'होटल छोड़ दें कृष्णा और थरूर'

  • 8 सितंबर 2009
शशि थरूर और एसएम कृष्णा
Image caption शशि थरूर और एसएम कृष्णा पिछले तीन महीनों से होटल में टिके हुए हैं

विदेश मंत्री एसएम कृष्णा और विदेश राज्य मंत्री शशि थरूर को दिल्ली के पाँच सितारा होटलों में अपने कमरे छोड़ने के लिए कहा गया है.

ये दोनों मंत्री पिछले तीन महीने से दिल्ली में पाँच सितारा होटलों में रह रहे हैं और वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने इन दोनों मंत्रियों से वे कमरे छोड़ने के लिए कहा है.

दिल्ली में मुखर्जी ने बताया, "मैंने दोनों मंत्रियों से अनुरोध किया है कि वे कमरे ख़ाली करके अपने-अपने राज्यों के दिल्ली स्थित भवन में जाकर रहें."

उन्होंने कहा कि दोनों ही नेता विदेश विभाग के मंत्री हैं और इस विभाग का हैदराबाद हाउस में अतिथि गृह है और वे वहाँ भी जाकर रह सकते हैं.

दरअसल इन दोनों नेताओं के आधिकारिक आवास पर अभी निर्माण कार्य जारी है इसलिए दोनों मंत्री होटलों में रह रहे थे.

वित्त मंत्री ने ये बताया कि दोनों मंत्री कमरे ख़ाली करने के लिए राज़ी हो गए हैं

ख़र्च पर नियंत्रण

समाचार एजेंसी पीटीआई ने सरकारी सूत्रों के हवाले से बताया है कि विदेश मंत्री कृष्णा विदेश सेवा संस्थान के अतिथि गृह में जा रहे हैं.

अभी तक कृष्णा, सरदार पटेल मार्ग स्थित होटल मौर्या शेरेटन में रह रहे थे जबकि थरूर, मान सिंह रोड स्थित होटल ताज महल में टिके हुए थे.

थरूर अब भारतीय नौसेना के अतिथि गृह में गए हैं.

इस बीच कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि ऐसे समय में जबकि सरकार धन बचाने की कोशिश कर रही है मंत्रियों को होटलों में नहीं रुकना चाहिए.

मगर साथ ही मनीष तिवारी ने ये भी स्पष्ट किया कि ये दोनों मंत्री निजी तौर पर इन होटलों में रुके थे और सरकार ये ख़र्च नहीं उठा रही थी.

सरकार ने सभी मंत्रालयों से कहा है कि वे ख़र्च कम करें. इसके अलावा वित्त मंत्रालय ने कहा है कि विदेश और घरेलू यात्रा का ख़र्च कम किया जाए और इसके साथ ही पाँच सितारा होटलों में सम्मेलन भी आयोजित न हों.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है