अयोध्या पर "चिंतित" मुसलमानों की सुरक्षा बढ़ाने की माँग: प्रेस रिव्यू

  • 3 नवंबर 2019
बाबरी मस्जिद इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption बाबरी मस्जिद-राम मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी हो चुकी है

राम जन्मभूमि - बाबरी मस्जिद विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले "चिंतित" मुस्लिम समुदाय ने अयोध्या में ज़िला प्रशासन से उनकी घनी आबादी वाले इलाकों में केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की तैनाती की मांग की है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधियों ने फैज़ाबाद प्रशासन से मुलाक़ात के दौरान ये मांग उठाई.

जामिया उलेमा हिंद, अयोध्या इकाई के महासचिव हाफिज़ इरफान ने कहा, "हमें प्रशासन पर पूरा भरोसा है कि वो शांति सुनिश्चित करेंगे. लेकिन केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की तैनाती से समुदाय को और तसल्ली मिल जाएगी."

फैज़ाबाद के एसएसपी आशीष तिवारी ने बताया, "मुस्लिम बहुल इलाकों में पहले से पुलिस तैनात कर दी गई है और जल्द ही अर्धसैनिक बल भी तैनात कर दिए जाएंगे. सिविल पुलिस और कुछ सीआरपीएफ के जवान भी इन इलाकों में कड़ी नज़र रख रहे हैं."

इमेज कॉपीरइट COURTESY: HONEYPREET INSAN

राम रहीम की सहयोगी से हटे देशद्रोह के आरोप

पंचकुला की एक अदालत ने शनिवार को हनीप्रीत इसां और राम रहीम के अन्य 40 सहयोगियों पर लगे देशद्रोह के आरोप हटा दिए हैं.

बलात्कार के दो मामलों में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को जेल में डाले जाने के बाद 2017 में जो हिंसा भड़की थी, उससे जुड़ी मुख्य एफआईआर में इन सभी लोगों पर देशद्रोह के आरोप थे.

ये खबर हिंदुस्तान टाइम्स अखबार में है. पुलिस की चार्जशीट के मुताबिक, हनीप्रीत और 45 सदस्यीय डेरा मैनेजमेंट कमिटी ने राम रहीम को दोषी ठहराए जाने पर पंचकुला में हिंसा फैलाए जाने की साजिश रची थी.

बचाव पक्ष के वकील ने कहा कि पुलिस देशद्रोह के आरोपों को साबित करने के लिए सबूत पेश नहीं कर पाई.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सिद्धू ने करतारपुर साहिब जाने की मंज़ूरी मांगी

भारत और पाकिस्तान में करतारपुर साहिब गलियारे के उद्घाटन के लिए तैयारियां ज़ोरों पर हैं.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को भी निमंत्रण भेजा है.

जनसत्ता अखबार के मुताबिक सिद्धू ने पाकिस्तान में आयोजित गलियार के उद्घाटन समारोह में भाग लेने के लिए शनिवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को पत्र लिखकर अनुमति मांगी.

पिछले साल अगस्त में सिद्धू ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार