कहा: पांच बड़ी ख़बरें

  • 17 अगस्त 2019
ट्रंप और इमरान इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कश्मीर मुद्दे पर अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप से फ़ोन पर बात की.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि इमरान ख़ान ने संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में सुरक्षा परिषद की बैठक के संबंध में अमरीकी राष्ट्रपति को 'भरोसे में' लिया है.

कुरैशी ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने उन्हें कश्मीर के ताज़ा घटनाक्रम और क्षेत्रीय शांति पर ख़तरे के संबंध में पाकिस्तान की चिंता से अवगत कराया है.

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में शुक्रवार को भारत प्रशासित कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर अनौपचारिक बैठक हुई. इस अनौपचारिक बैठक का आयोजन पाकिस्तान के लिखे ख़त के बाद किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'केंद्र सरकार ने लोकतंत्र का मज़ाक उड़ाया'

देशभर के 200 लेखकों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भारत प्रशासित कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा हटाने पर पत्र लिखा है.

भारत प्रशासित कश्मीर के मसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के ख़िलाफ़ देश भर के 200 लेखकों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाकर केंद्र सरकार ने लोकतंत्र का मज़ाक उड़ाया है.

इसमें लिखा गया है कि "जम्मू-कश्मीर के लोगों से इस बारे में नहीं पूछा गया. केंद्र सरकार का यह फ़ैसला सूबे के लोगों से किए गए अहम वादों का उल्लंघन है."

अमिताभ घोष, नयनतारा सहगल, पेरुमल मुरुगन, अशोक वाजपेयी, टीएम कृष्णा, जेवी पवार, बेज़वाड़ा विल्सन, अमित चौधरी, शशि देशपांडे, शरणकुमार लिंबाले, पी साईनाथ, दामोदर मौज़ो, दलीप कौर तिवाना, बामा, सांभाजी भगत, जेरी पिंटो समेत अन्य लोगों ने इस पर दस्तख़त किए हैं.

इमेज कॉपीरइट NAVEEN KUMAR/BBC

केरल के कई भागों में बाढ़ से राहत

केरल में बाढ़ प्रभावित इलाकों में बीते दिन कुछ राहत मिली और कई निचले इलाकों में पानी कम हुआ जिससे राज्य में स्थिति सामान्य होने की दिशा में बढ़ती नज़र आ रही है.

प्रदेश में बाढ़ से मरने वालों की संख्या सौ पार हो गयी है जबकि 34 अन्य लोग लापता है. देश के इस दक्षिणी राज्य में बारिश की तेजी में कमी आयी है और प्रदेश के सभी 14 जिलों में 'रेड अलर्ट' जारी नहीं किया गया है.

इमेज कॉपीरइट PIB

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूटान यात्रा पर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को पड़ोसी देश भूटान यात्रा के लिए रवाना होंगे.

भूटान की यात्रा से पहले अपने विदाई भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत-भूटान की दोस्ती बेहद ख़ास है और अपने पड़ोसियों को तरज़ीह देने की भारत सरकार का नीति का प्रमुख स्तंभ है.

प्रधानमंत्री ने कहा है कि दोनों देशों ने पिछले साल अपने औपचारिक राजनयिक संबंधों की स्‍थापना की स्‍वर्ण जयंती मनाई थी. उन्‍होंने कहा कि वे भूटान नरेश और भूटान के प्रधानमंत्री से द्विपक्षीय संबंधों के तमाम पहलुओं पर उद्देश्‍यपूर्ण बातचीत भी करेंगे.

प्रधानमंत्री भूटान के शाही विश्‍वविद्यालय के नौजवान छात्रों को भी संबोधित करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

नहीं थम रहा है अमरीका-ईरान के बीच का तनाव

अमरीका ने ईरान के एक तेल टैंकर को ज़ब्त करने के लिए वारंट जारी किया है.

ब्रितानी क्षेत्र जिब्राल्टर में हिरासत में रखे गए इस टैंकर को एक दिन पहले ही रिहा किया गया था. अमरीका के न्याय विभाग का कहना है कि ये जहाज़, इस पर लदा तेल, क़रीब दस लाख डॉलर नक़द, बैंक धोखाधड़ी, मनी लॉंडरिंग और आतंकवाद को बढ़ावा देने के आधार पर इसे ज़ब्त किया जाए.

ग्रेस वन नाम के इस तेल टैंकर को ज़िब्राल्टर ने बीते महीने यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के शक में हिरासत में लिया था.

टैंकर पर सीरिया के लिए तेल की तस्करी करने के आरोप थे. गुरुवार को जिब्राल्टर के एक जज ने अपने फ़ैसले में कहा था कि अपना माल सीरिया न ले जाने की शर्त पर इस टैंकर को छोड़ा जा सकता है. वहीं ईरान ने कहा है कि उसने टैंकर की रिहाई के बदले कोई वादा नहीं किया है और उसका टैंकर सीरिया नहीं जा रहा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार