भारत में ग्रीन पार्टी की शुरुआत

  • 26 अगस्त 2009
सुभाष दत्ता
Image caption सुभाष दत्ता अर्से से पर्यावरण संबंधी मुद्दों को उठाते रहे हैं

कोलकाता में पुराने और प्रदूषण फैलानवाले वाहनों को सड़कों से हटवाने की मुहिम में सफल होने के बाद पर्यावरणवादी सुभाष दत्ता ने घोषणा की है कि वो भारतीय ग्रीन पार्टी की स्थापना कर रहे हैं.

सुभाष दत्ता ने बीबीसी से बातचीत में कहा,'' मेरे जैसे लोग जो पर्यावरण संरक्षण के लिए संघर्ष कर रहे हैं, उन्हें एक ग्रीन पार्टी की ज़रूरत है.''

उनका कहना था,'' हमारा आंदोलन स्थानीय स्तर पर है और हम दबाव नहीं बना पाते हैं और केवल क़ानूनी लड़ाई लड़ते रह जाते हैं.''

सुभाष दत्ता का कहना था,'' ये वक्त है कि हम भारत में पर्यावरण की रक्षा के लिए एक राजनीतिक दल का गठन करें. ये बड़ा मुद्दा बन गया है और हमारे राजनीतिक दल पर्यावरण को कोई विशेष महत्व नहीं देते हैं.''

सुभाष दत्ता ने भारतीय राजनीतिक दलों के घोषणापत्र का उल्लेख करते हुए कहा कि वो पर्यावरण संबंधी मुद्दों पर ध्यान नहीं देते हैं.

उनका कहना था,'' मुख्य दल भी अपने घोषणापत्र का आधा या एक पेज ऐसे मुद्दों को देते हैं और जब पर्यावरण संरक्षण मुद्दे पर क़दम उठाने की बात आती है तो अधिकांश राजनीतिक दल अवसरवादी रुख़ अपनाते हैं.''

मुहिम

उनका कहना था कि तृणमूल कांग्रेस नयाचार तटीय इलाक़े में रसायन उद्योग का विरोध करती है लेकिन पुराने वाहनों को हटाने का विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर आती है जबकि इन वाहनों ने कोलकाता की सड़कों पर भारी प्रदूषण फैला रखा है.

सत्तारूढ़ वामपंथी भी पुराने वाहनों की तब तक वकालत करते हैं जब तक कि अदालत उन्हें हटाने का आदेश नहीं दे देती.

सुभाष दत्ता पेशे से चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं और उन्होंने पर्यावरण संरक्षण के मामले में अनेक मामले दायर किए हैं. वो पिछले 30 वर्षों से ये अभियान छेड़े हुए हैं.

उन्होंने हाल में कोलकाता के प्रदूषण फैलानेवाले 15 वर्ष से अधिक पुराने वाहनों के ख़िलाफ़ मामला दायर किया था जिस पर कोलकाता हाईकोर्ट ने प्रतिबंध का फ़ैसला सुनाया था. बाद में सुप्रीम कोर्ट ने भी ये प्रतिबंध जारी रखा था.

सुभाष दत्ता का कहना है कि वो अगले महीने ब्रिटेन जाएंगे और वहाँ की ग्रीन पार्टी से बातचीत करेंगे.

उनका कहना था कि वो पर्यावरणविदों के संपर्क में हैं और उन्हें उम्मीद है कि उनकी पार्टी जल्द ही राष्ट्रीय पार्टियों की जमात में शामिल हो जाएगी.

संबंधित समाचार