कांग्रेस सांसद ने बीजेपी नेता पर लगाया सदन के भीतर 'मारपीट' का आरोप: प्रेस रिव्यू

कांग्रेसी सांसद राम्या हरिदास, एक अन्य कांग्रेसी सांसद ज्योतिमनी के साथ

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

कांग्रेसी सांसद राम्या हरिदास, एक अन्य कांग्रेसी सांसद ज्योतिमनी के साथ

कांग्रेस की एक महिला सांसद ने बीजेपी की नेता पर सदन के भीतर 'मारपीट' का आरोप लगाया. उनका इस आरोप के नाते को द हिंदू अख़बार ने प्रकाशित किया है.

अख़बार के मुताबिक, राम्या हरिदास केरल से कांग्रेस की सांसद हैं. सोमवार को उन्होंने बीजेपी के नेता जसकौर मीणा पर आरोप लगाया कि मीणा ने लोकसभा के भीतर उन पर शारीरिक हमला किया.

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि क्योंकि वो एक दलित हैं इसलिए वो हमेशा निशाने पर रही हैं. इस घटना के बाद वो बेहद सदमे में नज़र आई, यहां तक की वो लोकसभा में ही रो भी पड़ीं.

हरिदास से हुई बातचीत के हवाले से अख़बार ने लिखा है "स्लोगन बोलना और वेल तक मार्च करना हाउस में एक ऐसी संसदीय रणनीति है जिसका प्रयोग विपक्ष अपना असहमति के प्रदर्शन के लिए करता है. हम कुछ भी अलग नहीं कर रहे थे."

इमेज स्रोत, INCIndia/twitter

वो आगे कहती हैं "मैं उस समय सकते में आ गई जब किसी ने पीछे से मेरे कंधे पर धक्का दिया. हम कम से कम ये उम्मीद तो नहीं करते हैं कि सदन के भीतर भी ऐसा कुछ होगा. यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है."

इस घटना के बाद हरिदास ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला से मिलकर शिकायत भी की है.

सारा अब्दुल्ला पायलट की याचिका पर सुनवाई पांच मार्च को

इमेज स्रोत, Getty Images

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को कहा कि वह नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला की जन सुरक्षा क़ानून के तहत नज़रबंदी को चुनौती देने वाली सारा अब्दुल्ला पायलट की याचिका पर पांच मार्च को सुनवाई करेगा.

हालांकि इस मामले में अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल की ओर से दलील दी गई थी कि नज़रबंदी के मामले में याचिकाकर्ता को पहले हाई कोर्ट जाना चाहिए लेकिन जस्टिस अरुण मिश्रा की बेंच ने इस पर कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं दी.

जम्मू-कश्मीर के पूर्व तीन मुख्यमंत्री फ़ारूख़ अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ़्ती को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही हिरासत में रखा गया है.

इन तीनों के अलावा जम्मू-कश्मीर के दर्जनों अन्य नेता भी हिरासत में हैं. सरकार ने इन्हें हिरासत में रखे जाने के पीछे क्षेत्र की शांति-व्यवस्था का हवाला दिया है.

नेशनल कॉन्फ़्रेंस के फ़ारूख़ और उमर अब्दुल्ला और पीडीपी की नेता महबूबा मुफ़्ती को पब्लिक सेफ़्टी एक्ट (पीएसए) के तहत हिरासत में रखा गया है. इस ख़बर को हिंदुस्तान टाइम्स अख़बार ने प्रकाशित किया है.

इमेज स्रोत, Getty Images

कोरोना वायरस से प्रभावित हो रही है भारतीय अर्थव्यवस्था

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस का संक्रमण अब दुनिया के अलग-अलग 40 से अधिक देशों में पहुंच चुका है. कोरोना वायरस की वजह से चीन की अर्थव्यवस्था तो प्रभावित हो ही रही है लेकिन अब इसका असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी नज़र आने लगा है.

पर्चेज़िंग मैनेजर्स इंडेक्स फरवरी महीने में 54.5 पर रहा. यह आंकड़ा जनवरी के मुकाबले कम है. जनवरी में यह आंकड़ा 55.3 पर था. वैश्विक अर्थव्यवस्था पर नज़र रखने वाले आर्थिक सहयोग और विकास संगठन का कहना है कि दुनिया के कई देशो में कोरोना वायरस पहुंच चुका है जिसका असर पहली तिमाही में वैश्विक अर्थव्यवस्था में गिरावट के तौर पर भी नज़र आ सकता है.

भारत के संदर्भ में बात करें तो इसकी वजह से सबसे अधिक असर फ़ार्मास्युटिकल्स, शिपिंग, ऑटोमोबाइल, मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक्स सेक्टर पर देखने को मिल सकता है. इस ख़बर को हिंदुस्तान अख़बार ने प्रमुखता से छापा है.

इमेज स्रोत, Getty Images

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर 15 मार्च को करेंगे नई पार्टी का एलान

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर उर्फ़ रावण आने वाली 15 तारीख़ को अपनी नई पार्टी की घोषणा कर सकते हैं.

नवभारत टाइम्स ने इस ख़बर को अपने राजनीति पेज पर प्रकाशित किया है. अख़बार के मुताबिक़, नई पार्टी में प्रोफ़ेशनल लोगों की भी भागीदारी होगी. उम्मीद की जा रही है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई पुराने और मशहूर राजनेता भी उनकी पार्टी में शामिल हो सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)