डीएमके की नैया पार करेंगे प्रशांत किशोर :प्रेस रिव्यू

  • 2 दिसंबर 2019
प्रशांत किशोर इमेज कॉपीरइट SANJAY DAS/BBC

तमिलनाडु में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए डीएमके की रणनीति बनाने की ज़िम्मेदारी प्रशांत किशोर संभालेंगे. इससे पहले बीजेपी, कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के साथ काम कर चुके प्रशांत किशोर जल्दी ही पार्टी प्रमुख एमके स्टालिन से मुलाक़ात करने वाले हैं.

द हिंदू में छपी एक ख़बर के अनुसार पार्टी के राजनीतिक रणनीतिकार सुनील ने पार्टी नेतृत्व से वैचारिक मतभेद के बाद अपने काम से इस्तीफ़ा दे दिया है जिसके बाद पार्टी को अब प्रशांत किशोर से उम्मीद है.

पार्टी के एक सूत्र के हवाले से अख़बार लिखता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री के पलानीसामी को चुनौती देने के लिए प्रशांत किशोर ख़ास रणनीति तैयार करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कभी नहीं छोड़ेंगे हिंदुत्व- उद्धव ठाकरे

"मैं अभी भी हिंदुत्व की विचारधारा के साथ हूं और कभी भी इस विचारधारा को छोड़ नहीं सकता हूं."

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में यह बयान दिया. इस ख़बर को द इंडियन एक्सप्रेस ने प्रकाशित किया है. इसके अलावा उन्होंने बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर तंज़ कसते हुए कहा "वादा निभाना भी मेरे लिए हिंदुत्व का ही हिस्सा है. मैं अपने हिंदुत्व का ही पालन करता रहा हूं, कर रहा हूं और आगे भी करूंगा."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सुप्रीम कोर्ट का रुख करेगी बीसीसीआई

अख़बार हिंदुस्तान टाइम्स में छपी एक ख़बर के अनुसार भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की 88वीं जनरल मीटिंग में फ़ैसला लिया गया है कि बोर्ड लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों में बदलाव करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख़ करेगा.

बीसीसीआई में पदाधिकारियों के कार्यकाल को सीमित करने वाले सुप्रीम कोर्ट के प्रशासनिक सुधारों में ढिलाई देने के लिए बोर्ड में सहमति बन गई है और इसके लिए प्रस्तावित संशोधनों को कोर्ट की मंज़ूरी के लिए भेजा जाएगा.

इसी साल 23 अक्टूबर को सौरव गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष बने थे और उन्हें दस महीनों में ये पद छोड़ना था. लेकिन माना जा रहा है कि अगर बोर्ड के प्रस्ताव को कोर्ट की मंज़ूरी मिल जाती है तो गांगुली 2024 तक बोर्ड के अध्यक्ष के पद पर बने रह सकते हैं.

वहीं, अख़बार में छपी एक और ख़बर के अनुसार बोर्ड की बैठक के बाद अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्वकप में महेंद्र सिंह धोनी शामिल होंगे या नहीं ये वही बताएंगे. बीसीसीआई के नए प्रमुख सौरव गांगुली ने ये कहा है.

इस साल जुलाई में इंग्लैंड में खेले गए एक दिवसीय विश्व कप में भी धोनी ने शिरकत नहीं की थी. न तो वो वेस्ट इंडीज़ दौरे का ही हिस्सा थे और न ही भारत में दक्षिण अफ़्रीका और बांग्लादेश के साथ खेली गई सीरिज़ का. गांगुली ने कहा कि धोनी ने खुद कहा है कि अपने सन्यास के बारे में वो अगले साल की जनवरी से पहले कुछ नहीं कहेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार