Forbes List 2021: हर 17 घंटे में एक नए अरबपति की एंट्री

किम कर्दाशियां

इमेज स्रोत, Reuters

इमेज कैप्शन,

इस लिस्ट में जिस नाम ने सबको आकर्षित किया है, वो हैं किम कर्दाशियां वेस्ट

एक तरफ़ जब दुनिया कोरोना महामारी से हुई तबाही से जूझ रही थी तो उसी दौर में अरबपतियों की एक नई नस्ल 'कुकुरमुत्ते' की तरह पनप रही थी.

फ़ोर्ब्स मैगज़ीन की मंगलवार को जारी की गई दुनिया के सबसे दौलतमंद लोगों की सालाना लिस्ट में इन्हें शामिल किया गया है.

ये लिस्ट हमें बताती है कि टेस्ला के मालिक एलन मस्क कितनी तेज़ी से तरक़्क़ी की सीढ़ियां चढ़ रहे हैं और किम कर्दाशियां ने भी इस फ़हरिस्त में जगह बनाई है.

फ़ोर्ब्स मैगज़ीन के एडिटर ए डोलान कहते हैं, "महामारी के बावजूद दुनिया के सबसे रईस लोगों के लिए ये साल एक रिकॉर्ड की तरह रहा है. इस दौर में उनकी दौलत में पाँच खरब डॉलर का इज़ाफ़ा हुआ और नए अरबपतियों की संख्या में अभूतपूर्व वृद्धि देखी गई."

दुनिया भर के 2755 लोग इस लिस्ट में शामिल किए गए हैं और इसकी कुछ ख़ास बातें इस तरह से हैं.

इमेज स्रोत, Getty Images

इमेज कैप्शन,

फोर्ब्स की लिस्ट में पहली महिला 17वें नंबर पर हैं. वो हैं वालमार्ट के संस्थापक की एकलौती बेटी एलिस वॉल्टन

फ़ोर्ब्स लिस्ट की ख़ास बातें

  • फ़ोर्ब्स की सालाना लिस्ट में एक अरब डॉलर से ज़्यादा की दौलत रखने वाले लोगों की संख्या बेतहाशा बढ़ी है.
  • साल 2021 में 2755 लोग इस लिस्ट में जगह बना पाने में कामयाब हुए हैं जो पिछले साल की संख्या से 600 ज़्यादा थी.
  • लिस्ट में जगह पाने वाले सभी लोगों की पूरी दौलत को मिला दें तो ये 13.1 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर के बराबर बनती है. साल 2020 की लिस्ट से ये 8 खरब डॉलर ज़्यादा है.
  • इनमें से 86 फ़ीसद लोगों ने कोरोना महामारी के दौर में अपनी आर्थिक हैसियत को और बेहतर किया.
  • फ़ोर्ब्स मैगज़ीन ने इस ओर ध्यान दिलाया है कि साल 2021 की लिस्ट में 493 नए नाम जोड़े गए हैं. यानी प्रत्येक 17 घंटे पर एक नया अरबपति.
  • इन नए लोगों में 210 चीन के हैं जबकि 98 अमेरिका से.

इमेज स्रोत, Reuters

छोड़कर पॉडकास्ट आगे बढ़ें
पॉडकास्ट
बात सरहद पार

दो देश,दो शख़्सियतें और ढेर सारी बातें. आज़ादी और बँटवारे के 75 साल. सीमा पार संवाद.

बात सरहद पार

समाप्त

एलन मस्क की चौंका देने वाली तरक़्क़ी

अमेज़न के संस्थापक जेफ़ बेज़ोस लगातार चार साल से दुनिया के सबसे दौलतमंद शख़्स के ओहदे पर बने हुए हैं. उनकी कुल संपत्ति 177 अरब डॉलर है.

पिछले साल ये 64000 डॉलर बढ़ गई है और इसकी वजह उनकी कंपनी के शेयर की क़ीमत का बढ़ना है.

लेकिन इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर बड़ा बदलाव दर्ज हुआ है. एलन मस्क पिछले साल फ़ोर्ब्स की लिस्ट में 31वें नंबर से दूसरे नंबर पर पहुँच गए हैं.

पिछले साल की लिस्ट में फ़ोर्ब्स ने अंदाज़ा लगाया था कि उनकी संपत्ति 24.6 अरब डॉलर की है. इस साल ये बढ़कर 151 हो गई है.

फ़ोर्ब्स के एडिटर कहते हैं, "इसकी प्रमुख वजह उनकी कंपनी टेस्ला के शेयरों में 705 प्रतिशत की वृद्धि."

फ्रेंच बिज़नेसमैन बर्नार्ड एरनॉल्ट एंड फ़ैमिली इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं जिनके पास लुइस वितों जैसे 70 ब्रैंड्स की मिल्कियत है. चौथे नंबर पर माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स और पाँचवें नंबर पर फ़ेसबुक के मार्क ज़करबर्ग हैं.

इनके बाद कामयाब इन्वेस्टर वॉरेन बफ़ेट, ऑरेकल के लैरी एलिसन, अल्फ़ाबेट के पूर्व चेयरमैन लैरी पेज और सर्गे ब्रिन हैं. भारतीय उद्योगपति मुकेश अंबानी इस लिस्ट में दसवें नंबर पर हैं.

इमेज स्रोत, Getty Images

किम कर्दाशियां की एंट्री

फ़ोर्ब्स की लिस्ट में पहली महिला 17वें नंबर पर हैं. वो हैं वालमार्ट के संस्थापक की एकलौती बेटी एलिस वॉल्टन.

उनके बाद 22वें नंबर पर दूसरी महिला हैं जेफ़ बेज़ोस की एक्स वाइफ़ मैक्केंज़ी स्कॉट.

इस लिस्ट में जिस नाम ने सबको आकर्षित किया है, वो हैं किम कर्दाशियां वेस्ट.

फ़ोर्ब्स का अनुमान है कि उनकी कुल संपत्ति एक अरब डॉलर से ज़्यादा हो गई है. पिछले साल अक्टूबर में किम के पास 780 मिलियन डॉलर की संपत्ति थी.

मैगज़ीन का कहना है कि उनके निवेश, अन्य सौदे और टेलीविज़न से होने वाली आमदनी ने उन्हें ये जगह दिलाई है.

इमेज स्रोत, REUTERS/Amit Dave

फ़ोर्ब्स की लिस्ट में भारतीय नाम

फ़ोर्ब्स की लिस्ट में भारतीय नामों में सबसे ऊपर हैं उद्योगपति मुकेश अंबानी. रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के मालिक इस लिस्ट में दसवें नंबर पर हैं.

मुकेश अंबानी ने कोरोना महामारी के बीच 35 अरब डॉलर का फ़ंड जुटाया. उन्होंने रिलायंस जियो की एक तिहाई हिस्सेदारी फेसबुक, गूगल जैसे निवेशकों को बेचा.

अडाणी ग्रुप के गौतम अडाणी 20वें नंबर पर हैं. गौतम अडाणी ने पिछले साल देश के दूसरे सबसे व्यस्त एयरपोर्ट की 74 फ़ीसद हिस्सेदारी ख़रीदी थी.

एचसीएल टेक्नॉलॉजीज के शिव नडार 30वें नंबर पर, लक्ष्मी मित्तल 109वें, पालोनजी मिस्त्री 123वें नंबर पर हैं.

शिव नडार ने पिछले साल जुलाई में कंपनी की ज़िम्मेदारी अपनी एकलौती बेटी रोशनी नडार मल्होत्रा को सौंप दी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)