झारखंड में 30 नवंबर से पांच चरणों में होंगे विधानसभा चुनाव, 23 दिसंबर को नतीजे

  • 1 नवंबर 2019
झारखंड चुनाव इमेज कॉपीरइट Getty Images

चुनाव आयोग ने शुक्रवार को झारखंड विधानसभा चुनाव के तारीख़ों की घोषणा कर दी. 81 सीटों वाली विधानसभा में पांच चरणों में चुनाव होंगे.

पहले चरण में 13 विधानसभा क्षेत्रों में 30 नवंबर को वोट डाले जाएंगे.

दूसरे चरण में 20 सीटों पर 7 दिसंबर को मतदान होगा.

तीसरे चरण में 17 सीटों पर 12 दिसंबर को वोटिंग होगी.

चौथे चरण में 15 सीटों पर 16 दिसंबर को चुनाव होंगे और पांचवे चरण में 16 सीटों पर 20 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे. वहीं 23 दिसंबर को मतगणना होगी.

इमेज कॉपीरइट ANI
Image caption चुनाव तारीख़ों की घोषणा करते मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा

झारखंड में किस चरण में कहां हैं चुनाव?

पहला चरण (13 सीटें): चतरा (एससी), गुमला (एसटी), बिशुनपुर (एसटी), लोहरदगा (एसटी), मनिका (एसटी), लातेहार (एसटी), पांकी, डालटगनंज, विश्रामपुर, छतरपुर (एससी), हुसैनाबाद, गढ़वा और भवनाथपुर.

दूसरा चरण (20 सीटें): बहरागोड़ा, घाटशिला (एसटी), पोटका (एसटी), जुगसलाई (एससी), जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, सरायकेला (एसटी), चाईबासा (एसटी), मझगांव (एसटी), जगन्नाथपुर (एसटी), मनोहरपुर (एसटी), चक्रधरपुर (एसटी), खरसावां (एसटी), तमाड़ (एसटी), तोरपा (एसटी), खूंटी (एसटी), मांडर (एसटी), सिसई (एसटी), सिमडेगा (एसटी), कोलेबिरा (एसटी).

तीसरा चरण (17 सीटें): कोडरमा, बरकट्ठा, बरही, बड़कागांव, रामगढ़, मांडू, हजारीबाग, सिमरिया (एससी), धनवार, गोमिया, बेरमो, ईचागढ़, सिल्ली, खिजरी (एसटी), रांची, हटिया, कांके (एससी).

चौथा चरण (15 सीटें): मधुपुर, देवघर (एससी), बगोदर, जमुआ (एससी), गांडेय, गिरिडीह, डुमरी, बोकारो, चंदनक्यारी (एससी), सिंदरी, निरसा, धनबाद, झरिया, टुंडी, बाघमारा.

पांचवा चरण (16 सीटें): राजमहल, बोरियो (एसटी), बरहेट (एसटी), लिट्टीपाड़ा (एसटी), पाकुड़, महेशपुर (एसटी), शिकारीपाड़ा (एसटी), नाला, जामताड़ा, दुमका (एसटी), जामा (एसटी), जरमुंडी, सारठ, पोड़ैयाहाट, गोड्डा, महागामा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अभी झारखंड में बीजेपी की सरकार है और रघुवर दास इसके मुख्यमंत्री

झारखंड विधानसभा का कार्यकाल 5 जनवरी को समाप्त हो रहा है. अभी झारखंड में बाजेपी की गठबंधन सरकार है, जिसके मुख्यमंत्री रघुवर दास हैं. साल 2014 में बीजेपी को 37 सीटें प्राप्त हुई थीं.

उस समय बीजेपी को बहुमत के आंकड़े तक पहुंचने में पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) के छह विधायकों ने मदद की थी. चुनाव नतीजों के तुरंत बाद जेवीएम के छह विधायक बीजेपी में शामिल हो गए थे.

इसके साथ ही ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) भी बीजेपी के साथ गठबंधन में शामिल है. इस दल के पांच विधायक हैं.

वहीं झारखंड मुक्ती मोर्चा (जेएमएम) का कहना है कि आगामी चुनाव में उनकी पार्टी कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी. मौजूदा विधानसभा में कांग्रेस के आठ विधायक हैं जबकि जेएमएम के 19 विधायक हैं.

इमेज कॉपीरइट Election commission website
Image caption सभी चरणों में नामांकन भरने, रद्द करने, मतदान और मतगणना की तारीखें.

लोकसभा चुनाव के बाद तीसरे राज्य में चुनाव

लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिले प्रचंड बहुमत के बाद झारखंड तीसरा राज्य है जहां विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इससे पहले हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव हुए. हालांकि दोनों ही राज्यों में बीजेपी को उम्मीद से कम सीटें प्राप्त हुईं.

इसके बाद भी एक तरफ जहां हरियाणा में बीजेपी ने दुष्यंत चौटाला का पार्टी जेजेपी के साथ गठबंधन कर सरकार बना ली तो वहीं महाराष्ट्र में अभी भी सरकार गठन के लिए रस्साकशी चल रही है.

अब झारखंड तीसरा राज्य होगा जहां बीजेपी की सरकार है और वहां चुनाव होने वाले हैं.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार