जनगणना के दौरान पूछे जाएंगे स्मार्टफ़ोन और शौचालय से जुड़े सवाल- पाँच बड़ी ख़बरें

  • 10 जनवरी 2020
जनगणना इमेज कॉपीरइट PAL PILLAI/AFP/GETTY IMAGES

नागरिकता संशोधन क़ानून, एनआरसी और एनपीआर को लेकर हो रहे विरोध के बीच जनगणना की प्रक्रिया के दौरान पूछे जाने वाले सवालों को लेकर नोटिफिकेशन ज़ारी हो गया है.

2021 में होने वाली जनगणना से पहले इस साल हाउस-लिस्टिंग ऑपरेशंस (घरेलू कार्यों से संबंधित सूची) के तहत डाटा इकट्ठा किया जाएगा.

इसके लिए कौन-कौन से सवाल पूछे जाएंगे इसकी सूची सभी सेंसस दफ़्तरों को सौंप दी गई है.

इन सवालों में आपके नाम-पते समेत पहली बार स्मार्टफ़ोन, पाइप गैस कनेक्शन और मोबाइल नंबर से जुड़ी जानकारियां भी पूछी जाएंगी.

इनमें टीवी, इंटरनेट, शौचालय, पीने के पानी के स्रोत और गाड़ियों संबंधी जानकारियां भी ली जाएंगी.

साथ ही घर के मालिक का नाम, घर का पता और मकान की स्थिति समेत कई और सवाल भी होंगे.

हालांकि, इस बार बैंकिंग सेवाएं लेने से जुड़ा सवाल हटा दिया गया है.

दो हफ़्ते पहले जनगणना 2021 और एनपीआर के प्रस्ताव को कैबिनेट की मंज़ूरी मिलने के बाद सवालों को लेकर यह अधिसूचना आई है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कश्मीर में पाबंदियों पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फ़ैसला

जम्मू-कश्मीर में संचार माध्यम, इंटरनेट और कई दूसरे प्रतिबंधों को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को फ़ैसला सुनाएगा.

जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस बीआर गवई की तीन जजों की बेंच ने कश्मीर में लॉकडाउन की संवैधानिकता को चुनौती देने वाली याचिकाओं के एक समूह पर 27 नवंबर को फ़ैसला सुरक्षित रख लिया था.

पिछले साल पाँच अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर राज्य को संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत मिलने वाले विशेष दर्जे को ख़त्म कर दिया था और साथ ही राज्य में कई तरह की पाबंदियां लगा दी थीं.

कश्मीर की वरिष्ठ पत्रकार अनुराधा भसीन, कांग्रेस नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद और कुछ अन्य लोगों ने इसके ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

महारानी एलिज़ाबेथ ने मामला सुलझाने के लिए कहा

ब्रिटेन की महारानी एलिज़ाबेथ ने अपने पोते प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी मेगन मर्केल के शाही परिवार की वरिष्ठ सदस्यता से अलग होने के फ़ैसले से पैदा होने वाले हालात को सुलझाने के लिए कहा है.

प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी मेगन मर्केल ने गुरुवार को घोषणा की थी कि वे दोनों शाही परिवार की वरिष्ठ सदस्यता से अलग हो रहे हैं.

कहा जा रहा है कि पूरा शाही परिवार उनके इस फ़ैसले से बहुत दुखी है. इस बीच डचेज़ ऑफ़ ससेक्स मेगन मर्केल कनाडा लौट गई हैं. क्रिसमस के दौरान भी वो दोनों अपने बेटे आर्चि के पास कनाडा में ही थे.

बीबीसी के शाही संवाददाता निकोलस विचेल ने बताया कि महारानी एलिज़ाबेथ ने इस मसले पर प्रिंस ऑफ़ वेल्स और ड्यूक ऑफ़ कैंब्रिज से विचार विमर्श करने के बाद राजघराने के वरिष्ठ अधिकारियों को आदेश दिया कि वो कुछ ही दिनों में इसका कोई हल निकालें.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टाटा-मिस्त्री मामला: सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

साइरस मिस्त्री को टाटा समूह के कार्यकारी चेयरमैन पद पर बहाल करने के एनसीएलएटी के फ़ैसले को चुनौती देने वाली टाटा समूह की याचिका पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी.

एनसीएलएटी यानी राष्ट्रीय कंपनी विधि अपील अधिकरण ने 18 दिसंबर को फ़ैसला दिया था कि साइरस मिस्त्री को टाटा समूह के चेयरमैन पद पर दोबारा बहाल किया जाए. एनसीएलएटी ने अपने आदेश में ये भी कहा था कि 110 अरब डॉलर की टाटा समूह की कंपनियों के प्रमुख के रूप में एन चंद्रशेखरन की नियुक्ति ग़ैर-क़ानूनी थी.

हालांकि, मिस्त्री ने कहा था कि वो टाटा समूह में दोबारा जाने की इच्छा नहीं रखते. उन्होंने बयान जारी कर कहा था, ''इस मामले में ग़लत जानकारियों को ख़ारिज करने के लिए मैं साफ़ कहना चाहता हूं कि अधिकरण का फ़ैसला मेरे हक़ में आने के बावजूद मैं टाटा संस के कार्यकारी चेयरमैन के पद पर दावा नहीं करुंगा.''

इमेज कॉपीरइट Reuters

भारत और श्रीलंका आख़िरी टी-20 मुक़ाबला

शुक्रवार को पुणे में भारत और श्रीलंका के बीच सिरीज़ का तीसरा और आख़िरी टी-20 मैच खेला जाएगा. भारतीय समयानुसार शाम सात बजे से मैच खेला जाएगा.

भारत ने मंगलवार को दूसरा मैच सात विकेट से जीतकर सिरीज़ में 1-0 की बढ़त ले ली थी जबकि गोवाहाटी में खेला गया पहला मैच रद्द हो गया था.

ऐसे में सबकी निगाहें इस बात पर टिकी हैं कि श्रीलंका ये मैच जीतकर सिरीज़ बराबर कर लेगा या भारत 2-0 से सिरीज़ जीतकर अपने समर्थकों को नए साल का तोहफ़ा देगा.

टीम में कोई बदलाव होगा या नहीं, कहना मुश्किल है लेकिन इस बात के क़यास लगाए जा रहे हैं कि कप्तान विराट कोहली मुंबई के युवा ऑलराउंडर शिवम दुबे की जगह रवींद्र जडेजा को मौक़ा दे सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार