पाकिस्तान को मदद ज़रूरी:हिलेरी

हिलेरी क्लिंटन की मुंबई यात्रा

अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने सोमवार को भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मुलाक़ात की है और ख़बरें आ रही हैं कि द्विपक्षीय रिश्तों के अलावा पाकिस्तान और आतंकवाद पर बात हुई है.

प्रधानमंत्री से मुलाक़ात से पहले हिलेरी क्लिंटन दिल्ली विश्वविद्यालय भी गईं जहाँ उन्होंने विद्यार्थियों से बातचीत की और उनके सवालों के जवाब दिए.

छात्रों के सवालों का जवाब देते हुए हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि उन्हें इस बात का यकीन है कि पाकिस्तान पूरी लगन से आतंकवाद के ख़िलाफ़ कदम उठा रहा है और पाकिस्तान का साथ देना ज़रूरी है.

सवाल जलवायु परिवर्तन पर भी पूछे गए और क्लिंटन का कहना था कि दोनों ही पक्षों यानि विकसित और विकासशील देशों के रूख में अंतर है लेकिन इसका हल निकाला जा सकता है.

इसके पहले रविवार को वो दिल्ली से सटे गुड़गाँव में पर्यावरण अनुकूल आईटीसी ग्रीन सेंटर देखने गईं.

वहाँ अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर भारत और अमरीका के बीच रणनीतिक साझेदारी की ज़रूरत है.

जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर भारत और अमरीका के बीच रणनीतिक साझेदारी की ज़रूरत है

हिलेरी क्लिंटन

उनका कहना था कि ख़तरनाक़ गैसों का उत्सर्जन रोकने के लिए देशों को सख्त क़दम उठाने चाहिए.

इस मौक़े पर भारत के पर्यावरण और वन राज्य मंत्री जयराम रमेश ने कहा कि भारत भी जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर गंभीर है.

उन्होंने कहा, "ये कहना ग़लत होगा कि भारत कार्बन उत्सर्जन पर क़रार से भाग रहा है. हमने इसके लिए पहले से ही नीति बना ली है. हाँ, अभी हम क़ानूनी तौर पर इस पर सख़्ती से रोक लगाने की स्थिति में नहीं हैं."

भारत-अमरीकी रिश्ते

अमरीका में भारत के राजदूत रहे आबिद हुसैन ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि हिलेरी क्लिंटन ये साफ़ करना चाहती हैं कि जॉर्ज बुश के दौर में भारत के साथ जो अच्छे रिश्ते थे, वो ओबामा प्रशासन के दौरान हल्के नहीं पड़े हैं.

हिलेरी क्लिंटन ये साफ़ करना चाहती हैं कि जॉर्ज बुश के दौर में भारत के साथ जो अच्छे रिश्ते थे, वो ओबामा प्रशासन के दौरान हल्के नहीं पड़े हैं.

आबिद हुसैन, भारत के पूर्व राजदूत

आबिद हुसैन का कहना था कि हिलेरी भारत और पाकिस्तान के बीच बेहतर रिश्तों की हिमायत करेंगी ताकि तालेबान को लेकर अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान में जो मुसीबत फैली हुई है, उसमें कोई और समस्या पैदा न हो.

इसके पहले दिल्ली में हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि अमरीका आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ रहा है और उम्मीद करता है कि दुनिया का हर देश इस लड़ाई में हिस्सा ले.

अमरीकी विदेश मंत्री ने उम्मीद जताई कि पाकिस्तान आतंकवाद के ख़िलाफ़ संघर्ष को लेकर गंभीर है.

उन्होंने कहा कि चरमपंथियों के बीच गठजोड़ तोड़ने की पाकिस्तान सरकार की कार्रवाई पर नज़र रखी जा रही है.

इससे पूर्व, हिलेरी क्लिंटन ने शनिवार को अपनी मुंबई यात्रा के दौरान ऊर्जा सुरक्षा, कृषि, वैश्विक आर्थिक संकट, शिक्षा, गरीबी उन्मूलन और जलवायु परिवर्तन जैसे मसलों पर चर्चा की.

पांच दिवसीय दौरे पर भारत आई हिलेरी ने कहा कि भारत के साथ एक नए दौर की शुरूआत हो रही है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.