बीजेपी विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी समेत सात लोगों के ख़िलाफ़ गैंगरेप का केस दर्ज

  • 19 फरवरी 2020
भदोही के एसपी

उत्तर प्रदेश के भदोही से बीजेपी विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी समेत उनके परिवार के छह लोगों पर एक महिला के साथ गैंगरेप का केस दर्ज किया गया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार भाजपा विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी के साथ ही उनके तीन बेटों व भतीजों पर भी गैंगरेप का केस दर्ज किया गया है.

भदोही के पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बताया कि वाराणसी की एक महिला ने दो अलग-अलग शिकायतों में विधायक और कुछ अन्य लोगों पर रेप का आरोप लगाया था.

पुलिस के अनुसार उन सभी पर मुक़दमा दर्ज किया गया है.

इमेज कॉपीरइट BJP

वाराणसी की एक महिला ने 10 फ़रवरी को आरोप लगाया था कि यूपी में विधानसभा चुनाव(2017) के दौरान विधायक और उनके रिश्तेदारों ने भदोही के एक होटल में क़रीब एक महीने तक उनका बलात्कार किया था.

महिला ने शिकायत में पहले विधायक के भतीजे संदीप त्रिपाठी पर आरोप लगाया था. महिला के अनुसार संदीप ने शादी का झांसा देकर रेप किया और फिर शादी का दबाव बनाने पर विधायक और उनके रिश्तेदारों ने भी रेप किया.

महिला के आरोप पर भदोही कोतवाली में सात लोगों के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया गया है. रविंद्रनाथ त्रिपाठी, उनके तीन बेटों नीलेश, प्रकाश, दीपक व भतीजों पर गैंगरेप का केस दर्ज किया गया है.

चुनाव बाद केजरीवाल और अमित शाह की पहली मुलाक़ात

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को भारत के गृह मंत्री अमित शाह से मुलाक़ात की.

तीसरी बार दिल्ली का मुख्यमंत्री चुने जाने के बाद केजरीवाल की अमित शाह से यह पहली मुलाक़ात थी जो शाह के घर पर हुई.

इमेज कॉपीरइट ANI

इस मुलाक़ात के बाद अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा, "अमित शाह जी से मुलाक़ात अच्छी रही. दिल्ली से संबंधित कई मुद्दों पर उनसे चर्चा हुई. हम दोनों में इस बात पर सहमति बनी है कि दिल्ली के विकास के लिए हम साथ मिलकर काम करेंगे."

इस संक्षिप्त मुलाक़ात के बाद केजरीवाल ने प्रेस वार्ता भी की जिसमें उन्होंने कहा कि 'केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच सही तालमेल बनाने की हमारी पूरी कोशिश रहेगी. हम चाहते हैं दिल्ली के विकास के लिए सब मिलकर काम करें.'

इमेज कॉपीरइट AAP

शाहीन बाग़ के विषय पर पूछे जाने पर केजरीवाल ने कहा, "शाहीन बाग़ के प्रदर्शन को लेकर हमारी कोई बात नहीं हुई."

नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ चेन्नई में बड़ा प्रदर्शन

बुधवार को तमिलनाडु के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ प्रदर्शन हुए हैं.

राजधानी चेन्नई में हज़ारों प्रदर्शनकारियों की भीड़ सड़कों पर निकली. इनमें अधिकतर मुसलमान थे. मुस्लिम संगठनों ने ये प्रदर्शन बुलाया हैं.

राजधानी के चेपक इलाक़े में सीएए, एनपीआर और एनआरसी के विरोध में बैनर थामें लोगों ने बड़ा प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों की योजना विधानसभा का घेराव करने की थी.

प्रदर्शन में बड़ी तादाद में मुस्लिम महिलाएं भी शामिल हुई हैं.

मंगलवार को मद्रास हाई कोर्ट ने प्रदर्शनकारियों के विधानसभा का घेराव करने पर रोक लगा दी थी.

इन प्रदर्शनों के मद्देनज़र सुरक्षा के भी कड़े इंतज़ाम किए गए और ट्रैफ़िक भी बुरी तरह प्रभावित हुआ.

राजधानी चेन्नई के अलावा मुदरै और तीरूनेलवेल्ली में भी बड़ा प्रदर्शन हुआ है.

जेएनयू देशद्रोह मामले में अदालत ने दिल्ली सरकार से जवाब मांगा

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी देशद्रोह मामले में अदालत ने दिल्ली सरकार से कहा है कि वह तीन अप्रैल तक अदालत में स्टेटस रिपोर्ट दायर करे.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने अदालत को बताया है कि उसे अभी तक दिल्ली सरकार से केस चलाने की अनुमति नहीं मिली है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

2016 में जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई कथित देश विरोधी नारेबाज़ी के संबंध में दिल्ली पुलिस ने कन्हैया कुमार समेत कई छात्रों पर देशद्रोह की धाराओं में मुक़दमा दर्ज किया था.

वहीं बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली सरकार पर निशाना साधा है.

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, "आप सरकार टुकड़े-टुकड़े गैंग का बचाव कर रही है. मेरी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से अपील है कि चुनावों के लिए राष्ट्रवादी तमगा लगाना काफ़ी नहीं है. आपके काम भी बोलने चाहिए. जेएनयू देशद्रोह मामले में कन्हैया कुमार और कंपनी पर मुक़दमा चलाने की तुरंत अनुमति दें."

जज ने दिल्ली पुलिस से ये भी कहा है कि वह इस मामले में दिल्ली सरकार को रिमाइंडर नोटिस दे. इस मामले में अगली सुनवाई अब तीन अप्रैल को होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए