पीएम मोदी के परिवार की पाकिस्तान में चर्चाः पाकिस्तान प्रेस रिव्यू

  • 13 अक्तूबर 2019
इमरान ख़ान इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान से छपने वाले उर्दू अख़बारों में इस हफ़्ते भी भारत प्रशासित कश्मीर से जुड़ी ख़बरें सबसे ज़्यादा सुर्ख़ियों में रहीं.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना आख़िरी पत्ता खेल दिया है.

शुक्रवार को राजधानी इस्लामाबाद में भारत प्रशासित कश्मीर के लोगों के समर्थन में आयोजित रैली में इमरान ख़ान ने कहा, ''मोदी का आख़िरी पत्ता प्रताड़ित कश्मीरियों के लिए आज़ादी का रास्ता बनेगा.''

अख़बार नवा-ए-वक़्त के मुताबिक़ इमरान ने कहा कि कश्मीरियों के लिए उनका आंदोलन एक समंदर बन जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी कश्मीरियों को दबाने में कभी भी कामयाब नहीं होंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'भारत के ख़िलाफ़ जीत या शहादत तक लड़ेंगे'

अख़बार के अनुसार उन्होंने इस मौक़े पर अंतरराष्ट्रीय मीडिया की भी आलोचना की. उन्होंने कहा कि मीडिया हॉन्ग कॉन्ग के आंदोलन को तो सुर्ख़ियां बनाकर पेश करता है लेकिन भारत प्रशासित कश्मीर से जुड़ी ख़बर अंतरराष्ट्रीय मीडिया में ना के बराबर है.

पाकिस्तान की एक धार्मिक और सियासी संगठन जमात-ए-इस्लामी के प्रमुख सिराज-उल-हक़ ने इमरान ख़ान पर हमला करते हुए कहा कि इमरान ख़ान कश्मीरियों के हक़ में सिर्फ़ बातें करते हैं.

अख़बार दुनिया के अनुसार कश्मीर कॉन्फ़्रेंस को संबोधित करते हुए सिराज-उल-हक़ ने कहा कि वो भारत के ख़िलाफ़ जीत या शहादत तक लड़ेंगे.

इमेज कॉपीरइट JARRAL/BBC

इमरान ख़ान को निशाना बनाते हुए उन्होंने कहा, ''अगर सरकार कश्मीर पर जिहाद का एलान नहीं करती तो हम सरकार के ख़िलाफ़ जिहाद का एलान करेंगे. पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के नेता एलओसी पार करना चाहते हैं लेकिन इमरान ख़ान इजाज़त नहीं देते हैं. सरकार बताए कि वो अल्लाह को ख़ुश करना चाहती है या ट्रम्प को.''

सिराज-उल-हक़ ने कहा कि इमरान ख़ान पहले कह रहे थे कि मुझे संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक से लौटकर आनें दे उसके बाद कश्मीर के बारे में कोई प्रभावी क़दम उठाया जाएगा.

सिराज-उल-हक़ ने कहा कि वहां से लौटने के बाद इमरान ख़ान कह रहे हैं कि जो एलओसी पार करेगा वो पाकिस्तान का ग़द्दार है.

अख़बार जंग के अनुसार सिराज-उल-हक़ ने कहा कि इमरान ख़ान के बयान से नरेंद्र मोदी को हौसला मिला है और कश्मीरी मायूस हुए हैं.

सिराज-उल-हक़ ने इमरान ख़ान पर कटाक्ष करते हुए कहा, ''पूरी क़ौम जाग उठी है लेकिन इस्लामाबाद का टीपू सुलतान सो रहा है.''

अख़बार एक्सप्रेस ने इसी ख़बर पर सुर्ख़ी लगाई है, ''क़ौम भारत से दो-दो हाथ करने को तैयार मगर सुलतान टीपू तैयार नहीं.''

लेकिन इमरान ख़ान को समर्थन भी मिल रहा है. तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यब अरदोआन ने इमरान ख़ान का समर्थन किया है.

अख़बार एक्सप्रेस के मुताबिक़ तुर्की के राष्ट्रपति ने पाकिस्तानी संसद के अध्यक्ष असद क़ैसर से बातचीत के दौरान कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा में इमरान ख़ान ने अपने भाषण के ज़रिए पूरी इस्लामी दुनिया और कश्मीरियों की सच्चे अर्थों में नुमाइंदगी की है.

अख़बार लिखता है कि अरदोआन ने कश्मीर समस्या के हल होने तक तुर्की के समर्थन का आश्वासन दिलाया.

'भारत में मोदी का परिवार भी सुरक्षित नहीं'

इसके अलावा भारत की एक छोटी सी ख़बर भी पाकिस्तानी अख़बारों में इस हफ़्ते सुर्ख़ियों में रही.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी के पर्स चोरी का है. मोदी की भतीजी दमयंती बेन मोदी का शनिवार को दिल्ली में कुछ लोगों ने पर्स झपट लिया.

इस ख़बर को पाकिस्तान के सारे अख़बारों ने प्रमुखता से कवर किया है.

अख़बार जंग ने सुर्ख़ी लगाई है, ''भारत में मोदी का परिवार भी सुरक्षित नहीं. भतीजी को डाकू ने लूट लिया.''

अख़बार लिखता है कि दिल्ली में हाल के दिनों में इस तरह के मामले में तेज़ी आई है लेकिन इस बार तो उनका निशाना भारत के सबसे ताक़तवर व्यक्ति की भतीजी बन गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार