लालगढ़ के आसपास ताज़ा कार्रवाई

लालगढ़
Image caption लालगढ़ में अतिरिक्त सैनिकों को तैनात किया गया है

माओवादी हिंसा से प्रभावित पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मिदनापुर ज़िले के लालगढ़ इलाक़े में सुरक्षाबलों ने ताज़ा कार्रवाई शुरू की है.

पुलिस महानिरीक्षक (क़ानून-व्यवस्था) राज कनौजिया ने पत्रकारों को इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, "सुरक्षाबल पिंगबोनी और खरासोल इलाक़े की ओर बढ़ रहे हैं. हमारे पास पर्याप्त सुरक्षाकर्मी हैं और हम आगे बढ़ रहे हैं." उन्होंने बताया कि गोल्तोर से लेकर पिंगबोनी के जंगल वाले दो किलोमीटर के इलाक़े में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है.

आश्वासन

राज कनौजिया ने बताया कि गुरुवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ़) के क़रीब 600 और जवान लालगढ़ पहुँच गए. उन्होंने बताया कि माओवादियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई के लिए केंद्र सरकार ने सीआरपीएफ़ की 10 कंपनियाँ भेजने का आश्वासन दिया था. कुछ दिनों पहले पश्चिम मिदनापुर ज़िले के लालगढ़ इलाक़े में माओवादी विद्रोहियों ने सत्तारुढ़ सीपीएम के छह कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी थी और इलाक़े से सीपीएम के कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया था. आदिवासी बहुल लालगढ़ इलाक़े में विद्रोहियों ने अनेक गाँवों पर क़ब्ज़ा कर लिया था, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के अनेक कार्यालयों को आग लगा दी थी. लालगढ़ इलाक़े में लगभग आठ सौ से एक हज़ार गाँव हैं. उन इलाकों की आबादी लगभग 60 हज़ार है.

संबंधित समाचार