वेबसाइट से प्रताड़ित करने का आरोप

इंटरनेट
Image caption पुलिस ने शिकायत पर मामला दर्ज किया है

आम तौर पर सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट परिचितों और दोस्तों को मिलाने का काम करती है लेकिन जयपुर में रहने वाली एक महिला ने एक सोशल नेटवर्किंग साइट ऑरकुट के ज़रिए प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया है.

उन्होंने ये आरोप अपने पति पर लगाया है और इस बारे में पुलिस के पास मामला भी दर्ज कराया है. इस महिला के पति अमरीकी शहर न्यूजर्सी में रहते हैं जबकि वो ख़ुद जयपुर में अपने मायके में रह रही हैं. महिला पहले ही अपने पति और ससुराल पक्ष के ख़िलाफ़ दहेज के लिए प्रताड़ना का मामला दर्ज करा चुकी हैं. जयपुर पुलिस से महिला ने शिकायत की है कि उनके पति ने उनके नाम का फ़र्ज़ी ई-मेल आईडी तैयार किया और उसे ऑरकुट पर डाल दिया. पुलिस के मुताबिक इस महिला के फ़र्ज़ी ऑरकुट प्रोफ़ाइल में उनकी फ़ोटो, मोबाइल नंबर और घर का पता भी अपलोड कर दिया गया. शिकायत में यह कहा गया कि अपनी पत्नी के नाम से इस व्यक्ति ने कई युवकों से चैट की और उन्हें इस महिला के घर पर आने का निमंत्रण दे डाला.

महिला का माथा तब ठनका जब ऐसे युवक उनके घर का दरवाज़ा खटखटाने लगे. बाद में महिला ने पुलिस से शिकायत की और आरोप लगाया कि उसके पति ने ऐसा उन्हें प्रताड़ित करने के लिए किया है.

मुक़दमा दर्ज

पुलिस अधिकारी अवनीश ने बीबीसी को बताया कि आईटी एक्ट के तहत और अन्य अपराधों के तहत इस व्यक्ति के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज कर लिया है. उनका कहना है, ''अभी हम मामले की जाँच कर रहे हैं और यदि शिकायत सही पाई जाती है तो उस व्यक्ति के ख़िलाफ़ कड़ी क़ानूनी कार्रवाई की जाएगी." महिला ने बताया है कि वर्ष 2008 में उनकी शादी हुई थी और वे अपने पति के साथ अमरीका चली गई थीं. उनके अनुसार उन्हें अमरीका में दहेज की ख़ातिर यातनाएँ दी गईं और घर से निकाल दिया गया.

इनका कहना है कि इसके बाद वे जयपुर लौट आईं और वापस आकर उन्होंने ससुराल पक्ष के विरुद्ध दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज कराया जिसमें उनकी सास को गिरफ़्तार भी किया गया.

संबंधित समाचार