मिलिंद देवरा कांग्रेस के लिए किरकिरी क्यों बने

  • 17 फरवरी 2020
मिलिंद देवरा इमेज कॉपीरइट Getty Images

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की जीत को लेकर कांग्रेस नेता मिलिंद देवरा अपनी ही पार्टी को निशाने पर ले रहे थे. यहां तक कि वो सोशल मीडिया पर अजय माकन से भिड़ गए थे. अब उन्हें पार्टी से नसीहत मिली है.

दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में बिना मिलिंद देवरा का नाम लिए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, "राज्य से बाहर के कांग्रेस नेताओं को अपनी ख़ुद की भूमिका के बारे में सोचना चाहिए कि उन्होंने क्या किया है, उनका प्रदर्शन कैसा रहा है, उन्हें अपनी ज़िम्मेदारी के बारे में सोचना चाहिए. ये भी सोचना चाहिए कि उन्होंने अपना राज्य और अपने क्षेत्र में क्या किया है."

मुंबई कांग्रेस के पूर्व प्रमुख मिलिंद देवरा ने हाल के महीनों में कांग्रेस को लेकर कई टिप्पणियाँ की हैं.

रविवार को अरविंद केजरीवाल के तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद मिलिंद देवरा ने ट्विटर पर लिखा- एक स्वागत योग्य तथ्य शेयर कर रहा हूँ, जिसके बारे में कम जानकारी है. अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार ने अपना राजस्व दोगुना करके 60 हज़ार करोड़ कर लिया है. साथ ही पाँच सालों में राजस्व को सरप्लस में रखा है. सोचने वाली जानकारी. दिल्ली अब भारत की वैसी सरकारों में शामिल है, जो राजस्व का बुद्धिमानी से इस्तेमाल करती है.

लेकिन उनका ये ट्वीट पार्टी नेता अजय माकन को अच्छा नहीं लगा. उन्होंने जवाब में लिखा- भाई, अगर आप कांग्रेस छोड़ना चाहते हैं, तो अधकचरे तथ्य परोसने से बेहतर है कि पार्टी छोड़ दीजिए. साथ ही अजय माकन ने भी कुछ तथ्य शेयर किए.

इमेज कॉपीरइट PTI

लेकिन मामला यहीं नहीं रुका. मिलिंद देवरा ने जवाब में ट्वीट किया- भाई, मैं दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में शीला दीक्षित के शानदार प्रदर्शन की अनदेखी कभी नहीं करूँगा. ये आपकी ख़ासियत है. लेकिन बदलाव के लिए अब भी देर नहीं हुई है. आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के बजाय अगर आप शीला जी की उपलब्धियों पर रोशनी डालते, तो आज कांग्रेस पार्टी दिल्ली की सत्ता में होती.

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद भी मिलिंद देवरा ने अरविंद केजरीवाल को बधाई देते हुए ट्वीट किया था. वैसे पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने भी आप की जीत पर बधाई दी थी.

लेकिन कई कांग्रेसी नेताओं ने इसकी आलोचना की थी. कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको की भी मिलिंद देवरा ने आलोचना की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार