जयपुर के बाद अब झांसी पहुंचा टिड्डी दल

राजस्थान में टिड्डी दल

इमेज स्रोत, NurPhoto

राजस्थान और मध्य प्रदेश के कई इलाक़ों में फ़सलें चट करने के बाद अब टिड्डी दल उत्तर प्रदेश के झांसी में दाख़िल हो गया है.

झांसी के ज़िलाधिकारी आंद्रा वामसी ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा है, "टिड्डी दल राजस्थान से झांसी पहुंचा है. हमने देखा है कि ये दल नदी के आसपास ज़्यादा सक्रिय है. सोया और सब्ज़ियों की फ़सलों को नुक़सान पहुंचा रहा है."

केंद्र सरकार के संगठन टिड्डी दल चेतावनी संस्थान यानी लोकस्ट वार्निंग ऑर्गेनाइज़ेशन ने टिड्डी-दल के एक और हमले की चेतावनी दी है.

इमेज स्रोत, NurPhoto

इस साल भारत में टिड्डी दल का पहला हमला राजस्थान के गंगानगर में 11 अप्रैल को हुआ था. ये टिड्डियां पाकिस्तान से भारत में दाख़िल हुईं थीं.

वहीं राजस्थान के जयपुर और आसपास के इलाक़ों में भी टिड्डी दल ने नुक़सान पहुंचाया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को जयपुर के कुछ रिहायशी इलाक़ों में भी टिड्डी दल ने हमला किया.

इमेज स्रोत, Vishal Bhatnagar/NurPhoto via Getty Images

आमतौर पर टिड्डी दल पश्चिमी राजस्थान के ज़िलों को प्रभावित करते हैं. लेकिन इस बार ये जयपुर और उससे आगे तक पहुंच गए हैं.

एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि इस समय खड़ी फ़सले न होने की वजह से राजस्थान में टिड्डी दल ने पेड़ों को नुकसान पहुंचाया है.

इमेज स्रोत, SAM PANTHAKY/AFP/Getty

जयपुर के मुरलीपुरा और विद्यासागर नगर इलाक़ों में दीवारों और पेड़ों पर बैठी टिड्डियों को भगाने के लिए लोगों ने थालियां पीटीं.

ये टिड्डीतल नागौर से रविवार को जयपुर पहुंचा था. इसके बाद सोमवार को दौसा की ओर निकल गया था. अब ये झांसी के आसपास है.

इमेज स्रोत, SAM PANTHAKY/AFP/Getty

राजस्थान के कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है और किसानों से मुलाक़ात की है.

कृषि विभाग के निदेशक के मुताबिक 200 टीमें इस टिड्डी दल पर निगरानी रखे हुए हैं.

टिड्डी दल के ख़िलाफ़ अभियान में अग्निशमन दल का भी इस्तेमाल किया गया है.

इमेज स्रोत, Vishal Bhatnagar/NurPhoto via Getty Images

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)