पुडुचेरी चुनाव: केंद्र शासित राज्य में कितनी विधानसभा सीटों पर चुनाव

पुदुचेरी विधानसभा चुनाव के बारे में जानिए सब कुछ

इमेज स्रोत, ARUN SANKAR/AFP via Getty Images

चार राज्यों के साथ-साथ एक केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में भी आने वाले दिनों में विधानसभा चुनाव होना है.

पुडुचेरी एक केंद्र शासित प्रदेश है, जिसकी एक विधानसभा है. इस केंद्र शासित प्रदेश में एक चुना हुआ मुख्यमंत्री और एक मनोनीत उपराज्यपाल होता है.

बीते 22 फरवरी तक वी नारायणसामी पुडुचेरी के 10वें मुख्यमंत्री थे, ज़िन्हें फ्लोर टेस्ट से पहले इस्तीफ़ा देना पड़ा था.

वहीं पूर्व आईपीएस अफ़सर और बीजेपी नेता किरण बेदी को उपराज्यपाल के पद से हटाकर तेलंगाना के राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन को इस केंद्र शासित प्रदेश का अतिरिक्त प्रभार दे दिया गया.

पुडुचेरी में चुनाव कब हैं?

पुडुचेरी विधानसभा के लिए छह अप्रैल 2021 को एक चरण में चुनाव होना है. कोविड महामारी को देखते हुए इस बार मतदान का समय एक घंटे के लिए बढ़ाया गया है.

पुडुचेरी चुनाव के नतीजे कब आएंगे?

चार राज्यों की तरह ही पुडुचेरी में भी चुनाव नतीजे 2 मई को आएंगे.

पुडुचेरी में कितनी सीटों पर चुनाव हो रहे हैं?

पुडुचेरी विधानसभा में कुल 33 सीटें हैं. तीन मनोनीत हैं और बाक़ी पर सीधे चुनाव होता है. 30 में से पांच सीटें अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं.

वीडियो कैप्शन,

बंगाल चुनाव: वामपंथी दल किस हाल में हैं और क्या है चुनावी रणनीति?

पुडुचेरी विधान सभा चुनाव में कौन-सी पार्टियां मैदान में हैं?

कांग्रेस की नज़र इस केंद्र शासित प्रदेश में सत्ता दोबारा हासिल करने पर है. कांग्रेस ये चुनाव डीएमके के साथ गठबंधन में लड़ रही है. इस गठबंधन में कुछ छोटी पार्टियां भी हैं. जिनमें वाम दल भी शामिल हैं.

वहीं बीजेपी ने ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस, डीएमके की प्रतिद्वंद्वी एआईएडीएमके और कुछ छोटे दलों के साथ गठबंधन किया हुआ है.

अभिनेता से नेता बने कमल हासन और उनकी पार्टी मक्कल नीदि मय्यम (एमएनएम) भी चुनाव में किस्मत आज़मा रही है.

एक तमिल राष्ट्रवादी पार्टी, नाम तमलीर काची भी मैदान में है.

पुडुचेरी में कितने वोटर हैं?

चुनाव आयोग के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक़, पुडुचेरी की 30 विधानसभा सीटों पर 10,03,681 पंजीकृत मतदाता हैं. जिनमें से 4,72,736 पुरुष और 5,30,828 महिला मतदाता हैं. साथ ही 117 थर्ड जेंडर मतदाता हैं. सभी विधानसभा क्षेत्रों में महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज़्यादा है.

पुडुचेरी में कितने चरण में चुनाव होगा?

पुडुचेरी में एक चरण में छह अप्रैल 2021 को चुनाव होगा.

चुनाव में जीत कैसे तय होगी?

पुडुचेरी में सरकार बनाने के लिए कम से कम 16 सीटें जीतकर बहुमत हासिल करना होगा. यानी पुडुचेरी में जीत का जादुई आंकड़ा है 16.

वीडियो कैप्शन,

महुआ मोइत्रा ने बताया पश्चिम बंगाल में चुनाव से पहले क्या चल रहा है

मुख्य उम्मीदवार और निर्वाचन क्षेत्र कौन-से हैं?

ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व वाला गठबंधन (बीजेपी, एआईएडीएमके)

एन रंगास्वामी (एनआर कांग्रेस) - तट्टनचावडी और यानम

वी सामीनाथन (बीजेपी) - लॉसपेट

ए नम:शिवायम् (बीजेपी) - मन्नादिपेट

ए जॉन कुमार (बीजेपी) - कामराज नागर

कांग्रेस के नेतृत्व वाला गठबंधन (जिसमें डीएमके भी शामिल है)

एवी सुब्रमणियम - कराईकल

चुनाव के प्रमुख मुद्दे क्या हैं?

इस बार के पुडुचेरी चुनाव के मुख्य मुद्दे हैं, कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्व सरकार के ख़िलाफ़ सत्ता विरोधी लहर और मुख्यमंत्री वी नारायणसामी और उपराज्यपाल किरण बेदी की खींचतान.

पुडुचेरी के पिछले चुनाव में क्या हुआ था?

2016 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 15 सीटें जीती थीं. वहीं ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस ने आठ सीटें, एआईएडीएमके ने चार, डीएमके को दो सीटें मिली थीं. वहीं बीजेपी एक भी सीट नहीं जीत पाई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)