शाह फ़ैसल: UPSC टॉपर, IAS छोड़ कश्मीर में पार्टी बनाई, अब पार्टी भी छोड़ी

शाह फ़ैसल

यूपीएससी टॉपर और जम्मू कश्मीर के पूर्व आईएएस अधिकारी शाह फ़ैसल ने राजनीतिक पार्टी जम्मू-कश्मीर पीपल्स मूवमेंट (जेकेपीएम) के अध्यक्ष पद से इस्तीफ़ा दे दिया है.

जम्मू-कश्मीर से साल 2009 में सिविल सेवा परीक्षा टॉप करने वाले फै़सल ने जनवरी, 2019 में कश्मीर में हिंसा के कारण हो रही हत्याओं के विरोध में अपने पद से इस्तीफ़ा देने का ऐलान किया था.

इसके दो महीने बाद उन्होंने राजनीति में क़दम रखते हुए जम्मू-कश्मीर पीपल्स मूवमेंट (जेकेपीएम) का गठन किया है.

लेकिन अब उनकी पार्टी ने बताया है कि उन्होंने पार्टी प्रमुख पद से इस्तीफ़ा दे दिया है.

शाह फ़ैसल ने इसका संकेत रविवार को ही दे दिया था, जब उन्होंने अपने ट्विटर एकाउंट के जेकेएमपी का जिक्र हटाया था.

हालांकि राजनीति छोड़ने के मुद्दे पर अब तक उनका कोई कमेंट नहीं आया है.

सोमवार को जेकेएमपी की कार्यकारी समिति की ऑनलाइन मीटिंग में शाह फ़ैसल ने अपनी राजनीतिक ज़िम्मेदारियों से मुक्त करने का अनुरोध किया.

पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि शाह फ़ैसल ने कार्यकारी समिति से कहा कि वे राजनीतिक गतिविधियों को जारी रखने की स्थिति में नहीं हैं.

पार्टी की ओर से कहा गया है कि शाह फ़ैसल के अनुरोध का ध्यान में रखते हुए उनका इस्तीफ़ा स्वीकार कर लिया गया है ताकि शाह फ़ैसल अपनी इच्छा के मुताबिक अपना जीवन चुन सकें.

हालांकि शाह फ़ैसल ने आईएएस से इस्तीफ़ा देने के बाद बीबीसी से ख़ास बातचीत में कहा था कि वे कश्मीर की राजनीति का हिस्सा बनाना चाहते हैं.

जेकेएमपी ने अपने बयान में यह भी कहा है कि निर्विरोध रूप से पार्टी के उपाध्यक्ष फ़िरोज़ पीरज़ादा को पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष पद की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है, वे अध्यक्ष पद के चुनाव तक इस ज़िम्मेदारी को निभाएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)