कानपुर में कथित धर्म परिवर्तन के बाद शादी के आरोपों की एसआईटी करेगी जांच

  • समीरात्मज मिश्र
  • बीबीसी हिन्दी के लिए
फ़ैसल और शालिनी

इमेज स्रोत, Samiratmaj Mishra

इमेज कैप्शन,

फ़ैसल और शालिनी

कानपुर में कथित तौर पर लड़कियों का धर्म परिवर्तन करके शादी करने के आरोपों की जांच के लिए पुलिस एसआईटी बनाने जा रही है. बजरंग दल समेत कुछ संगठन इन मामलों को 'लव जिहाद' बताते हुए विरोध कर रहे हैं.

सोमवार को इस मामले में कुछ लड़कियों के परिजनों ने कानपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल से मुलाक़ात की जिसके बाद आईजी ने मामले की जांच के लिए क्षेत्राधिकारी स्तर के अधिकारी के नेतृत्व में एसआईटी बनाने की बात कही.

आईजी मोहित अग्रवाल का कहना था कि यदि कोई दोषी पाया जाता है तो उसके ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

अधिकारियों के अनुसार कानपुर के बर्रा इलाक़े की एक युवती शालिनी यादव ने पिछले महीने कानपुर के ही मोहम्मद फ़ैसल नाम के युवक से शादी कर ली थी.

शादी के बाद शालिनी के परिजनों ने फ़ैसल के ख़िलाफ़ बेटी के अपहरण की रिपोर्ट लिखवाई थी.

लड़की का कहना, उसने मर्ज़ी से शादीकी

इमेज स्रोत, Samiratmaj Mishra

इमेज कैप्शन,

बजरंग दल ने किया था प्रदर्शन

लेकिन इसी बीच, शालिनी और फ़ैसल ने वीडियो जारी कर अपनी मर्ज़ी से शादी की बात कही और पुलिस से अपील की कि वो उन्हें या उनके परिजनों को परेशान न करें. वीडियो में शालिनी ने यह भी बताया है कि उसने अपनी मर्ज़ी से धर्म परिवर्तन करके फ़ातिमा नाम रख लिया है.

लेकिन शालिनी यादव के परिजनों का आरोप है कि युवक उसे बहकाकर ले गया है.

शालिनी यादव के भाई विकास यादव ने बीबीसी को बताया, "मेरी बहन को भगाकर ले जाया गया है. वह घर से दस लाख रुपये भी ले गई है. अब युवक उसे धमकाकर वीडियो जारी करा रहा है. यदि उसने अपनी मर्ज़ी से शादी की है तो उसे अदालत में आकर बयान देना चाहिए. बहन ने मां को फ़ोन कर सारी बातें बताई हैं."

विकास यादव का कहना है कि शालिनी ने मां से फ़ोन पर बात की और ख़ुद को बचाने की अपील की.

हालांकि वीडियो में शालिनी यह भी कह रही हैं कि वह दिल्ली में पुलिस के सामने बयान दर्ज करा चुकी हैं.

एक और मामला

इमेज स्रोत, Samiratmaj Mishra

इमेज कैप्शन,

कानपुर परिक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल

छोड़कर पॉडकास्ट आगे बढ़ें
पॉडकास्ट
दिन भर

वो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ख़बरें जो दिनभर सुर्खियां बनीं.

ड्रामा क्वीन

समाप्त

इस बीच, कानपुर में ही पनकी के रहने वाले एक अन्य व्यक्ति ने भी आरोप लगाया है कि उनकी बेटी का भी कथित तौर पर ब्रेनवॉश करके धर्म-परिवर्तन के बाद शादी कराने की कोशिश की गई, लेकिन ऐसा हो नहीं सका.

सोमवार को कानपुर परिक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल से ऐसे ही पांच लड़कियों के परिजन मिले और सभी ने एक जैसी बातें बताईं.

आईजी मोहित अग्रवाल कहते हैं, "पांच लड़कियों के परिजन हमसे सोमवार को मिले थे. इनका आरोप है कि युवकों ने इनकी बेटियों से प्यार करने के बाद धर्म बदलकर निकाह किया है. इनका आरोप है कि सभी लड़के कानपुर के एक ही इलाक़े से जुड़े हैं और उनका इस तरह का पूरा गैंग है. इन सारे मामलों की जांच के लिए एसआईटी बनाई जा रही है."

वहीं इस मामले को लेकर बजरंग दल ने क़िदवई नगर थाने पर प्रदर्शन किया और थाने का घेराव किया.

कानपुर में बजरंग दल के दिलीप सिंह बजरंगी इसे 'लव जिहाद' बताते हुए इसे एक सोचा-समझा षड्यंत्र कहते हैं.

दिलीप सिंह कहते हैं, ''ये लोग ब्रेन वॉश करते हैं और हिन्दुओं से मिलते-जुलते नाम रखकर उन्हें अपने जाल में फँसाते हैं. कानपुर में लगातार जो मामले आ रहे हैं, वो प्रेम प्रंसग के मामले नहीं हैं बल्कि सीधे तौर पर लव जिहाद हैं."

मुख्यमंत्री के सलाहकार का ट्वीट

इमेज स्रोत, @shalabhmani

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने भी इस मामले में कई ट्वीट किए और सवाल उठाया है कि यह 'लव जिहाद' नहीं तो और क्या है.

ट्वीट में शलभमणि त्रिपाठी लिखते हैं, "परीक्षा देने के बहाने निकली कानपुर की शालिनी यादव ने पहले धर्म बदला, फिर फ़ैसल से निकाह कर लिया. सवाल ये कि धर्म बदलने की क्या ज़रूरत, धर्म शालिनी यादव ने ही क्यूँ बदला, फ़ैसल ने क्यूं नहीं, तभी तो कहते हैं, ये लव नहीं, ये है लव जेहाद. तथाकथित प्रबुद्धों को मेरी बात से मिर्ची लगेगी, तो लगे."

बर्रा की रहने वाली शालिनी यादव गत 29 जून को परीक्षा के बहाने घर से चली गई थीं. वीडियो में यह बात शालिनी ने ख़ुद बताई है.

शालिनी का दावा है कि वो फ़ैसल को पिछले छह साल से जानती हैं और उसने ग़ाज़ियाबाद में उनसे शादी कर ली है. लेकिन परिजन इस दावे को ख़ारिज करते हैं.

वहीं फ़ैसल के परिजन इस पूरे मामले में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं और बताया जा रहा है कि वो लोग इस समय अपने घर पर मौजूद भी नहीं हैं.

शालिनी यादव ने वीडियो में इस बात पर भी आपत्ति जताई है कि वो बालिग़ हैं और उन्होंने अपनी मर्ज़ी से शादी की है फिर भी लोग धर्म से जोड़कर इस पर आपत्ति जता रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)