मोदी के लिए भारत का अनुरोध ठुकरा दिया: पाकिस्तान- पाँच बड़ी ख़बरें

  • 19 सितंबर 2019
महमूद क़ुरैशी इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान ने कहा है कि वो भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने देश के एयरस्पेस से गुजरने की इजाज़त नहीं देगा.

प्रधानमंत्री मोदी 21 सितंबर को अमरीका की यात्रा पर जा रहे हैं, वहां वे 22 सितंबर को ह्यूस्टन में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में शामिल होंगे.

अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने की इजाज़त देने से इनकार करते हुए पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा, "हिंदुस्तान से दरख्वास्त आई थी कि हिंदुस्तान के वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के एयर स्पेस से होकर जर्मनी जाना चाह रहे थे. कश्मीर के हालात को देखते हुए हमने फ़ैसला किया है कि हम इसकी इजाज़त नहीं देंगे."

उन्होंने कहा, "हमने भारतीय उच्चायोग को अवगत कराया है कि नरेंद्र मोदी की उड़ान के लिए हम अपने हवाई क्षेत्र की इजाज़त नहीं देंगे."

महमूद क़रैशी ने कहा, ''पीएम मोदी के लिए 20 सितंबर को जर्मनी जाने और 28 सितंबर को वापसी के लिए भारत ने पाकिस्तानी से हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की अनुमति मांगी थी लेकिन हमने नहीं दी.''

पीएम मोदी इसी दौरान संयुक्त राष्ट्र की आम सभा को संबोधित करने न्यूयॉर्क पहुंचेंगे. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान भी न्यूयॉर्क आ रहे हैं और उन्होंने कहा है कि वो यूएन की आम सभा में कश्मीर का मुद्दा उठाएंगे. इमरान ख़ान 27 सितंबर को यूएन की आम सभा को संबोधित करेंगे.

ये भी कहा जा रहा है कि अंतर्राष्ट्रीय क़ानून के मुताबिक़ पाकिस्तान भारतीय प्रधानमंत्री को अपने हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल पर रोक नहीं लगा सकता. अगर पाकिस्तान इसे ख़ारिज करता है और भारत इंटरनेशनल सिविल एविएशन ऑर्गेनाइजेशन में चुनौती देता है तो पाकिस्तान को भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है.

इससे पहले पाकिस्तान ने भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हवाई जहाज को भी अपने हवाई क्षेत्र से उड़ने की इजाज़त नहीं दी थी.

राष्ट्रपति तीन देशों के दौरे के लिए आइसलैंड की यात्रा पर रवाना होने वाले थे, जिसके लिए उनके विमान को पाकिस्‍तानी हवाई क्षेत्र से जाना था.

ये भी पढ़ें:

हिन्दी थोपने की बात कभी नहीं कीः अमित शाह

हिन्दी दिवस पर दिए अपने बयान पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि उन्होंने कभी भी हिन्दी को क्षेत्रीय भाषाओं पर थोपने की बात नहीं की है.

एक अख़बार के कार्यक्रम में झारखंड की राजधानी रांच में अमित शाह ने कहा, "मैंने कभी हिन्दी को अन्य क्षेत्रीय भाषाओं पर थोपने की बात नहीं की. केवल मातृभाषा के बाद दूसरी भाषा के तौर पर सीखने का अनुरोध किया है. मैं भी ग़ैरहिन्दी राज्य गुजरात से आता हूं. अगर किसी को इस पर राजनीति करनी है तो यह उसकी मर्जी है."

हिन्दी दिवस पर अमित शाह के दिए एक भाषण को लेकर घमासान मचा हुआ है.

दिल्ली-एनसीआर में ट्रकों, बसों और टैक्सियों की हड़ताल, कई स्कूलें भी बंद

ट्रैफिक के नए क़ानून में भारी जुर्माने से नाराज़ बस-ट्रक और टैक्सी संचालक गुरुवार को दिल्ली-एनसीआर में सांकेतिक हड़ताल पर हैं.

यूनाइटेड फ्रंट ऑफ़ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने यह हड़ताल बुलाई है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक एसोसिएशन के चेयरमैन हरीश सभरवाल ने बताया कि दिल्ली के साथ नोएडा, गाज़ियाबाद, फ़रीदाबाद और गुड़गांव में हड़ताल रहेगी.

इसमें ऑटो, टैक्सी, बस, ट्रक, टैम्पो, ग्रामीण सेवा, स्कूल कैब, मिनी आरटीवी बस, काली-पीली टैक्सी के चालक शामिल होंगे. ऐप आधारित टैक्सी भी इस हड़ताल में शामिल हो रही हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अमरीकी फेडरल रिज़र्व

अमरीकी फेडरल रिज़र्व ने फिर घटाई ब्याज दरें

अमरीकी फेडरल रिज़र्व बैंक ने इस साल दूसरी बार अपनी ब्याज दरों में कटौती की है.

इससे पहले फेडरल रिज़र्व ने इसी वर्ष 31 जुलाई को 2008 के बाद से पहली बार ब्याज दर में कटौती की थी.

राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने फेडरल रिज़र्व के इस क़दम की आलोचना की है.

फेडरल रिज़र्व के प्रमुख जेरोम पोवेल ने कहा, ''हम चाहते हैं कि देश में नौकरियां बढ़ें और महंगाई पर लगाम लगे.

उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को मज़बूत बनाए रखने के लिए और लोगों की सुरक्षा के लिए ये क़दम उठाना ज़रूरी था.

राज़ी बेस्ट फ़िल्म, रणवीर सिंह बेस्ट एक्टर, आलिया बेस्ट एक्ट्रेस

मुंबई में बीती रात आइफा अवॉर्ड्स 2019 की घोषणा की गई. पहली बार मुंबई में आयोजित किए गए आइफा अवॉर्ड्स में रणवीर सिंह को फ़िल्म पद्मावत के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता तो आलिया भट्ट को राज़ी के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का ख़िताब मिला. वहीं फ़िल्म राज़ी को सर्वेश्रेष्ठ फ़िल्म चुना गया.

इसके अलावा राज़ी के लिए अरिजीत सिंह को बेस्ट प्लेबैक सिंगर और हर्षदीप कौर और विभा शराफ को दिलबरो गाने के लिए पुरस्कार दिए गए. आयुष्मान खुराना की फ़िल्म अंधाधुन को बेस्ट स्टोरी का अवॉर्ड मिला.

ये भी पढ़ें:

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार