विधानसभा चुनावों की घोषणा

मतदाता (फ़ाइल फ़ोटो)
Image caption तीनों राज्यों में एक ही दिन वोट डाले जाएंगे.

भारत के निर्वाचन आयोग ने अरुणाचल प्रदेश, महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के कार्यक्रम की घोषणा कर दी है.

तीनों राज्यों में एक ही दिन 13 अक्तूबर को वोट डाले जाएंगे.

मतगणना 22 अक्तूबर को होगी.

मुख्य चुनाव आयुक्त नवीन चावला ने सोमवार को नई दिल्ली में चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा करते हुए कहा कि आदर्श आचार संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है.

तीनों राज्यों में चुनाव के लिए अधिसूचना 18 सितंबर को जारी की जाएगी. नामांकन की अंतिम तारीख़ 25 सितंबर होगी और उम्मीदवारी वापस लेने की अंतिम तारीख़ 29 सितंबर होगी.

नवीन चावला ने बताया कि तीनों राज्यों में 25 अक्तूबर तक नई विधानसभाओं का गठन पूरा हो जाएगा.

उन्होंने कहा कि आदर्श आचाहर संहिता केंद्र सरकार, राज्य सरकार, हर राजनीतिक दल और तीनों राज्यों के उम्मीदवारों पर लागू हो गई है. इसके तहत कोई भी ऐसी घोषणा नहीं की जा सकती जिसका असर मतदान पर होता हो.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि किसी भी दल को राजनीतिक गतिविधियों के लिए धार्मिक स्थलों के प्रयोग की अनुमति नहीं मिलेगी.

अहमद क़दम

नवील चावला ने बताया कि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए अर्धसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी.

उन्होंने कहा कि इस बार वैसे अधिकारियों को चुनाव प्रक्रिया में शामिल नहीं किया जाएगा जिनके ख़िलाफ़ पिछले चुनावों के दौरान किसी तरह के मामले हैं.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र, अरुणाचल और हरियाणा सरकारों को निर्देश दिया है कि सब इंस्पेक्टर या उससे ऊपर रैंक के वैसे अधिकारियों का तत्काल स्थानांतरण किया जाए जो गृह ज़िले में तैनात हैं.

साथ ही एक ही स्थान पर तीन साल या इससे अधिक समय से कार्यरत अधिकारियों का भी स्थानांतरण किया जाएगा.

चुनाव आयोग ने सभी संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर क्लोज सर्किट टीवी लगाने का फ़ैसला किया है.

अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा की 60 सीटें हैं और वहां सात लाख से ज़्यादा मतदाता नई सरकार का गठन करेंगे.

महाराष्ट्र की 288 सदस्यीय विधानसभा के लिए सात करोड़ 56 लाख से ज़्यादा मतदाता वोट डालेंगे. हरियाणा विधानसभा में 90 सीटें हैं जिसके लिए एक करोड़ 20 लाख से ज़्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे.

संबंधित समाचार