बिहार में रेलवे स्टेशनों पर तोड़फोड़

बिहार में दो अलग-अलग कारणों से दो स्टेशनों पर तोड़फोड़ की घटनाएँ हुई हैं. इससे पटना-मुग़लसराय और पटना-हावड़ा मार्ग पर यातायात प्रभावित हुआ है और हज़ारों लोग परेशान हुए हैं.

बिहार में ही एक ट्रेन में लूटपाट की घटना हुई है जिसमें लाखों रुपयों के सामान की लूट हुई है और चार-पाँच लोग घायल हुए हैं.

लूट की घटना सोमवार को देर रात पटना-पुणे एक्सप्रेस में बक्सर के पास डुमराँव में हुई है.

अधिकारियों का कहना है कि ट्रेन में एकाएक कई लुटेर घुस आए और उन्होंने लाखों रुपयों का माल लूट लिया.

उनका कहना है कि प्रतिरोध करने पर चार-पाँच लोगों को चाकू मारकर घायल कर दिया गया.

तोड़फोड़

तोड़फोड़ की पहली घटना पटना के पास बिहटा स्टेशन में हुई है.

वहाँ छात्रों ने आरोप लगाया है कि रेलवे अधिकारियों ने कुछ छात्रों को बिना टिकट पकड़ा था और जब उनसे इसके लिए भुगतान करने को कहा गया तो वे तोड़फोड़ पर उतर आए.

छात्रों का कहना है कि टिकट कलेक्टर ने प्रति छात्र 20-20 रुपयों की मांग की थी और इसका विरोध करने पर रेलवे प्रोटेक्शन फ़ोर्स की सहायता से छात्रों को एक बोगी में बंद कर दिया गया.

इसके विरोध में छात्रो में पत्थरबाज़ी की और एक एसी कोच सहित दो कोचों को जला दिया.

दूसरी घटना लखीसराय स्टेशन में हुई है.

वहाँ स्थानीय लोग एक रेलवे कर्मचारी की हत्या का विरोध कर रहे थे.

स्टेशन तोड़फोड़ कर रहे लोगों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हवाई फ़ायर भी किया.

इन दोनों घटनाओं की वजह से कई ट्रेनों को रोककर रखना पड़ा और हज़ारों लोगों की यात्रा प्रभावित हुई है.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है