चीन के जहाज़ को खदेड़ कर भगायाः नौसेना प्रमुख- पाँच बड़ी ख़बरें

  • 4 दिसंबर 2019
इमेज कॉपीरइट PIB

भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने बताया है कि हाल ही में चीन का एक नौसैनिक जहाज़ अंडमान के पास भारतीय जलसीमा में घुस गया था जिसके बाद उसे खदेड़कर भगाया गया.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से इस बारे में और ब्यौरा देते हुए लिखा है कि शी यान 1 नाम का ये जहाज़ सितंबर में भारतीय सीमा में चला आया था और ऐसा शक हुआ कि वो जासूसी कर रहा था जिसके बाद उसे भगाया गया.

सूत्रों ने बताया कि चीनी जहाज़ बिना भारतीय नौसेना की अनुमति के इस इलाक़े में चला आया था.

प्रेस कॉन्फ़्रेंस में नौसेना प्रमुख ने इस घटना का कोई विस्तृत ब्यौरा नहीं दिया मगर उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में अमूमन सात से आठ चीनी जहाज़ उपस्थित रहते हैं.

एडमिरल सिंह ने कहा, "ये एक तथ्य है कि वो वहाँ मौजूद रहते हैं. ये समुद्र के बारे में शोध करने वाले जहाज़ हैं. उन्हें समुद्र में खनन करने के लिए कुछ क्षेत्र दिए गए हैं. औसतन इस इलाक़े में 7-8 चीनी जहाज़ हुआ करते हैं. "

ये भी पढ़िएः

इमेज कॉपीरइट Getty Images

प्रियंका की सुरक्षा चूक मामले में कार्रवाई

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के दिल्ली स्थित आवास में सुरक्षा चूक की घटना पर गृहमंत्री अमित शाह ने राज्य सभा में बताया कि इस बारे में एक उच्च-स्तरीय जाँच बिठा दी गई गई है और तीन सुरक्षाकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.

प्रियंका गांधी के लोधी रोड स्थित बंगले में 25 नवंबर को एक काले रंग की एसवीयू कथित तौर पर बिना अनुमति के प्रवेश कर गई और उसमें बैठे सात लोग सीधे भीतर दाख़िल हो गए और उन्होंने कांग्रेस नेता के साथ तस्वीरें खिंचवाईं.

इस घटना का ब्यौरा देते हुए अमित शाह ने सदन में कहा कि सुरक्षाकर्मियों को ये बताया गया था कि प्रियंका के भाई राहुल गांधी एक काली 'टाटा सफ़ारी एसयूवी' से आने वाले हैं.

मगर उसी समय ऐसी ही एक गाड़ी आ गई जिसमें मेरठ के कुछ कांग्रेस कार्यकर्ता बैठे हुए थे और सुरक्षाकर्मियों ने गफ़लत में उसे बिना सुरक्षा जाँच के जाने दिया.

ये भी पढ़िएः

इमेज कॉपीरइट ANI

जीडीपी आँकड़े पर सवाल उठाने वाले सांसद की सोशल मीडिया पर पाबंदी की मांग

संसद में सोमवार को जीडीपी पर सवालिया निशान उठाने वाले बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने सोशल मीडिया पर अंकुश लगाए जाने की मांग की है.

उनके बयान को लेकर काफ़ी हंगामा मचा था जिसमें उन्होंने कहा था कि जीडीपी को बाइबल, रामायण या महाभारत मान लेना सत्य नहीं है.

इस बयान के बाद संसद में तो हंगामा हुआ ही, सोशल मीडिया पर भी उनकी काफ़ी आलोचना हुई थी.

अब इसके बाद उन्होंने कहा कि संसदीय कार्यवाही पर किसी सांसद को ट्रोल करने का हक़ सोशल मीडिया को नहीं होना चाहिए.

उन्होंने लोक सभा अध्यक्ष को संबोधित करते हुए कहा, "मैं निजी तौर पर आपके जरिए सरकार से आग्रह करना चाहता हूं कि इस तरह की गतिविधियों को रोकने के लिए एक कानून बनाया जाना चाहिए."

ये भी पढ़िएः

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चिदंबरम की ज़मानत अर्ज़ी पर आ सकता है फ़ैसला

आईएनएक्स मीडिया घोटाले के मामले में दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पी चिदंबरम की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को फ़ैसला सुना सकता है.

सुप्रीम कोर्ट में उनके मामले की सुनवाई करने वाली पीठ ने 28 नवंबर को अपना फ़ैसला सुरक्षित रख लिया था.

पूर्व वित्तमंत्री ने गिरफ़्तारी से बचने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में ज़मानत की अर्ज़ी दी थी मगर उसे ठुकरा दिया गया. उन्होंने इसी फ़ैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी.

प्रवर्तन निदेशालय ईडी ने उन्हें 16 अक्तूबर को गिरफ़्तार किया था.

ये भी पढ़िएः

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ट्रंप महाभियोग मामले में काफ़ी मज़बूत सुबूत

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के ख़िलाफ महाभियोग की सुनवाई कर रही अमरीकी कांग्रेस की समिति ने कहा है कि उन्हें इस बात के पर्याप्त सबूत मिले हैं कि राष्ट्रपति ने अपनी ताकत का ग़लत इस्तेमाल किया.

अपनी रिपोर्ट में समिति ने ट्रंप पर गवाहों को डराने और अपने कर्मचारियों को समन की अनदेखी करने के लिए कहा.

समिति के अध्यक्ष ऐडम शिफ़ ने कहा अगर समिति ने उन्हें सज़ा नहीं दी तो वो अपनी ताकत का और ग़लत इस्तेमाल करेंगे.

व्हाइट हाऊस ने महाभियोग की पूरी सुनवाई को एकतरफा बताया है और कहा है कि डेमोक्रेटिक पार्टी उनके ख़िलाफ़ एक भी सबूत इकट्ठा नहीं कर पाई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार