पीएम मोदी और उनके विचारों ने भारतीय अर्थव्यवस्था को ख़त्म किया: राहुल गांधी

यस बैंक

इमेज स्रोत, Getty Images

कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने यस बैंक के संकट पर नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है.

उन्होंने ट्वीट किया है, "यस बैंक नहीं रहा. मोदी और उनके विचारों ने भारतीय अर्थव्यवस्था को ख़त्म कर दिया है."

भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने यस बैंक के संकट पर प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा है कि संकट दूर करने की कोशिश की जा रही है.

उन्होंने यह भी कहा कि 30 दिनों की सीमा अधिकतम सीमा है, उससे पहले ही यह संकट दूर हो जाएगा.

अर्थव्यवस्था में धीमापन, डॉलर के मुक़ाबले रुपये में कमज़ोरी, कोरोना वायरस की दुनियाभर में दहशत से सहमे शेयर बाज़ारों के लिए एक और बुरी ख़बर आई और वो थी यस बैंक के ग्राहकों के लिए जमा राशि निकालने पर लगाई गई शर्त.

रिज़र्व बैंक ने यस बैंक पर जमा राशि के निकालने की सीमा तय कर दी है. अगले 30 दिनों में ग्राहक सिर्फ़ 50 हज़ार रुपये की राशि ही निकाल सकते हैं, हालाँकि मेडिकल और कुछ ख़ास स्थितियों में इस सीमा से छूट दी गई है.

शुक्रवार को शेयर बाज़ार खुलते ही धड़ाम हो गया और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बाज़ार खुलते ही करीब 1200 अंक लुढ़क गया. यस बैंक का शेयर तो करीब 50 फ़ीसदी टूटा गया.

यूनाइटेड बैंक, कॉर्पोरेशन बैंक , आरबीएल बैंक के शेयर भी 15 फ़ीसदी से अधिक टूट गए. स्टेट बैंक, पीएनबी जैसे सरकारी बैंकों के शेयरों की भी पिटाई हुई. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के सूचकांक निफ्टी के 50 में 36 शेयर नुकसान में हैं, जबकि सिर्फ़ 14 शेयर ही मुनाफ़े में कामकाज कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)