राजशेखर रेड्डी का निधन

राजशेखर रेड्डी
Image caption राजशेखर रेड्डी का हेलिकॉप्टर बुधवार सुबह से लापता था

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी का निधन हो गया है. बुधवार से ही उनका हेलिकॉप्टर लापता था. आज सुबह तलाशी अभियान में लगी वायु सेना को हेलिकॉप्टर का मलबा मिला.

इस दुर्घटना में मुख्यमंत्री राजशेखर रेड्डी के अलावा उनके प्रधान सचिव पी सुब्रह्मण्यम, मुख्य सुरक्षा अधिकारी एएससी जॉन वेस्ली, मुख्य पायलट एसके भाटिया और सहायक पायलट एमएस रेड्डी भी मारे गए हैं.

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने नई दिल्ली में पत्रकारों को ये जानकारी दी. उन्होंने बताया कि अब भी शव घटनास्थल पर ही हैं और उन्हें वहाँ से लाने की कोशिश की जा रही है.

उन्होंने कहा, "मुख्यमंत्री राजशेखर रेड्डी की मौत से हम गहरे सदमे हैं. ये बहुत बड़ा नुक़सान है. हम मुख्यमंत्री और दुर्घटना में मारे गए अन्य लोगों के परिजनों के प्रति सहानुभूति प्रकट करते हैं."

गृह मंत्री ने बताया कि तीन बजे कैबिनेट की बैठक होगी, जिसके बाद मीडिया को और जानकारी दी जाएगी. उन्होंने बताया कि शव जले हुए हैं और हेलिकॉप्टर टुकड़ों में बिखरा हुआ है.

इस बीच आंध्र प्रदेश के मौजूदा वित्त मंत्री के रोसैया को राज्य का कार्यवाहक मुख्यमंत्री बनाया गया है.

हैदराबाद से बीबीसी संवाददाता उमर फ़ारूक़ ने बताया कि गुरुवार सुबह से ही इस हेलिकॉप्टर की तलाशी के लिए व्यापक अभियान शुरू किया गया था.

इस काम में पाँच हेलिकॉप्टरों और तीन विमानों को लगाया गया था. साथ ही ज़मीनी अभियान भी शुरू किया गया था, जिसमें 2000 कमांडो लगाए गए थे.

मलबा

जल्द ही वायु सेना को इसमें सफलता मिली जब कुरनूल के पूरब आत्माकुर के नज़दीक एक पहाड़ी की चोटी पर हेलिकॉप्टर को देखा गया. लेकिन दुर्गम इलाक़ा होने के कारण सेना के हेलिकॉप्टरों को उतरने में परेशानी हुई.

बाद में दुर्घटनास्थल पर पैरा कमांडो को उतारा गया. जिस दुर्गम इलाक़े में हेलिकॉप्टर का मलबा मिला है, वो नल्लामल्ला श्रेणी में आता है.

बुधवार की सुबह मुख्यमंत्री राजशेखर रेड्डी हैदराबाद से चित्तूर के लिए रवाना हुए थे. लेकिन सुबह साढ़ नौ बजे के आसपास उनके हेलिकॉप्टर से रेडियो संपर्क टूट गया था.

राजनीतिक मोर्चे पर भी गतिविधि तेज़ है. राज्य में कांग्रेस के प्रभारी महासचिव वीरप्पा मोइली हैदराबाद पहुँच गए हैं.

माहौल

साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी गुरुवार को हैदराबाद पहुँच रही हैं. वे राजशेखर रेड्डी के परिजनों से मुलाक़ात करेंगी.

Image caption इसी हेलिकॉप्टर से रवाना हुए थे राजशेखर रेड्डी

नई दिल्ली में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय बैठक हुई. माना जा रहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी हैदराबाद जाएँगे.

राजशेखर रेड्डी की मौत की ख़बर आने के बाद दिल्ली में कांग्रेस कार्यालय में मातम का माहौल है. हैदराबाद में मुख्यमंत्री आवास के बाहर का माहौल भी काफ़ी ग़मगीन है.

कई लोग फूट-फूट कर रो रहे हैं तो कई लोगों को अब भी भरोसा नहीं कि उनके मुख्यमंत्री अब इस दुनिया में नहीं रहे. मुख्यमंत्री आवास के बाहर लोगों की भारी भीड़ जमा है.

बुधवार से ही राजधानी हैदराबाद के अलावा प्रदेश के कई इलाक़ों में राजशेखर रेड्डी की कुशलता के लिए पूजा की जा रही थी.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है